Hema Malini Biography in Hindi: बॉलीवुड में ड्रीम गर्ल के नाम से मशहूर बेहद ही खूबसूरत अभिनेत्री जिसने अपने अभिनय से भारतीय सिनेमा में एक नयी जान डाली थी। जी हां, आप बिलकुल सही समझे हम बात कर रहे हैं मशहूर अदाकारा हेमा मालिनी की जिन्होंने हिंदी सिनेमा में एक से बढ़कर एक हिट और सुपर डुपर हिट ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं, जिसे आज भी दर्शक बहुत ही चाव से देखना पसंद करते हैं। अभिनेत्री से लेकर सांसद तक और नृत्य समारोहों के मंच से लेकर छोटे पर्दे तक अभिनेत्री हेमा मालिनी हर जगह दर्शकों में चर्चा का विषय रही हैं। ऐसे में आज हम आपको हेमा मालिनी के बारे में कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं, जिसे जानने के लिए उनके फैंस हमेशा उत्सुक रहते हैं। तो चलिये जानते हैं बॉलीवूड की मशहूर अदाकारा हेमा मालिनी के बारे में कुछ खास बातें।

बचपन से ही आने लगे थे एक्टिंग के ऑफर  

Hema malini
patrika

सबसे पहले बात करते हैं हेमा मालिनी की शिक्षा के बारे में तो आपको बता दें कि इनकी प्रारंभिक शिक्षा चेन्नई में हुई थी और इनका पसंदीदा विषय था इतिहास। मगर यहां पर ध्यान देने वाली बात तो यह थी कि हेमा 10वीं कक्षा की परीक्षा तक नहीं दे पाईं क्योंकि बचपन से ही उन्हें लगातार अभिनय के प्रस्ताव मिल रहे थे। आपको यह जानकर काफी हैरानी होगी कि मात्र चौदह साल की उम्र से हेमा के घर के दरवाजे पर फिल्म निर्माता दस्तक देने लगे थे। निर्माता-निर्देशक श्रीधर ने फोटो सेशन के लिए हेमा को साड़ी पहनाई थी। ऐसा उन्होंने सिर्फ इसलिए किया था ताकि हेमा मालिनी अपनी उम्र से बड़ी दिखाई दे सकें। हालांकि, बाद में जब हेमा मालिनी ने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा तो उनको रिजेक्ट कर दिया गया था। तमिल निर्देशक श्रीधर का कहना था कि उनके अंदर से स्टार अपीलिंग नहीं दिखती है मगर हेमा अपनी इस खूबी को बेहतर जानती थीं कि वह एक्टिंग में माहिर हैं।

‘सपनों के सौदागर’ से किया बॉलीवुड में डेब्यू 

sapnon ka saudagar
scroll

16 अक्टूबर 1948 को अम्मंकुडी, तिरुचिरापल्ली, तमिलनाडु में जन्मी हेमा मालिनी की सफलता का श्रेय अगर किसी को जाता है तो वह हैं उनकी मां जया लक्ष्मी चक्रवर्ती जिन्होंने हेमा का करियर संभाला था और उन्होंने ही हेमा को तमिल फिल्मों की अभिनेत्री से लेकर बॉलीवुड की सुपरस्टार बनाया था। हेमा का फिल्मों में सफर आसानी से शुरू नहीं हुआ था। उन्हें बॉलीवुड में आने से पहले तमिल फिल्मों में अपनी पहचान बनाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। लगातार कई बार रिजेक्शन का सामना करने पर भी हेमा हार मानने वालों में से नहीं थीं और वह आगे बढ़ती रहीं। हेमा मालिनी का फ़िल्मी करियर साल 1961 में तमिल फिल्म ‘पांडव वनवासम’ के साथ शुरू हो गया था। इसके बाद करीब चार साल के बाद हेमा ने बॉलीवुड में बहुत ही धमाकेदार डेब्यू किया। बता दें कि हिंदी सिनेमा में राज कपूर के सामने ‘सपनों के सौदागर’ से हेमा का डेब्यू हुआ। राज कपूर उस समय फिल्म जगत में क्रांतिकारी स्क्रिप्ट्स के साथ एक नए दौर का इतिहास रच रहे थे। ऐसे में हेमा को उनकी फिल्म में काम मिलना बहुत बड़ी बात थी और वास्तव में बॉलीवुड में आने के बाद हेमा ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

100 से भी अधिक फिल्मों में कर चुकी हैं काम

एक बार हेमा मालिनी ने बॉलीवुड में जो एंट्री की उसके बाद तो वह रुकीं ही नहीं। हेमा ने अपने जीवन में 100 से भी अधिक फिल्मों में काम किया है। इन्होंने 1969 में ‘बारिश’ और ‘जहां प्यार मिले’ जैसी फिल्में की। इसके बाद 1970 में उन्होंने ‘आंसू और मुस्कान’, ‘शराफत’ जैसी फिल्में की। साल 1971 में इन्होंने ‘अंदाज’ और ‘नया जमाना’ जैसी हिट फिल्में दी और फिर इसके बाद वर्ष 1972 में अपने करियर की सुपरहिट फिल्मों में से एक ‘सीता गीता’ और ‘भाई हो तो ऐसा’ जैसी फिल्मों में नजर आयीं। हेमा मालिनी ने फिल्म ‘शोले’ में बसंती का रोल निभाकर लोगों की खूब वाहवाही बटोरी थी। इस फिल्म में उनके अपोजिट धर्मेंद्र नजर आये थे। आज भी लोग हेमा को हेमा कम ‘बसंती’ के नाम से ज्यादा जानते हैं। इसके अलावा महानायक अमिताभ बच्चन के साथ इनकी फिल्म ‘बागबान’ भी ऑल टाइम हिट फिल्मों में से एक है।

माता-पिता जितेंद्र से करवाना चाहते थे शादी 

Hema malini jitendra
youtube

बात करें हेमा के निजी जीवन की तो आपको शायद यकीन नहीं होगा कि इनकी रील लाइफ की तरह रियल लाइफ भी काफी हद तक फिल्मी ही रही है। बात उस समय की है जब हेमा मालिनी के पिता हेमा मालिनी की शादी करने के लिए चिंतित थे, मगर हेमा किसी और से प्यार करती थीं। जब उनके पिता को पता चला कि हेमा बॉलीवुड के ही अभिनेता धर्मेंद्र से प्यार करती हैं, जो कि पहले से ही शादीशुदा थे तब उनके माता पिता दोनों ही उनके रिश्ते के खिलाफ हो गए। वह हेमा मालिनी की शादी मशहूर अभिनेता जितेंद्र से करवाना चाहते थे। यहां तक कि उनकी शादी की तैयारियां भी होने लगी थीं लेकिन धर्मेंद्र ने एकदम फिल्मी स्टाइल में शादी को बीच में ही रोक दिया और आखिर में कुछ समय बाद धर्मेंद्र और हेमा मालिनी की शादी कर दी गई। चूंकि धर्मेंद्र पहले से ही शादीशुदा थे ऐसे में दोनों ने अपना धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम धर्म अपनाया और फिर उसके बाद शादी की।

निर्देशन में भी आजमा चुकी हैं हाथ 

director hema malini
deccanchronicle

अभिनय के अलावा हेमा ने निर्देशन में भी हाथ आजमाया है। बताते चलें कि उन्होंने शाहरुख खान की पहली फिल्म ‘दिल आशना है’ को निर्देशित किया है। हालांकि, इस फिल्म को ‘दीवाना’ के बाद रिलीज किया गया था। हेमा एक पशु प्रेमी भी हैं और PETA इंडिया का समर्थन करती हैं। उन्होंने 2009 में मुंबई के नगरपालिका आयुक्त को पत्र लिखकर घोड़ी गाड़ियों पर प्रतिबंध लगाया। 2004 में हेमा राजनीति में आई गईं और फिलहाल वह मथुरा से लोकसभा सांसद हैं। बता दें कि राजनीति में प्रवेश करने के बाद उन्होंने कुछ अहम फैसले भी लिए थे और 2011 में उन्होंने जल्लीकट्टू पर प्रतिबंध लगाने के लिए जयराम रमेश (तत्कालीन केंद्रीय मंत्री और पर्यावरण मंत्री) को भी पत्र लिखा।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments