दिल्ली सरकार ने 31 दिसंबर और 1 जनवरी को कर्फ्यू का ऐलान किया है। 31 दिसंबर और 1 जनवरी को रात 11:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक दिल्ली में नाइट कर्फ्यू(Delhi Night Curfew) लगेगा। दिल्ली में होने वाले नए साल के जश्न को लेकर जो भीड़ होती है उसके कारण यह फैसला लिया गया है। भीड़ के कारण कोरोनावायरस(Coronavirus) के लक्षण लोगों में ना फैले इसके लिए दिल्ली सरकार ने यह फैसला लिया है। पब्लिक प्लेस पर 5 लोगों से ज्यादा की भीड़ इकट्ठा नहीं हो सकती है। नए साल का जश्न किसी भी पब्लिक प्लेस पर नहीं किया जाएगा।

दिल्ली(Delhi Night Curfew) के साथ-साथ कई ऐसे राज्य हैं जहां पर नए साल के जश्न पर पाबंदी लगाई गई है। ऐसे भी कई राज्य इसमें शामिल है जहां पर कोरोना के मामले बहुत कम है लेकिन वहां पर भी जिला प्रशासन ने यह फैसला किया है कि नए साल का जश्न नहीं मनाया जाएगा और भीड़ इकट्ठा नहीं होगी। सारे राज्य की सरकार अभी लोगों से यही अपील कर रही है कि वह घर में रहे और कहीं भीड़भाड़ वाले इलाके में ना जाएं।

कोविड-19 का नया स्ट्रेन(Coronavirus New Strain) भी आया सामने

Delhi Night Curfew
Image Source – Moneycontrol

दिल्ली वासियों के लिए एक खुशखबरी है ये भी है कि करोना के मामले में लगातार गिरावट आ रही है। 26 मई के बाद सबसे कम नए कोरोनावायरस के केस पिछले 24 घंटे में आए हैं। पिछले 24 घंटे में कुल 677 के सामने आए हैं। इसे दिल्ली में कुल मरीजों का आंकड़ा 6,24,795 तक पहुंच गया है।

Delhi Night Curfew Guidelines: सरकार द्वारा जारी कि गई नए गाइडलाइंस की सूची

  • दिल्ली में गुरुवार यानी 31 दिसंबर को रात 11:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू(Delhi Night Curfew) का ऐलान किया गया है। इस दौरान किसी भी सार्वजनिक जगह पर भीड़ इकट्ठे करने की अनुमति नहीं है। हालांकि ट्रैफिक मूवमेंट पर कोई पाबंदी नहीं लगाई गई है।
  • मुंबई सरकार द्वारा भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है। भीड़ इकट्ठा करने पर बैन है लेकिन लोग अपने दोस्त, परिवार, रिश्तेदारों से मिलने जा सकते हैं। इस दिन मुंबई में ड्रोन से निगरानी रखी जाएगी। लोगों को मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग रखना अनिवार्य होगा। मुंबई में 4 से ज्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकते हैं।
  • बेंगलुरु में सरकार द्वारा दोपहर से ही भीड़ भाड़ करने पर पाबंदी लगा दी गई है। चेन्नई में भी 31 दिसंबर को भीड़भाड़ करने पर पाबंदी लगा दी गई है। चेन्नई के फेमस बीच जैसे कि मरीना बीच, एलियट्स बीच को बंद कर दिया गया है। होटलों को विजिटर्स की पूरी जानकारी लेने को कहा गया है,साथ ही साथ पांडिचेरी के बीच पर नियमों के तहत सेलिब्रेशन किया जाएगा।
  • बंगाल कि सरकार का यह कहना है कि नाइट कर्फ्यू जैसे कठोर कदम उठाने की जरूरत नहीं है। बंगाल सरकार ने लोगों को अनुशासित और शांतिपूर्ण जश्न मनाने की इजाजत दे दी है। राज्य के मुख्य सचिव ने कहा है कि ‘नाइट कर्फ्यू जैसे कठोर कदम उठाने की हमें जरूरत नहीं है लेकिन नए साल के सेलिब्रेशन के लिए पूरी सावधानी बरती जाएगी’
  • चंडीगढ़ में भी कोई विशेष तरह की पाबंदी नहीं लगाई गई है। लेकिन वहां के डीजीपी ने यह जरूर कहा है कि ‘नाइट कर्फ्यू की जरूरत नहीं है लेकिन कोविड-19 नियमों का पूरी तरह से ध्यान रखा जाएगा। होटलों के ओपनिंग और क्लोजिंग के नियमों का पालन पूरी तरह से किया जाएगा।
  • पंजाब सरकार ने भी नाइट कर्फ्यू करने का ऐलान किया है। यहां पर रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 5:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा, जिसे 1 जनवरी को हटा दिया जाएगा। होटल, रेस्टोरेंट, मैरिज हॉल रात को 9:30 बजे बंद हो जाएंगे।
  • सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्रि ने सभी राज्यों को सेलिब्रेशन को ध्यान में रखते हुए उचित कदम उठाने को कहा था। एक केंद्रीय अधिकारी ने यह भी कहा था कि यूरोप और अमेरिका में बढ़ते मामलों को देखते हुए हमें प्रोटोकॉल्स और गाइडलाइंस का पालन जरूर करना चाहिए।
  • पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 21,822 नए मामले आए हैं,जिसके बाद देश में करोना संक्रमित मरीजों की संख्या 10,266.674 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 26,109 मरीज ठीक भी हुए हैं और 299 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। कोरोनावायरस के एक्टिव मामले अभी तीन लाख से नीचे हैं। इस समय देश में 2,57,600 एक्टिव केस है।
Facebook Comments