Civil Service Day: आज 21 अप्रैल को देश सिविल सर्विस डे मना रहा है, लेकिन इस बार लॉकडाउन होने की वजह से किसी भी कार्यक्रम या समारोह का आयोजन नहीं किया गया। हालाँकि इस बीच देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सिविल सर्विस डे पर सभी सिविल सेवा कर्मियों को बधाई देते हुए कुछ जरूरी बातों का भी जिक्र किया है। यहाँ हम आपको प्रधानमंत्री द्वारा बोले गए उन्हीं आवश्यक बातों से आपको अवगत कराने आज रहे हैं। आइये जानते हैं देश के प्रधानमंत्री ने इस मौके पर सिविल सेवा कर्मियों के लिए क्या संदेश दिया है।

क्या है Civil Service Day ?

सिविल सर्विस डे क्या है और ये क्यों मनाया जाता है इस बारे में जान लेना भी बेहद आवश्यक है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, सिविल सर्विस असल में सरदार बल्लभ भाई पटेल द्वारा देश को दिया जाने वाला एक तोहफा है। भारत में सिविल सर्विस सेवाओं का गठन गृहमंत्री श्री बल्लभ भाई पटेल ने ही किया था। उन्होनें इस ख़ास सिस्टम का गठन कर देश को विकास के मार्ग पर चलने के लिए अग्रसर किया था। इसलिए आज के दिन खासतौर से स्वर्गीय सरदार बल्लभ भाई पटेल को भी याद किया जाता है। गौरतलब है कि, सिविल सर्विस के अंदर भारतीय पुलिस सेवा, अखिल भारतीय सेवाओं और भारतीय प्रशासनिक सेवाओं को शामिल किया जाता है। सरदार बल्लभ भाई पटेल ने इसकी शुरुआत 21 अप्रैल को की थी, इसलिए तब से इस दिन को एक यादगार दिन के रूप में मनाया जाता है।

यह भी पढ़े क्या है लॉकडाउन का एक्ज़िट प्लान ? 3 मई के बाद कैसा होगा देश का माहौल !

सिविल सर्विस डे के मौके पर ये कहा प्रधानमंत्री ने

आपको बता दें कि, हर साल सिविल सर्विस डे पर भारतीय लोक सेवा में विशेष योगदान देने वालों को पुरस्कारों से सम्मानित किया जाता है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से इस पुरस्कार समारोह का आयोजन नहीं किया गया। हालाँकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके सभी सिविल सेवा कर्मचारियों को बधाई दी है और लिखा है कि “आज सिविल सर्विस डे पर मैं सभी सिविल सेवा कर्मचारियों और उनके परिवार वालों को बधाई देता हूँ, कोरोना वायरस से जंग में उनका साथ देश को लगातार मिल रहा है, वो लगातार काम कर रहे हैं और सभी जरूरी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं, मैं इसकी सराहना करता हूँ।” इस ट्वीट के साथ ही प्रधानमंत्री ने साल 2018 में अपने दिए भाषण को भी ट्विटर पर शेयर किया है।

Facebook Comments