आखिर क्यों लगी होती हैं मंदिर में घंटियाँ, क्या होता है मानव जीवन पर इनका प्रभाव?

Importance of Temple Bells in Hindi: जब भी आप किसी मंदिर में दर्शन करने के लिए जाते हैं, तो मंदिर के बाहर लटके घंटे को जरूर बजाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह घंटा मंदिर के बाहर क्यों…

सोशल मीडिया पर एमेजॉन बायकॉट की मुहिम तेज़, धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने का लगा आरोप

ऑनलाइन शॉपिंग वेंचर और ई-कॉमर्स की दुनिया के सबसे बड़े नामों में शुमार अमेजॉन पर हिंदू धार्मिक भावनाओं को क्षति और ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है। गोल्ड ज्वैलरी के लिए मशहूर तनिष्क के बाद यह दूसरा मामला है जहां…

Benefits of Tilak: जानें तिलक लगाने के महत्व और इससे होने वाले विभिन्न लाभों को!

Benefits of Tilak: हिन्दू धर्म में विशेष रूप से किसी भी शुभ अवसर पर नए काम की शुरुआत करने से पहले तिलक लगाना अनिवार्य माना जाता है। लेकिन क्या अपने कभी सोचा है तिलक लगाने का क्या महत्व हैं और…

आज रात लगेगा चंद्र ग्रहण, इस राशि के लोग हो जाएं सतर्क

Lunar Eclipse Today: 5 जून की रात यानि आज इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण लगने वाला है, जिसका गहरा असर वृश्चिक राशि के जातकों पर गहरा पड़ने वाला है। जी हां, ग्रहण का असर राशियों पर पड़ता है, जिसमें…

इस एक रत्न को धारण करने से बदल सकती है किसी की भी किस्मत !

Opal Ratna: यूँ तो ज्योतिषशास्त्र एक गूढ़ विषय है, इसके बारे में आप जितनी जानकारी लें उतना कम है। ग्रह और नक्षत्रों को जानने वाला शख़्स निश्चित रूप से काफी मायने रखता है। आज के वर्तमान समय में भी जहाँ…

खुल गए केदारनाथ के कपाट, प्रधानमंत्री के नाम से हुई पहली पूजा !

Kedarnath Kapaat Opened: हिन्दुओं के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक केदारनाथ के कपाट आज बुधवार 29 अप्रैल को खोल दिए गए हैं। चूँकि इस समय देशभर में लॉकडाउन चल रहा है इस वजह से यहाँ श्रद्धालुओं को जाने की…

हिमाचल के कुल्लू में स्थित है महादेव का रहस्यमयी मंदिर, हर 12 साल में शिवलिंग पर गिरती है बिजली

Bijli Mahadev Mandir Kullu: हिमालय पर्वत और भगवान भोलेनाथ का संबंध तो समस्त संसार जानता है। महादेव का तपोस्थल हिमालय स्थित कैलाश पर्वत ही है और इसे लेकर समय-समय पर कई तरह के रहस्यों से पर्दा उठता रहा है। हालांकि,…

13 से 28 सितंबर तक चलेगा श्राद्ध पक्ष, जानें किस तारीख को किन का करें श्राद्ध (Shradh Start Date 2019)

जो श्रद्धापूर्वक किया जाए वही श्राद्ध (Shradh) है। हर साल भाद्रपद महीने की पूर्णिमा से अमावस्या तक का पक्ष श्राद्ध पक्ष (Shradh Paksh) कहलाता है जिसे महालय, पितृपक्ष व कनागत के नाम से जाना जाता है। ऐसा माना जाता है…

आखिर क्या है भगवान तिरुपति बालाजी के मंदिर में बाल चढ़ाने का रहस्य

तिरुपति बालाजी का मंदिर आंध्र प्रदेश के तिरुमला में स्थित है। भगवान तिरुपति को वेंकटेश्वर श्रीनिवास और गोविंदा के नाम से भी जाना जाता है। दान दक्षिणा के मामले में तिरुमाला में स्थित यह मंदिर सबसे अमीर मंदिरों में से…

जानिए क्या है गणपति विसर्जन का इतिहास, क्यों 10 दिनों की पूजा अर्चना के बाद प्रवाह कर दी जाती है गणपति की मूर्ति

भारत में मूर्ति पूजन का पुराना इतिहास रहा है। लेकिन किसी विशेष आयोजन के दौरान अस्थाई तौर पर मूर्ति स्थापना का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है। दरअसल ब्रिटिश काल में गणेश पूजा के दौरान गणेश प्रतिमा की स्थापना करने की…