आमतौर पर पीलिया जानलेवा नहीं होता है। अगर समय पर पीलिया का इलाज नहीं करवाया जाए, तो एक गंभीर बीमारी बन जाती है। हमारे शरीर में एक बिलीरुबिन नाम का एक पीला पिग्मेंट पाया जाता है। जब भी बिलीरुबिन की मात्रा अधिक हो जाती है तो हमारा लिवर अच्छे से काम नहीं करता। इस कारण हमारी आँखो और त्वचा में पीलापन दिखने लग जाता है। जिसे हम पीलिया कहते है।

पीलिया होने के कारण

पीलिया इन तीन रूपों में होता है।

  1. हेमोलाइटिक जांडिस में खून के लाल कण नष्ट होकर कम होने लगते हैं।
  2. बिलरूबिन के ड्यूडेनम को पहुंचने में बाधा पडने लगती है। इसे ऑब्सट्रक्टिव जॉन्डिस कहते हैं।
  3. पीलिया लिवर के सेल्स को जहरीली दवा(टॉक्सिक ड्रग्स) या विषाणु संक्रमण (वायरल इन्फेक्शन) से नुकसान पहुंचने की वजह से होता है।

पीलिया बहुत से कारणों से हो जाता है जिसमे से कुछ प्रमुख है।

  • खराब पानी पिने से
  • बासी या खराब खाना खाने से
  • लिवर कमजोर होने से
  • बार-बार बुखार आने से
  • मलेरिया होने से
  • अधिक शराब पिने से
  • किसी पीलिया रोगी का झूठा खाना या पानी पिने से
  • बाहर का खाना ज्यादा खाना

पीलिया होने के लक्षण – Piliya ke Lakshan

कारण जानने के बाद हमे पीलिया होने के लक्षण के बारे में जानना जरूरी होता है। क्युकी बहुत से लोगो को ये रोग होता है उन्हें इसका पता बहुत देर से चलता है। तो आइये जानते है कौन-कौन से पीलिया के लक्षण होते है।

  • पेशाब पिले रंग का होना
  • आँखो का रंग पीला होना
  • नाख़ून हल्के पिले रंग के हो जाना
  • सरदर्द
  • भूख न लगना
  • थकान होना
  • बुखार का लगातार बना रहना
  • खून की कमी होना

पीलिया के घरेलू उपाय 

  1. एक गिलास में आधा निम्बू का रस डाल कर उसे अच्छे से मिला ले। दिन में तीन से चार बार इस तरह से पानी पिए, ये पीलिये को ठीक करने में बहुत मददगार होता है।
  2. गन्ने का रस भी पीलिये में काफी मदद करता है। गन्ने का रस लिवर को तेजी से ठीक करके शरीर को स्वस्थ करता है। एक गिलास गन्ने के रस में आधा निम्बू डाल कर दिन में चार से पांच बार इसका सेवन करे। गन्ने का रस पीलिया में रामबाण होता है।
  3. जौ भी एक प्रभावी पीलिया उपाय है। एक कप जौ लेकर उन्हें तीन लीटर पानी में डाल कर अच्छे से उबाल ले ठंडा होने पर इसमें अपने स्वाद अनुसार नमक या चीनी डाल कर पिए।
  4. अदरक के एक टुकड़े का रस निकाल ले इस रस में एक चम्मच पुदीना का रस और एक चम्मच नीबू का रस मिला लें। इसका सेवन एक दिन के अंदर तीन से चार बार करे। कुछ ही दिनों में आपको आराम महसूस होगा।
  5. गाजर का रस भी पीलिये में एक कारगर घरेलू उपाय है। गाजर का रस हमारे लिवर की सफाई करके उसकी क्षति की मरम्मत करता है। हर रोज एक गाजर का रस पीना है। इसके अलावा आप गाजर का सेवन दूसरे तरिके से भी कर सकते है जैसे कच्ची गाजर खाना, गाजर की सब्जी खाना, सलाद में खाना इतियादी।
  6. संतरे का जूस हमारे शरीर को मजबूती देता है। इसलिए एक गिलास संतरे का रस रोजाना सुबह खाली पेट सुबह सेवन करे। ऐसा करने से एक सप्ताह में ही आपको फर्क दिखने लग जाएगा।

पीलिया में खानपान और परहेज

  • हल्का खाना ले
  • फलो का रस ज्यादा से ज्यादा सेवन करे
  • हरी पत्तेदार सब्जिया खाए
  • तली हुई चीजे न खाए
  • घी का सेवन बिलकुल न करे
  • काम ज्यादा न करे
  • सम्भोग न करे
  • धुप में ज्यादा न रहे

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा इस लेख की पीलिया सम्बंधित यह जानकारी आपके लिए बहुत लाभप्रद साबित होगी। अगर आपको पीलिया के उपाय लाभदायक लगे तो इसे अपने दोस्तों और रिस्तेदारो के साथ जरूर शेयर करे ताकि वो भी इसकी जानकारी ले सके।

ये भी पढ़े: वजन कम करने के 5 देसी उपाय 

प्रशांत यादव

Facebook Comments