कोरोना के कारण हुए लॉकडाउन पर सभी व्यक्ति चाहे वह अमीर वर्ग के हो चाहे गरीब वर्ग, सभी अपनी आर्थिक स्थितियों से जूझ रहे हैं। वहीं अगर हम बात करें प्रवासियों की तो वह अपने आशियाने की तलाश में यहां वहां भटक रहे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन के चलते जरूरतमंदों की सहायता के लिए खजाना खोल दिया। मुख्यमंत्री द्वारा 871 करोड़ एक क्लिक पर ऑनलाइन ट्रांसफर किए गए हैं। यह रुपए वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, दिव्यांग पेंशन, आदि लाभार्थियों को दिये गए है।

इतना ही नहीं योगी जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों से उनका हालचाल जाना। और उन्हें आश्वासन दिया कि सरकार उनके साथ खड़ी हुई है। एवं वह इसी प्रकार उनकी सहायता करते रहेंगे। सीएम ने लोगों से यह भी आग्रह किया कि, वह अपने घर से बाहर ना निकले। साथ ही साथ योगी जी ने वाराणसी और गोरखपुर समेत आठ जिलों के लाभार्थियों की भी बात कही।

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वृद्धाश्रम को दिए दिशा निर्देश

इसके अतिरिक्त योगी जी द्वारा समाज कल्याण विभाग के तहत स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा चल रहे वृद्धआश्रमों में कोविड-19 संक्रमण से बचने के लिए निर्देश दिए गए हैं। प्सचिव समाज कल्याण के मनोज सिंह ने सभी जिलाधिकारियों को समाज कल्याण विभाग के दौरान स्वयंसेवी संस्थाओं के द्वारा चल रहे वृद्ध आश्रमों में कोरोना से संक्रमण से बचने के लिए सुनिश्चित प्रबंध करने के लिए आग्रह किया है। इसी के साथ उन्होंने एक पत्र में प्रमुख सचिव के जिलाधिकारियों से यह भी कहा कि वह खुद जाकर वृद्धआश्रमों का समय-समय पर निरीक्षण करें एवं संक्रमण से बचाव के लिए समुचित प्रबंध सुनिश्चित करवाएं।

18 मार्च 2020 के पत्र के माध्यम से कोविड-19 के बचाव के लिए दिशा निर्देशन जारी किए जा चुके हैं। आज की अवस्था को देखते हुए वृद्धआश्रमों में रहने वाले वृद्धजनों को इस महामारी के दुष्प्रभाव से दूर बहुत ही जरूरी हो गया है। क्योंकि यह माना जा रहा है कि, कोविड-19 सबसे ज्यादा बुजुर्गों पर प्रभाव डालती है।

Facebook Comments