डॉ एपीजे अब्दुल कलाम जी देश के सबसे लोकप्रिय राष्ट्रपति थे। इनका जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम् में हुआ था। उनके सफल जीवन का श्रेय उनकी माता को जाता है। लोग उनकी सादगी और सौभ्यता की वजह से पसंद करते थे। डॉ एपीजे अब्दुल कलाम को मिसाइल मैन भी कहा जाता था।

बचपन में अब्दुल जी को आजाद कह कर बुलाया जाता था। डॉ एपीजे अब्दुल कलाम एक महान वैज्ञानिक भी थे। उन्होंने मिसाइल टेक्नोलॉजी क्षेत्र में बहुत से महत्वपूर्ण काम किये थे। जिसके कारण आज भी लोग उन्हें याद करते है। अब्दुल जी को वैल्डर ऑफ़ पीपल भी कहा जाता था। आज हम आपको डॉ अब्दुल जी के कुछ महत्वपूर्ण बातें बताएगे, जिनको अपनाने से हमारी सारी परेशानिया दूर हो सकती है।

मिसाइल मैन अब्दुल कलाम के अनमोल विचार (Dr.apj Abdul Kalam Thoughts)

  • अगर सफल होने का इरादा मजबूत है, तो हम कभी असफल नहीं हो सकते।
  • अगर हमे पहली सफलता मिल जाती है तो उसके बाद हमे आराम नहीं करना चाहिए। यदि आप दोबारा असफल हो गए तो सभी लोग यही कहेगे की पहली सफलता भाग्य में थी।
  • हम सभी में प्रतिभा एक जैसी नहीं है लेकिन अपने आप को विकसित करने के अवसर सभी के पास बराबर है।
  • दुःख हम सभी के जीवन में आते है अगर हम दुःख के समय धैर्य से काम लेंगे तो बुरा समय भी बहुत जल्दी ही निकल जाएगा।
  • जीवन में सुख का मजा तभी आता है जब ये सुख परेशानियो का सामना करने के बाद मिलता है।
  • जो लोग जिम्मेदार, ईमानदार और मेहनती है उन्हें ईश्वर द्वारा अलग से सम्मान दिया जाता है वो लोग ईश्वर की श्रेष्ठ रचना है।
  • परिश्रम का मार्ग पर चलोगे तो हमेशा सफलता ही एक मात्र रास्ता है।
  • सपने देखना बहुत जरूरी होता है लेकिन सपने देखने से सब कुछ हासिल नहीं होता सपने देखने के बाद सबसे ज्यादा जरूरी है कि उसको अपने जीवन का लक्ष्य बनाना।
  • अगर आप सूरज जैसा बनना चाहते हो तो पहले सूरज की तरह जलना सीखो।
  • विज्ञानं मानव के लिए सबसे खूबसूरत तोहफा है हमे इसे बिगाड़ना नहीं चाहिए।
  • सपने वो नहीं है जो आपको नींद में आते है बल्कि सपने वो है जो आपको नींद न आने दे।
  • हमे जीवन में कभी हार नहीं माननी चाहिए बल्कि उस समस्या को खुद हरा देना चाहिए।
  • हमको आज बलिदान करना चाहिए ताकि हमारे बच्चों का कल बेहतर हो।
  • अगर हम किसी काम में असफल हो जाते है तो हमे हार नहीं माननी चाहिए बल्कि बार बार कोशिश करनी चाहिए।  

ये भी पढ़े: स्वामी विवेकानंद जी के विचार 

प्रशांत यादव

Facebook Comments