बरसात का मौसम गर्मी से राहत और खुशियां लेकर आता है। वहीं इसके साथ कई परेशानियां भी आती है। बरसात के मौसम में सबसे ज्यादा असर आपकी त्वचा पर पड़ता है। इस मौसम को साल का सबसे अच्छा समय माना गया है। तेज गर्मी और धूप के बाद यह मौसम काफी राहत पहुंचाता है। लेकिन इस मौसम में काफी बीमारियों के होने का खतरा होता है। बरसात के मौसम में बालों और त्वचा से संबंधी समस्याएं अधिक होती है। आप लोगो की थोड़ी सी लापरवाही आपके सौंदर्य और स्वास्‍थ्‍य को प्रभावित कर सकती है।

बरसात के मौसम में कई तरह की त्वचा प्रॉब्लम होती है जैसे खुजली, जलन, दाग और लाल दाग आदि। ऐसे में हम लोगो को अपनी त्वचा का खास ख्याल रखना होता है। अगर आप लोग भी इन सभी समस्याओं से बचना चाहते है तो हम आप लोगो को इस लेख में मानसून के मौसम में अपनी त्वचा का ख्याल कैसे रखे इसके बारे में जानकारी देंगे। ये जानकारी आपके लिए बहुत ज्यादा लाभदायी होगी।

वर्षा के मौसम में त्वचा के लिए कुछ विशेष उपाय Monsoon Skin Care Tips in Hindi

  • बरसात के मौसम में कठोर साबुन का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • चेहरे पर जैतून का तेल नहीं लगाना चाहिए ये सिर्फ सर्दी के मौसम में ही लगाना चाहिए।
  • घर के आस पास पानी जमा नहीं होने दे क्योंकि इसेसे मच्छर और कीड़े पैदा होते है।
  • बालों और त्वचा को ज्यादा देर तक गीला न रहने दे क्योंकि इससे फंगल इंफेक्शन जैसी त्वचा की प्रॉब्लम भी हो सकती है।
  • बरसात के मौसम में नमी ज्यादा रहती है। ऐसे में हमारी त्वचा के छिद्र बंद हो जाते है और मुंहासे होने लग जाते है। इससे बचने के लिए कोई अच्छा सा एंटी-बैक्टीरियल टोनर इस्तेमाल करे।
  • बरसात के मौसम में जब भी धूप होती है तो बहुत तेज होती है। अगर आपको घर से बाहर जाना है तो सनस्क्रीन जरूर लगाए।
  • बरसात के मौसम में हल्का मेकअप लगाना चाहिए।
  • खाना खाने से पहले हाथो को अच्छे से धोना चाहिए।
  • बरसात के मौसम में कच्ची सब्जी या सलाद कम खाएं
  • बरसात का मौसम हो या फिर कोई दूसरा मौसम हमेशा तांबे या चांदी के बर्तन रखे पानी को ही पीना चाहिए। यह सिर्फ फैशन नहीं है बल्कि पानी में मौजूद कीटाणु ख़त्म हो जाते है।

बरसात के मौसम में त्वचा की समस्याओं से बचने के साथ साथ स्वास्‍थ्‍य संबंधी समस्याओं से बचना भी जरूरी होता है। इस मौसम में हेपेटाइटिस, टायफायड और पानी से फैलने वाली बीमारियों के होने का खतरा अधिक होता है। फल, सलाद और सब्जि़यों को धोकर  ही खाना चाहिए और भोजन में हल्का खाना ले। बरसात के मौसम में बाहर का खाना बिलकुल भी न खाएं। बहुत से लोग इन बातो पर ध्यान नहीं देते और आगे चल कर ये खतरनाक बीमारी का कारण बन जाती है। इसलिए कभी भी छोटी छोटी बातो को नज़रअंदाज़ न करे।

अगर आपको हमारा ये लेख अच्छा लगा तो इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। ताकि इस बरसात के मौसम में वो भी अपना ख्याल अच्छे से रख सके।  

Facebook Comments