Coronavirus Lockdown: जैसा कि आप सभी जानते हैं, बीते 24 मार्च को रात्रि आठ बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन करने का फैसला लिया। इस दौरान ना कोई व्यक्ति घर से बाहर निकल सकता है और ना ही कोई आपके घर आ सकता है। देश ने आपातकाल की स्थिति तो देखी है लेकिन इस तरह का लॉकडाउन और वो भी एक वायरस की वजह से ऐसा अब से पहले कभी नहीं हुआ। मोदी सरकार ने लोगों का घरों से निकलना जरूर बंद कर दिया लेकिन उनके जरुरत के सामानों जैसे घर का राशन, हरी सब्जियां, दूध, दवा आदि पर कोई रोक नहीं लगाई है।

लोगों में जरूर इन चीजों को खरीदने की एक होड़ सी लग गई है और इसी को देखते हुए अब जरुरत के सभी सामानों के दाम सरकार ने निर्धारित कर दिए। इसका उलंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कारवाई के निर्देश भी दिए गए हैं। आइये जानते हैं विभिन्न क्षेत्रों में जरुरत के इन घरेलू सामानों के क्या दाम निर्धारित किए गए हैं।

देश में लॉकडाउन का माहौल देखते हुए सामानों को महंगे दामों पर बेचा जा रहा है

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, लॉकडाउन घोषित होने के बाद से ही लोगों में घरों के जरूरी सामान को खरीदने की एक होड़ सी लग गई। अचानक से जरूरी सामानों की मांग बढ़ने से दुकानदारों ने इसके दाम भी बढ़ाने शुरू कर दिए। इससे देश की राजधानी भी अछूती नहीं रही। चावल, आटा, दाल के दामों में तो बढ़ोतरी हुई साथ ही साथ सब्जियों के दाम भी इन दिनों आसमान छू रहे हैं। अब ऐसे में जो अमीर हैं वो किसी भी दाम पर सब्जियां और राशन खरीदने के लिए तैयार हैं।

लेकिन इस बीच गरीबों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। एक नींबू जिसे आप आमदिनों में 10 रूपये के चार खरीदते थे आज उसी नींबू को 15 रूपये का एक बेचा जा रहा है। चावल, आटा और दालों को भी मन मर्जी दामों पर बेचा जा रहा है।

राज्य सरकारों ने निर्धारित किए जरूरी सामानों के दाम (Coronavirus Lockdown)

देश में ऐसी परिस्थिति को देखते हुए जहाँ आम जनता को वेंडर्स लूटने का काम कर रहे हैं, केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को निर्देश दिए हैं कि, वो खाने पीने के विभिन्न सामानों के साथ ही सब्जी और दूध आदि के दामों को निर्धारित कर दें। केंद्र सरकार की इस बात को फॉलो करते हुए बहुत से राज्यों ने फिलहाल राज्य में बिकने वाले आटा, चावल, दाल, सब्जियां, तेल और दूध के दामों को निश्चित कर दिए हैं। इसके साथ ही साथ यदि किसी देश में अभी तक इन जरूरी सामानों की रेट लिस्ट नहीं भेजी गई है तो वो खाद्य और सार्वजानिक वितरण मंत्रालय वेबसाइट पर जाकर इन सभी आवश्यक सामानों की लिस्ट के दामों को चेक कर सकते हैं।

यह भी पढ़े बैंक नोटों से नहीं फैल सकता कोरोना वायरस, जानिए क्यों? (Bank Currency Coronavirus)

रेट लिस्ट को फॉलो ना करने वाले पर होगी सख्त कारवाई

आपको बता दें कि, सभी राज्य सरकारों ने इस दौरान ये आदेश भी जारी किए हैं कि, यदि कोई व्यक्ति उचित दामों पर इन जरूरी चीजों को बेचने का काम नहीं करता है तो उसके खिलाफ सीधे तौर पर एफ.आई.आर दर्ज की जाए। विभिन्न राज्यों के हालातों को देखते हुए कल सबसे पहले ये आदेश उत्तरप्रदेश में जारी किए गए। यू.पी में सभी जरूरी सामानों की रेट लिस्ट जारी कर दी गई है। इसमें पांच किलो के आटे का पैकेट 160 रूपये, चावल तीस रूपये किलो, सरसों का तेल 115 रूपये का एक लीटर और चीनी का दाम 38 रूपये प्रति किलो निर्धारित किया गया है। इस रेट लिस्ट में विभन्न खाद्य पदार्थों के दाम दिन और हफ़्तों के हिसाब से तय किए गए हैं।

Facebook Comments