दिल्ली में चल रहे सौंदर्यीकरण के तहत चांदनी चौक में हनुमान मंदिर(Hanuman Mandir) को तोड़ दिया गया है। इसे लेकर अब दिल्ली की सियासत गरमाने लगी है। भाजपा और आम आदमी पार्टी(Aam Aadmi Party) के बाद इसमें कांग्रेस भी उतर आई है। इसे लेकर कई हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के चांदनी चौक(Chandni Chowk) में मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया है।

री-डिजाइन की मांग

Protest In Chandni Chowk Hanuman Mandir
Image Source – Jagran

भाजपा मांग कर रही है कि दिल्ली सरकार सौंदर्यीकरण की योजना को दोबारा डिजाइन करे और हनुमान मंदिर को फिर से बनाए। दूसरी ओर आप ने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा है कि भाजपा शासित एमसीडी ने सबसे पहले 100 साल पुराने हनुमान मंदिर(Hanuman Mandir) को तोड़ डाला। इसके बाद जनता के गुस्से से बचने के लिए वह अपने जघन्य अपराध को छुपा रही है और आप पर इसका दोष मढ़ रही है।

मिलेंगे उपराज्यपाल से

दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से मिलकर मामले में हस्तक्षेप किये जाने की मांग रखने की भी बात कही है। साथ ही दिल्ली धार्मिक समिति के मंत्री सत्येंद्र जैन(Satyendra Kumar Jain) पर उन्होंने आरोप लगाया है कि दिल्ली धार्मिक समिति में इस मसले का समाधान हो सकता था, लेकिन उन्होंने ऐसा होने नहीं दिया।

आप का पलटवार

Hindu Groups Protest In Chandni Chowk
Image Source – Tfipost

इस पर पलटवार करते हुए आम आदमी पार्टी(Aam Aadmi Party) के नेता दुर्गेश पाठक ने कहा है कि प्राचीन मंदिर को ध्वस्त किए जाने के लिए पूरी तरह से दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के साथ वरिष्ठ भाजपा नेता जिम्मेदार हैं।

यह भी पढ़े

कांग्रेस ने दोनों को घेरा

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भाजपा और आप दोनों पर हमला बोलते हुए कहा है कि भले ही दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप कर रही हैं, लेकिन सच तो यही है कि दिल्ली सरकार की अनुमति से ही उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने हनुमान मंदिर(Hanuman Mandir) को गिराया है।

Facebook Comments