Lawyer Kaise Bane: जिंदगी में हर किसी का कोई ना कोई सपना जरूर होता है। कोई डॉक्टर बनना चाहता है, तो कोई टीचर, कोई बिजनेसमैन, कोई सीए तो कोई वकील। लेकिन चाहे जो भी करें हर क्षेत्र में निपुणता और उसके बारे में पूरी जानकारी होना बेहद जरूरी है। तभी उस क्षेत्र में आपको पूरी तरह सफलता हासिल हो सकती है। कई बार सही गाइडंस ना होने के चलते या सही राह नहीं पकड़ने के चलते करियर में कई तरह की उठापटक का सामना करना पड़ता है। लिहाज़ा आज हम आपको वकील बनने की पूरी जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।

हर साल हज़ारों युवा वकील बनने की पढ़ाई शुरू करते हैं और बेहतर वकील बनते हैं लेकिन कुछ युवा ऐसे भी है जिनकी इच्छा वकालत करने की होती तो है लेकिन उन्हे नहीं पता कि उन्हे शुरूआत करनी कहां से है। वकालत की पढ़ाई को एलएलबी कहा जाता है। लिहाज़ा हम यही से शुरूआत करते है।

एलएलबी क्या है ? (What is LLB?)

LLB
sarvgyan

अगर आप 12वीं पास हैं और वकालत की पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको एलएलबी की पढ़ाई करनी पड़ती है। एलएलबी को बैचलर ऑफ लॉज़ भी कहा जाता है जो एक बैचलर डिग्री मानी जाती है। एलएलबी की पढ़ाई में कानून के बारे में पूरी जानकारी दी जाती है ताकि आपको संविधान व कानून से संबंधित पूरी जानकारी हासिल हो सके। और अपनी बेहतर सोच समझ के साथ वो लोगों की सेवा कर सके। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एलएलबी का कोर्स दो तरह का होता है। दरअसल, एक कोर्स 5 साल की अवधि का दूसरा 3 साल की अवधि का होता है। अगर आप 12वीं के बाद लॉ करना चाहते हैं तो आपको 5 साल की अवधि वाला कोर्स करना होगा। वहीं अगर आप पहले से ही ग्रेजुएट हैं और फिर लॉ की पढ़ाई करना चाहते हैं तो 3 साल की एलएलबी आप कर सकते हैं।

वकालत के लिए निर्धारित योग्यता

qualification
youtube

अगर आप वकालत करना चाहते हैं व वकील बनना चाहते हैं तो इसके लिए शैक्षिक योग्यता निर्धारित की गई है। अगर आप उन योग्यताओं को पूरा करते हैं तभी आप एलएलबी के लिए एडमिशन ले सकते हैं। आइए जान लेते हैं कि एलएलबी करने के लिए क्या क्या योग्यता होनी चाहिए।

  1. आपको 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होना ज़रूरी है। लेकिन सिर्फ पास होना जरूरी नहीं है आपको न्यूनतम अंक 50 फीसदी हासिल करने चाहिए।
  2. वहीं अगर आप ग्रेजुएट हैं और उसके बाद एलएलबी करना चाहते हैं तो ग्रेजुएशन में आपके 50 फीसदी अंक होने जरूरी है।

  अगर आप ये योग्यताएं रखते हैं तो आप एलएलबी में एडमिशन ले सकते हैं और लॉ की पढ़ाई भी कर सकते हैं। 

एलएलबी कैसे करें ( How to do LLB in India)

entrance exam
deekshalearning

तो एलएलबी कोर्स क्या है….और इसे करने की क्या कुछ योग्यताएं निर्धारित है ये तो हमने आपको बता दिया। वही एलएलबी में एडमिशन लेने की क्या प्रक्रिया है वो भी आपको बता देते हैं।

12वीं भले ही आपने आर्ट्स, कॉमर्स या साइंस किसी भी फील्ड से की हो आप एलएलबी कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्ज़ाम देना होगा। लॉ के लिए ऑल इंडिया लेवल पर सीलेट एग्ज़ाम दिया जाता है। जिसे कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट के नाम से जाना जाता है। अगर आप ये एग्ज़ाम क्लियर कर लेते हैं तो इसके बाद आप किसी भी लॉ कॉलेज में एडमिशन देने के पात्र बन जाते हैं। सीलेट एग्ज़ाम में इंग्लिश, लॉजिकल रीज़निंग, लीगल एप्टीट्यूड, गणित व जनरल अवेयरनेस से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं। लेकिन इस एग्ज़ाम में बैठने के लिए 50 फीसदी अंकों के साथ 12वीं पास होने के अलावा आपकी अधिकतम आयु सीमा 20 साल तक होनी चाहिए। वहीं इसके अलावा कई प्राइवेट कॉलेज भी लॉ की पढ़ाई करवाते हैं।

किसी भी कॉलेज में ए़डमिशन के बाद एलएलबी की पढ़ाई अवधि 5 साल की होती है। ये कोर्स करते ही आप वकील बन जाते हैं लेकिन निपुणता के लिए प्रैक्टिस बहुत जरूरी है। लिहाज़ा आप ये कोर्स कम्पलीट करने के बाद इंटर्नशिप ज़रूर करें। इंटर्नशिप के दौरान आपको कोर्ट से जुड़ी तमाम बारीकियां सिखाई जाती हैं। जो आपके लिए आगे बेहद फायदेमंद साबित हो सकती है।

Facebook Comments