Beer Peene Ke Fayde: यदि आप बियर पीने से फायदे के बारे में जानने आये हैं तो अवश्य ही आप इसका सेवन भी करते होंगे। किन्तु जब आप बियर खरीदते है तो आप उसे किसी बैग में या थैले में या फिर स्कूटी की डिक्की में रख कर या फिर यूँ कहें कि दुनिया की नज़रो से बचा कर ले कर जाते है, लेकिन ऐसा क्यों? ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि हमारे आस पास रहने वाले व्यक्ति ये जरूर कहते हैं कि बियर का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। किन्तु ये बिल्कुल गलत है, कोई भी चीज हानिकारक अति होने पर ही करती है, यदि उसे सही मात्रा में लिया जाये तो निःसंदेह वह फायदेमंद है। यदि आप कोल्ड-ड्रिंक का भी सेवन अति करने लगे तो वह भी आपके स्वस्थ को बिगाड़ सकती है लेकिन डिहाइड्रेट से बचने के लिए कोल्ड ड्रिंक फायदेमंद है। ठीक इसी प्रकार बियर का सेवन सही मात्रा में करने से शरीर को लाभ ही प्रदान करता है।

कुछ वर्ष पूर्व महिलाएँ अथवा लड़कियाँ भी बियर एवं शराब के खिलाफ थी, किन्तु आज नारियाँ भी बड़े शोक से बियर शॉप पर जाकर बियर खरीदती है तथा उसका सेवन भी करती है। बहुत से लोगों को यह भी पता नहीं होगा कि बियर को बनाया कैसे जाता है? बियर को गेँहू, मक्का, जौं तथा चावल के किण्डवन से निर्मित किया जाता है। और कुछ बियर को तो जड़ी बूटी तथा औषधियों से भी बनाया जाता है। आधुनिक समय में लोग कॉफ़ी तथा चाय का सेवन करते है, किन्तु इन्ही के बराबर बियर का भी सेवन करते है। बियर के ऊपर कई सारे रिसर्च किये गए हैं तथा लगभग सभी में कहा गया है कि बियर का सेवन उचित मात्रा में शरीर को स्वस्थ्य बनाने में सहयोगी होता है, वह नुकसान तभी करेगा जब इसे अधिक मात्रा में ग्रहण किया गया हो। आपको बताना चाहते हैं कि 1999 में “ब्रिटिश मेडिकल जनरल” द्वारा किये गए शोध में यह निष्कर्ष निकला की प्रतिदिन 3 ड्रिंक्स पीने से दिल से जुडी बिमारियों को 24% तक कम कर देती है। बियर में अलकोहल कि मात्रा बहुत कम होती है जिस कारण गर्मी के समय इसका सेवन करने से पूरा शरीर अंदर से ठंडा रहता है। यदि आप हफ्ते में 2 बार बियर का सेवन करते हैं तो आपकी कई सारी बीमारियाँ जड़ से ख़तम हो जाएँगी।

चलिए आपको बताते हैं कि बियर का सेवन करने से आप किन किन बिमारियों से बच सकते हैं 

किडनी में पत्थर [Beer for Kidney Stones]

beer for stone
menshealth

जब जब बियर पीने के फायदे का ज़िक्र आता है तो किडनी में पत्थर होने कि बात छिड़ ही जाती है। दरअसल, रीसर्च के अनुसार बियर पीने से किडनी में पत्थर जमा होने कि सम्भावना 40% तक कम हो जाती है। यदि आपके किडनी में पत्थर है तो आपको रोज़ बियर का सेवन करना चाहिए, इससे आपके किडनी में जमा पत्थर पेशाव के ज़रिये बाहर निकल जायेगा। इसकी वजह यह है कि बियर में पानी तथा शराब दोनों ही का मिश्रण रहता है, जिसके कारण पेशाव पतली होती है तथा बहाव बहुत तेज जिसके कारण पत्थर जमा होने कि सम्भावना बहुत कम हो जाती है।

दिल की बीमारी [Beer for Heart Patients]

Beer for heart
everydayhealth

बियर के अंदर फोलिक एसिड पाया जाता है जो कि हार्ट अटैक कि सम्भावना कई गुना कम कर देता है। जब दिल के अंदरूनी सतह पर  कॉलेस्ट्रॉल जम जाती है तब स्ट्रांग बियर का सेवन दिल के लिए बहुत अच्छा तथा लाभदायक होता है। 1999 में “ब्रिटिश मेडिकल जनरल” द्वारा किये गए शोध में यह निष्कर्ष निकला कि प्रतिदिन 3 ड्रिंक्स पीने से दिल से जुडी बिमारियों को 24% तक कम कर देती है।

हड्डियों को मजबूत बनता है [Beer for Muscle Recovery]

beer for muscles
t-nation

बियर के अंदर सिलिकॉन नाम का तत्त्व भरपूर मात्रा में होता है। यह वही तत्त्व है जो हड्डियों को विकसित होने में मदद करता है। मैसाचूसिट्स की एक यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च से पता चलता है कि बियर का सेवन प्रति दिन 1 -2 ग्लास करने से हड्डियों के टूटने का या फ्रैक्चर होने का खतरा कम हो जाता है, लेकिन यदि यही बियर आप प्रतिदिन अधिक मात्रा में लेते है तो आपकी हड्डियां टूट या फ्रैक्चर बहुत आसानी से हो सकती है। तथा इसलिए कहा जाता है कि किसी भी चीज कि अति सबसे बुरी।

डाइबिटीज़ [Beer for Diabetics]

beer for diabetics
diabetes

आज के समय में डाइबिटीज़ वह बीमारी है जो किसी महामारी कि तरह पुरे भारत वर्ष में फ़ैल रही है। 35 वर्ष से अधिक व्यक्तियों को यह बीमारी खाये जा रही है। तथा एक रीसर्च से मालूम चला है कि रोज़ाना 1 -2 ग्लास बियर का सेवन करने से डाइबिटीज़ कि सम्भावना 25% तक कम हो जाती है।

खून का बहाव सही करता है [Beer for Blood Purification]

स्ट्रोक का नाम तो सुना ही होगा। आमतौर पर स्ट्रोक तब होता है जब दिमाग में खून का थक्का बन जाता है और वो दिमाग में खून एवं ऑक्सीजन के प्रवाह को रोक देता है जिस कारण स्ट्रोक होता है। जितने ज्यादा थक्के होंगे उतना ही नुकसानदेह होगा। किन्तु यदि आप बियर का सेवन कर रहे हैं तो खून का थक्का बनने कि सम्भावना कई हद तक कम हो जाती है। जब आप बियर पीते हैं तो खून का संचार करने वाली धमनियां लचीली हो जाती है तथा खून का संचार तेज हो जाता है जिस कारण खून के थक्के जमने कि सम्भावना अत्यधिक कम हो जाती।

अल्ज़ाइमर

अल्ज़ाइमर दिमाग की वह स्थिति है जब इंसान चीजों को अथवा अपने जानने वालो को भूलने लगे। दुनिया के कई देशो में हुए रिसर्च में सामने आया है कि जो लोग नियमित रूप से बियर का सेवन करते है उन्हें अल्ज़ाइमर होने की आशंका 25 % तक कम हो जाती है। ऐसा क्यों होता है इसका जवाब स्पष्ट रूप से सामने नहीं आया है लेकिन कुछ का मानना है कि इसमें मौजूद सिलिकॉन दिमाग को शरीर में मौजूद एल्युमीनियम से बचता है जो कि अल्ज़ाइमर होने का सबसे बड़ा कारण है।

नींद ना आने कि बीमारी

नींद ना आने कि समस्या यानि कि इन्सोम्निया की बीमारी होना। इस बीमारी में नींद नहीं आती है, सिर्फ जागते रहते हैं, तो इस स्थिति में डॉक्टर भी बियर पीने कि सलाह देते हैं। इसका कारण यह है कि बियर में नेचुरल नाइटकेप होता है, नाइटकेप का मतलब है खाने के बाद या बिस्तर पर सोने से पहले ली जाने वाली चीज। इसकी एक और वजह हो सकती है कि बियर पीने के बाद  दिमाग में डोपामीन का प्रवाह तेज हो जाता है। जिसके कारण शरीर हल्का महसूस करता है।

डैंड्रफ से छुटकारा [Beer for Hair Dandruff]

Dandruff
bhaskar

डैंड्रफ से छुटकारे के लिए आप अपने टेलीविज़न पर रोज़ाना ना जाने कितने ही शैम्पू के विज्ञापन देखते होंगे, किन्तु एक और शैम्पू है जिसका नाम बियर शैम्पू है। बियर से बाल धोने पर सारे डैंड्रफ ख़त्म हो जाते है, इसका कारण यह है कि बियर में यीस्ट और विटामिन बी भारी मात्रा में होती है। तो आपको यदि डैंड्रफ hatana है तो बियर वाले शैम्पू से बाल धोये, इससे आपके सारे डैंड्रफ भी ख़त्म हो जायेंगे और बाल शाइनी हो जायेंगे।

अतः कुल मिलकर बात यह है कि यदि आप हफ्ते में 1 से 2 बार बियर का सेवन करते हैं तो वह आपको कई तरीको से फायदा देगा लेकिन यदि आपने इसकी आदत बना ली तथा उचित मात्रा से अधिक इसका सेवन करने लगे तो यह आपको उतना ही हानि भी पंहुचा सकती है।

Facebook Comments