Boris Johnson Biography in Hindi: पिछले कार्यकाल से जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने हैं उसके बाद से भारतीय राजनीति की तो जैसे परिभाषा ही बदल गयी है। मोदी के पीएम बनने के बाद से देश में एक के बाद एक लगातार कई बदलाव देखने को मिले हैं, जिसे देश की जनता भी तहे दिल से स्वीकार रही है और इसी का नतीजा है कि विपक्ष की पुरजोर कोशिशों के बाद भी जनता ने दोबारा से मोदी को ही प्रधानमंत्री की गद्दी पर बिठाया। खैर, जनता ने जो किया उसका उसे लाभ भी मिल रहा है। यह तो हुई पीएम मोदी और भारतीय राजनीति की बातें मगर पिछले दिनों एक नाम काफी तेजी से चर्चा में आया और वो नाम भी राजनीति जगत से ही जुड़ा हुआ था। हम बात कर रहे हैं कंजरवेटिव पार्टी के नेता और ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की।boris johnson biography in hind23 जुलाई का दिन ब्रिटेन के इतिहास का काफी महत्वपूर्ण दिन रहा, जब कंजरवेटिव पार्टी के नेता बोरिस जॉनसन ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद और सत्ता में शामिल हुए। बोरिस जॉनसन का व्यक्तित्व कई लोगों को डॉनल्ड ट्रंप की याद दिलाता है। उसी तरह के सुनहरे बाल, बड़बोले और अफेयर की सूची का तो अंत ही नहीं। डॉनल्ड ट्रंप सिर्फ राजनीतिक नहीं बल्कि अपने निजी ज़िंदगी की वजह से भी मीडिया की सुर्ख़ियों में छाए रहते हैं। स्वभाव से बेहद ही महत्वकांक्षी बोरिस जॉनसन के बारे में कहा जाता है कि वो ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने कि महत्वाकांक्षा रखते थे और इस सोच को उन्होंने सच साबित कर दिखाया है।

 

आखिर कौन हैं बोरिस जॉनसन? [Boris Johnson Biography in Hindi]

बता दें, बोरिस जॉनसन का पूरा नाम एलेक्जेंडर बोरिस दे फेफेल जॉनसन है। अगर किसी खास वजह से वह मशहूर हैं तो वह है उनके सुनहरे बाल और बोलने के दौरान की जाने वाली उनकी गलतियां। बोरिस का अधिकांश बचपन ब्रसेल्स में ही गुजरा है। उनके माता-पिता अंग्रेज थे और उनका जन्म न्यूयॉर्क में हुआ। बोरिस के पिता यूरोपियन यूनियन में सरकारी अधिकारी थे। वैसे देखा जाए तो राजनीतिज्ञ के पास उनके बारे में बात करने के लिए या दूसरे शब्दों में कहा जाए तो आलोचना करने के लिए बेहद लंबी लिस्ट है। हमेशा लेट-लतीफ रहना और बेढंगे तरीके से कपड़े पहनना उनकी खास आदतों में शुमार है।

मेयर जैसी बड़ी शख्सियत होने के बावजूद उनके साथ एक, दो नहीं बल्कि कई किस्से जुड़े हैं, जो उनकी आलोचना के लिए काफी हैं। वर्ष 2012 के लंदन ओलंपिक के दौरान वह जिप वायर पर लटके थे मगर उस दौरान भी एक ऐसी चूक हुई कि तस्वीर वायरल हो गई। इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि बोरिस किसी फिल्मी राजनेता से कम नहीं हैं, जिन्हें खूबसूरत लड़कियां काफी रास आती हैं। कुछ ऐसा ही बोरिस जॉनसन की असल जिंदगी में भी है और खूबसूरत लड़कियां इनकी कमजोरी मानी जाती हैं। इसका अंदाजा आप इससे ही लगा सकते हैं कि उनके इतने एक्स्ट्रा मेरिटल अफेयर चर्चित हो चुके हैं कि लंदन की एक मैगज़ीन ने उन्हें ‘बॉन्किंग बोरिस’ की संज्ञा दे दी।

जब बात बोरिस के शिक्षा की होती है तो पता चलता है कि इन्होंने अच्छी-ख़ासी पढ़ाई की हुई है। खास बात तो यह है कि बोरिस भी उसी स्कूल से पढ़ें हैं, जिसने कई सारे ब्रिटिश प्रधानमंत्री दिये हैं। इनकी उच्च शिक्षा ऑक्सफोर्ड से हुई है। साथ ही आपको यह भी बता दें कि बोरिस जॉनसन को अंग्रेजी के अलावा फ्रेंच और इटालियन भाषा का भी ज्ञान है। आपको जानकर हैरानी होगी कि राजनीति में आने से पहले बोरिस पत्रकार हुआ करते थे। हालांकि, मीडिया में भी उनका करियर ढेर सारे विवादों से भरा पड़ा है और उनके इसी व्यवहार की वजह से लंदन के ‘द टाइम्स’ से उनकी पहली नौकरी चली गई थी।

अपनी यूरोपीय संघ विरोध की राजनीति के लिए जाने जाने वाले बोरिस जॉनसन कैमरन का इस्तीफा होने के बाद से ही राष्ट्रीय राजनीति में तीव्र रूप में सक्रिय हो गए। इसके बाद फिर देखते ही देखते तमाम आलोचनाओं के बावजूद बोरिस अपना वजूद बनाने में सफल हुए और आज वह ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के पद पर आसीन हैं, जो कि यकीनन अपने आप में ही बहुत बड़ी बात है।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments