Quinoa Benefits in Hindi: कहते हैं कि अगर सेहत अच्छी रहे तो सब कुछ हमेशा अच्छा ही होता है और अच्छी सेहत के लिए यह बहुत ही आवश्यक है कि आप अच्छी चीजों का सेवन करें और नियमित रूप से करें। आजकल वैसे भी लोग तरह-तरह के फ़ास्टफ़ूड आदि का सेवन करते हैं जो खाने में तो बहुत ही स्वादिष्ट लगते हैं मगर उनका हमारे स्वास्थ्य पर कितना ज्यादा दुष्प्रभाव पड़ता है इसका उन्हें अंदाजा भी नहीं होता। इस बात का उन्हें तब एहसास होता है जब कुछ समय बाद आपको महसूस होता है कि आपका वजन काफी ज्यादा बढ़ चुका है और आप अब आप मोटापे के शिकार बन चुके हैं।

आज के समय में हमारे बेहद ही बेढंग हो चुके खान-पान और अव्यवस्थित रहन-सहन की वजह से हमारा वजन बढ़ जाता है और बहुत से लोग तरह-तरह के स्वास्थ्य समस्याओं से परेशान होने लगते हैं, जिसमें सबसे ज्यादा मुख्य समस्या है मोटापा। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे खाद्य पदार्थ के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका उपयोग हमारे देश में ज्यादातर लोग वजन घटाने के लिए करते हैं। असल में हम बात कर रहे हैं किनोआ की जो कि एक विदेशी अनाज है। इसमें पाए जाने वाले प्रोटीन ग्लूटेन फ्री होते हैं और फाइबर की मात्रा इसको एक सुपर फूड बनाती है।

किनोआ में होते हैं 9 तरह के एमिनो एसिड

दक्षिण अमेरिका में उगाये जाने वाले इस अनाज की पिछले कुछ समय से भारत में काफी ज्यादा डिमांड बढ़ गयी है। हालांकि, यहां पर यह आसानी से तो नहीं मिलते मगर ये भारत के कई बड़े शहरों में लोगों को मॉल या फिर सुपर मार्केट में मिल जाते हैं। कुछ ई-कॉमर्स वेब साइट्स भी हैं जो किनोआ बेच रही हैं। बताया जाता है कि दक्षिण अमेरिका में विशेषतः इसका इस्तेमाल केक बनाने के लिए किया जाता है। जैसा कि हमने आपको बताया किनोआ ग्लूटेन फ्री होता है और इसके अलावा इसमें 9 तरह के एमिनो एसिड होते हैं। साथ ही साथ इसे खाने से प्रोटीन भी ज्यादा मिलता है। आपको यह भी बता दें कि किनोआ में पोटैशियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम भी ज्यादा मात्रा में होती है, इसलिए हेल्थ कॉन्सस लोग अपनी डाइट में इसे शामिल करते हैं।

3 रंगों में मिलता है किनोआ

quinoa benefits in hindi
credihealth

किनोआ मुख्य रूप से सफेद, लाल और काले रंग के होते हैं। सफेद वाला आमतौर पर दुकानों में उपलब्ध सबसे आम प्रकार का किनोआ में से एक होता है। रेड किनोआ को पकाने के बाद भी इसका रंग नहीं बदलता और तो और और इसे सफेद किनोआ से बेहतर भी माना जाता है। इस प्रकार यह सलाद या किसी भी रेसिपी के लिए अधिक उपयुक्त है। भारत में तो लोग सिर्फ किनोआ ही खाते हैं जबकि विदेशों में इसके पत्ते का सलाद भी खाया जाता है। इसके अलावा आपको बता दें कि ब्लैक किनोआ जो कि सफेद किनोआ की तुलना में थोड़ा मीठा होता है, पकाये जाने पर भी यह अपना काला रंग बरकरार रखता है। तो चलिए जानते हैं किनोआ खाने से क्या-क्या फायदे होते हैं।

किनोआ खाने से होते हैं ये बेमिसाल फायदे

  1. बताया जाता है कि जिन लोगों का कॉलेस्ट्रोल बढ़ा होता है उनके लिए किनोआ बहुत फायदेमंद होता है। चूंकि इसमें उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है ऐसे में यह कॉलेस्ट्रोल को नियंत्रित करता है।
  2. जिन लोगों की हड्डियां कमजोर हैं उन्हें किनोआ खाना चाहिए क्योंकि ऐसा माना जाता है कि अन्य अनाज के मुकाबले ये ज्यादा फायदेमंद होता है और इससे शरीर को भरपूर कैल्शियम मिलता है।
  3. यदि आप सुबह-सुबह किनोआ  का सेवन नियमित रूप से करते हैं, तो इसे खाने से वजन भी कम होता है।
  4. बता दें कि किनोआ में टीरोसिनेज अवरोधक भी पाए जाते हैं जो एक एंजाइम होता है। यह पिगमेंटेशन और त्वचा से संबंधित समस्याओं को कम करता है और किनोआ में मौजूद विटामिन बी 3 मुंहासे का इलाज करने में मदद करता है। किनोआ विटामिन-ए का भी एक अच्छा सोर्स है। यह त्वचा की लोच को बेहतर बनाता है और मुंहासे का भी इलाज करता है।
  5. यदि शरीर में इंसुलिन का उचित उपयोग नहीं होता है तो शरीर में शर्करा की मात्रा बढ़ने के कारण शरीर में रक्त शर्करा का स्तर अधिक हो जाता है, जो मधुमेह जैसे रोगों का कारण बनता है। यदि आप किनोआ खाते हैं, तो आप अपने रक्त शर्करा को नियंत्रित कर सकते हैं।
  6. अक्सर आपने देखा होगा डाइट पर रहने वाले लोग किनोआ का सेवन अधिक करते हैं। बता दें, किनोआ चर्बी कम करने में मदद करता है। कम चर्बी हम सब की फिटनेस के लिए बहुत जरूरी है।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments