Bengali Rasgulla Recipe in Hindi: दीपावली का त्यौहार हो या फिर भारत में मनाया जाने वाला कोई भी त्यौहार, हर त्यौहार में एक चीज जो हमेशा होती है वो है मिठाई। होली पर गुझिया की मिठास हो या फिर दीपावली पर अलग-अलग तरह की मिठाइयों की, सिर्फ त्यौहार ही नहीं किसी भी खुशी के मौके पर भी लोग एक-दूसरे का मुंह मीठा करने के लिए मिठाई को ही चुनते हैं। बात चाहे कोई भी हो आकर मिठाई पर ही खत्म होती है।

जैसा सब जानते हैं कि जल्दी ही दीपावली का त्यौहार आने वाला है। यह हिंदुओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। इसमें घर पर खाने के विभिन्न प्रकार के व्यंजन के साथ खूब तरह की मिठाई भी बनती है। यहां तक कि आप किसी के घर भी मिठाई लेकर जाते हैं और आने वाले मेहमान भी अपने साथ मिठाई का एक डिब्बा लेकर जरूर आते हैं। वैसे तो इन त्यौहारों पर बाजारों में विभिन्न तरह की मिठाई मिलती है, लेकिन अगर आप ये मिठाई खुद से बनाकर अपने रिश्तेदारों को खिलाएं या फिर दें तो उसका मजा ही अलग होगा।

हमने आपको अपने व्यंजन की इस कड़ी में कई तरह की मिठाई बनाने की विधि बताई है। तो आज इसी कड़ी में हम आपको बताएंगे बंगाली रसगुल्ले बनाने की विधि। बता दें कि बंगाली रसगुल्ले काफी फेमस हैं। लोगों के बीच ये काफी पसंद किए जाते हैं। तो इस बार आप भी मेहमानों को घर पर बंगाली रसगुल्ले बना कर खिला सकती हैं। तो चलिए आपको बताते हैं बंगाली रसगुल्ले बनाने की विधि के बारे में और जानते हैं इसकी पूरी रेसिपी।

  • रेसिपी क्विज़ीन: इंडियन
  • समय: 30 मिनट से 1 घंटा

सामग्री

making rasgulla
thebetterindia
सामग्रीमात्रा
दूध फुल क्रीम2 लीटर
नींबू का रस2 चम्मच
अरारोटडेढ़ चम्मच
इलायची पाउडरआधा चम्मच
चीनी4 कप
पानी

 

2 से 3 कप

 

 

बनाने की विधि [Bengali Rasgulla Banane ki Vidhi]

  • सबसे पहले दूध को एक भारी तली वाली कढ़ाही या भगौने में गर्म करें।
  • दूध को अच्छे से उबल जाने पर गैस को बंद कर दें और दूध को उसी पर कुछ समय के लिए छोड़ दें।
  • जब दूध थोड़ा ठंडा हो जाए तो उसमें नींबू का रस डालें और दूध को चलाते जाएं। बता दें कि नींबू के रस को एक बार में ना डालकर थोड़ा-थोड़ा डालें।
  • जब दूध पूरी तरह से फट जाए तो उसे मलमल के साफ कपड़े में छानें। उसको छानने के बाद कपड़े पर ऊपर से ठंडा पानी डालें। ऐसा इसलिए करा जाता है जिससे दूध से नींबू का स्वाद निकल जाए।
  • अब कपड़े को अच्छी तरह से दबाकर उससे पानी को अच्छे से निकाल दें। फटे हुए दूध से जितना हो सके पानी को निकाल दें। बता दें कि ये पनीर रसगुल्लों के लिए तैयार हैं।
  • अब फटे हुए दूध की पनीर को एक प्लेट में निकाल लें। अब इसे या तो कद्दूकस की सहायता से या फिर हाथों से अच्छी तरह से मिलाएं। बता दें कि आपको इसको इतना मैश करना है कि ये पूरी तरह से चिकना हो जाए और इसमें एक भी गुठली ना बचे।
  • इसके बाद इसमें अरारोट मिक्स करें। अरारोट मिलाने के बाद इसे 4-5 मिनट तक अच्छे से मैश करें और अच्छे से गूंधकर चिकने आटे की तरह तैयार कर लें। अब रसगुल्ला बनाने के लिए मिश्रण तैयार है।
  • अब इस मिश्रण को हाथों से छोटे-छोटे गोले के आकार दें। अच्छे से गोल शेप देकर छोटे-छोटे बॉल तैयार करके एक प्लेट में रख लें। जब पूरे मिश्रण के गोले बन जाएं तो इन्हें एक गीले कपड़े से ढंक कर रख दें।

रसगुल्लों की चाशनी

  • रसगुल्लों की चाशनी बनाने के लिए एक भगोने में चीनी और 2 कप पानी डाल कर गैस पर गर्म करने के लिए रख दें।
  • चाशनी में एक उबाल आने दें। देख लें कि चाशनी ज्यादा गाढ़ी ना हो। चाशनी के बनने पर प्लेट में रखे तैयार रसगुल्ले के बॉल इसमें डाल दें।
  • गोले डालने के बाद भगोने को एक प्लेट से ढंक दें। चाशनी में रसगुल्ले डालने के बाद तेज आंच पर तकरीबन 15 से 20 मिनिट तक पकाएं।
  • जब आपको लगे कि चाशनी गाढ़ी होने लगी है तो उसमें थोड़ा-थोड़ा पानी मिलाते रहें। ध्यान रखें कि चाशनी में हमेशा उबाल आता रहे।
  • इस तरह चाशनी में सिर्फ 1 से 2 कप तक पानी डालें और खुशबू के लिए उसमें इलायची पाउडर मिक्स कर दें।
  • बता दें कि रसगुल्ले पकने के बाद फूल कर अपने साइज के दुगने हो जाएंगे, तब गैस बंद कर दें। तो तैयार हैं आपके बंगाली रसगुल्ले। अब इन्हें ठंडा होने के लिए फ्रि‍ज में रख दें और ठंडा होने पर सर्व करें।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments