Foods for Children: आजकल के बच्चों को खेलने में ज्यादा मन लगने लगा है और पढ़ाई से वे ऐसे मन चुराते हैं जैसे उनके सामने किसी युद्ध का प्रस्ताव रख दिया हो। पढ़ाई का मन आज भी बच्चों का नहीं करता है और अगर पैरेंट्स पढ़ाई पर जोर ना दें तो शायद ही कोई बच्चा पढ़ाई करे। कुछ बच्चे जानबूझकर पढ़ाई नहीं करते तो कुछ का सच में पढ़ाई में मन नहीं लगता। कुछ याद करना होता है तो वो उन्हें याद भी नहीं होता है। अगर आपका बच्चा भी पढ़ने में कमजोर है तो उन्हें ये 7 Foods जरूर खिलाएं।

बच्चों के लिए ये 7 Foods हैं जरूरी [Healthy Foods for Children]

जिस तरह हर इंसान की शक्ल नहीं मिलती है उसी तरह हर किसी का मानसिक स्तर एक जैसा नहीं होता है। पैरेंट्स को कभी अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से नहीं करनी चाहिए क्योंकि हर इंसान अपना दिमाग दूसरे की तरह इस्तेमाल करे ये जरूरी नहीं होता है। अब समय आ गया है कि आप अपने बच्चों के दिमाग का स्तर बढ़ाएं और इसके लिए उन्हें जोर देकर पढाने के पहले वो 7 Foods खिलाएं जिसकी उन्हें सबसे ज्यादा जरूरत होती है।

सेब (Apple)

apple
goodmenproject

रोज सुबह खाली पेट एक सेब खाने से याद करने की शक्ति तेजी से बढ़ती है। ये मस्तिष्क की कोशिकाओं को चार्ज करने के साथ ही सोचने की शक्ति को भी बढ़ाता है। खाली पेट सेब खाने से चेहरे पर ग्लो भी आता है और बीमारियां दूर रहती हैं। इसलिए अपने बच्चे को एक गिलास दूध के साथ एक सेब खिलाएं, इससे उन्हें मजबूती के साथ ही स्मरण शक्ति को बढ़ाने का जरिया भी मिलेगा।

बादाम और ब्राह्मी (Almonds and brahmi)

almond
npr

ऐसा अक्सर होता है कि बच्चे याद तो अच्छे से करते हैं लेकिन एग्जाम के समय उनके दिमाग से सबकुछ निकल जाता है। इसलिए लोग बादाम खिलाते हैं क्योंकि बादाम दिमाग तेज करता है ये तो आपने सुना ही होगा। इस बादाम को दूध में पीसकर या फिर तीन-चार दाने बादाम के रात में भिगो दें और बच्चों को दूध के साथ दें। इसके अलावा ब्राह्मी नाम की जड़ी-बूटी भी बच्चों के लिए फायदेमंद होता है। हर दिन एक चम्मच इसका रस पीने से याद्दाश्त बेहतर बनता है और बच्चे अपने विषय को अच्छे से याद रख पाएंगे।

सोयाबीन (Soybean)

soybean
economictimes

सोयाबीन का सेवन हर किसी के लिए फायदेमंद होता है। सोयाबीन के आटे के पकवान बच्चों को खिलाएं, क्योंकि इसमें फायटोस्ट्रोजेन नाम का प्लांट हार्मोन और विटामिन बी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ये सभी तत्व याद्दाश्त बढ़ाने में बहुत फायदेमंद होता है इसलिए हफ्ते में तीन से चार बार सोयाबीन से बनी सब्जी या कोई पकवान बच्चे और परिवार के सदस्यों को जरूर खिलाएं।

पालक (Spinach)

spinach
ndtv

बचपन में जब घर में पालक की सब्जी या दाल बने तो हम सभी ने मुंह एक बार जरूर बनाया होगा। इसलिए क्योंकि पालक खाने में बहुत स्वाद से बरी नहीं होती है लेकिन इसके गुण जानकर आप इसे रोज खाना चाहेंगे। पालक में मैग्नीशियम और पोटेशियम बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है जो याद्दाश्त बढ़ाने के साथ ही सीखने की क्षमता को भी बढ़ाने में मददगार साबित होता है। इसके अलावा पालक में विटामिन बी 6, ई और फोलेट भी पाया जाता है।

गाजर (Carrot)

carrot
economist

गाजर और पत्ता गोभी के 10-12 पत्तों को काट लें और इसमें हरा धनिया भी काट लें और इसमें सेंधा नमक, काली मिर्च का पाउडर और नींबू का रस मिलाकर खूब चबा-चबाकर खिलाएं। इससे पाचन शक्ति ठीक रहने के साथ ही दिमाग पर भी अच्छा प्रभाव पड़ता है। इसमें पाए जाने वाले तत्व आपके बच्चों में आलसपन को खत्म करके उनके दिमाग को सरपट दौड़ाएंगे।

अंडा (Egg)

egg
delish

बच्चों के दिमाग को तेज करने के लिए अंडा भी बहुत फायदेमंद होता है। अंडे में विटामिन बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है जिसके सेवन से दिमाग के सेल्स का विकास होता है। ज्यादा सेल्स होने पर बच्चे दिमाग भी तेजी से दौड़ता है। इसके सेवन से उनकी मेमोरी भी बढ़ती है और उनका शारीरिक रूप भी फिट रहता है।

मछली (Fish)

fish
foodnetwork

मछली का सेवन दिमाग के साथ ही आंखों की रौशनी को भी ठीक रखता है। मछली में बहुत ज्यादा मात्रा में विटामिन-डी और ओमेगा 3 पाया जाता है। ये बच्चों की याद्दाश्त को भी बढ़ाने में मदद करता है। इसमें बच्चे के दिमाग को विकसित करने के मिनरल्स पाए जाते हैं।

Facebook Comments