Loud Laughing may cause Coronavirus: दुनिया भर में कोरोना वायरस के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए शोधकर्ता शोध में लगे हुए हैं, ताकि किसी भी तरीके से कोरोना वायरस का इलाज ढूंढा जा सके। इसी क्रम में भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (ICMR) और भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS).की ओर से किए गए एक शोध में यह दावा किया गया है कि संक्रमित व्यक्ति के जोर से हंसने से भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है। अपने शोध के आधार पर दोनों ही संस्थानों की ओर से कई गाइडलाइंस जारी की गई हैं।

क्या पता चला शोध में? (Loud Laughing may cause Coronavirus)

शोधकर्ताओं का कहना है कि जब कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति जोर से हंसता है तो ड्रॉपलेट्स के जरिए कोरोना वायरस बाहर निकल आते हैं और आसपास जो लोग मौजूद होते हैं उन्हें ये वायरस अपना शिकार बना सकते हैं। बता दें कि चीन के शोधकर्ताओं ने हाल ही में एक शोध में यह पाया है कि कोरोना वायरस मानव मल में कई हफ्तों तक जीवित रह सकता है। महानायक अमिताभ बच्चन की ओर से भी इस शोध के परिणामों को सोशल मीडिया में अपने प्रशंसकों से साझा किया गया है।

प्रोफेसर ने बताया

coronavirus loud laughing
jagran

एम्स के कार्डियोलॉजी विभाग के प्रोफेसर डॉ अंबुज रॉय के हवाले से मीडिया में बताया गया है कि खांसने और छींकने के दौरान ड्रॉपलेट्स के जरिए कोरोनावायरस बाहर निकलता है। ऐसे में चेहरे को हाथों से छूने से बचना श्रेयस्कर होगा। साथ ही संक्रमित व्यक्ति यदि जोर से हंस भी दे तो ऐसे में भी कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। जब कोई व्यक्ति खांसता या छींकता है तो ड्रॉपलेट्स के जरिए जो वायरस बाहर आते हैं, वे फर्श पर चिपक जाते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि फर्श और टेबल आदि की सफाई क्लींजर से या फिर साबुन से धोकर हमेशा की जाए।

इनसे भी है खतरा

कोरोना वायरस का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में होता है। इसलिए जब भी आप किसी अनजान या संदिग्ध सतह को छूते हैं तो उसके बाद आपको अपने हाथों को साबुन से धो लेना चाहिए या सैनिटाइजर से साफ कर लेना चाहिए। धूम्रपान करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता घटती है। ऐसे में कोरोना वायरस आसानी से अपना शिकार बना सकता है। उच्च रक्तचाप वाले लोगों को खाने में नमक का इस्तेमाल कम करना चाहिए।

लॉकडाउन के दौरान सामानों के रेट किए गए सरकार द्वारा निर्धारित, पालन न होने पर होगी कारवाई ! 

Facebook Comments