हाल ही में अभिनेता सोनू सूद ने ‘खुद कामाओ, घर चालाओ’ योजना शुरू करने का एलान किया है, जिसका मकसद लोगों को “आत्मनिर्भर” बनाने के लिए रोजगार के अवसर पैदा करना है ।

कोरोना संकर्मण के कारण लगे लॉकडाउन में गरीबों के मसीहा बनकर उभरे अभिनेता सोनू सूद ने रविवार को एक बार फिर बेहद नेकी का काम किया है। जी हाँ! सोमवार को सोनू ने अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल पर ‘खुद कमाओ, घर चलाओ’ नामक एक योजना की घोषणा की, जिसके तहत वे कोरोना वायरस महामारी के दौरान अपनी रोजी-रोटी खो चुके लोगों को आजीविका कमाने के लिए ई-रिक्शा उपलब्ध कराएंगे।

सोनू सूद का ट्वीट –

47 वर्षीय सोनू ने अपने ट्वीट में लिखा, “आज एक छोटा सा कदम, कल एक बड़ी छलांग के लिए। छोटे व्यवसायों को किकस्टार्ट करने के लिए मुफ्त ई-रिक्शा प्रदान की जाएंगी। यह लोगों को आत्मनिर्भर बनने के लिए सशक्त बनाने का एक छोटा सा प्रयास होगा”। इसके साथ उन्होने एक पोस्टर भी शेयर किया जिसपर लिखा था, “खुद कामाओ घर चालाओ, चलिए आपको एक ई-रिक्शा गिफ्ट करें”

गौरतलब है कि इससे पहले सोनू सूद ‘प्रवासी रोजगर’ नामक एक ऐप भी लॉन्च कर चुके हैं, जिसका उद्देश्य ऐसे लोगों को काम दिलाना है, जो महामारी के दौरान अपनी नौकरी खो चुके हैं। इसके अलावा इस एप के जरिए, इन लोगों के कौशल को बेहतर बनाने के लिए विशिष्ट कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाता है।

 

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

 

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood)

बता दें कि दबंग’, ‘जोधा अकबर’, आर. राजकुमार और सिम्बा जैसी फिल्मों से अपनी अदाकारी का लोहा मनवा चुके सूद ने कोरोना संक्रमण में लगे लॉकडाउन की शुरुआत से ही प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने की ज़िम्मेदारी संभाल ली थी, जिसके कारण वे एक लंबे समय तक राष्ट्रीय सुर्खियों का हिस्सा बने रहे थे।

Facebook Comments