नित नए कीर्तिमान स्थापित कर रही रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड ( Reliance Industries Limited) ने एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। शुक्रवार को रिलायंस कंपनी मार्केट कैप(Market Cap) के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में तेज़ी आने के चलते कंपनी का मार्केट कैप 9 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गया है और ऐसा करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज़ देश की पहली कंपनी बन गई है। इससे पहले, अगस्‍त महीने में ही रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का मार्केट कैप 8 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा था। वहीं शुक्रवार को शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल के बाद रिलायंस कंपनी के शेयर दो फीसदी बढ़ोतरी के साथ 1,428 रुपये तक जा पहुंचे तो इसका मार्केट कैप 9.03 लाख करोड़ रुपये तक जा पहुंचा।

बीते साल रिलायंस बनी थी सबसे अधिक आमदनी वाली कंपनी

वहीं आपको ये भी बता दें कि बीते साल ही रिलायंस लिमिटेड कंपनी सबसे अधिक आमदनी दर्ज करने वाली कंपनी बन गई थी। रिलायंस इंडस्ट्रीज़ ने सरकारी कंपनी इंडियन आयल कार्पोरेशन (Indian Oil Corporation) को पछाड़ते हुए ये रिकॉर्ड अपने नाम किया था। 2018-19 वित्त वर्ष में रिलायंस ने कुल 6.23 लाख करोड़ रुपये का कारोबार किया जबकि इंडियन ऑयल कोरपोरेशन इसी साल 6.17 लाख करोड़ रुपये का बिजनेस किया।

क्या होता है मार्केट कैप (What is Market Cap)

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये मार्केट कैप क्या होता है। तो इसका जवाब हम आपको देते हैं। कंपनी के मार्केट कैपिटलाइज़ेशन यानि मार्केट कैप का मतलब है शेयर बाजार द्वारा निर्धारित उस कंपनी का मूल्य। हर कंपनी शेयर ज़ारी करती है, और जारी किए गए शेयरों की कुल संख्या कंपनी में 100% स्वामित्व हक को बताती है। मान लीजिए कि हमें किसी कंपनी के द्वारा जारी किए गए कुल शेयरों की संख्या और प्रत्येक शेयर की कीमत पता हो तो हम उस कंपनी का मूल्य प्राप्त कर सकते हैं। इस तरह से तय किये गए कंपनी के मूल्य को मार्केट कैप कहा जाता है।

सीधे सरल शब्दों में समझें तो कंपनी के शेयरों का बाजार मूल्य x जारी किये गए शेयरों की संख्या = कंपनी का मार्केट कैपिटलाइज़ेशन 

Facebook Comments