What Girls Think While Getting Married: शादी अपने आप में एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है जो लड़का और लड़की दोनों को निभानी पड़ती है। शादी के नाम से ही लड़कियों के दिमाग में एक साथ बहुत सारे सवाल आने लगते हैं और वह सोच में पड़ जाती हैं कि शादी करना जरुरी है क्या? या फिर अभी ही शादी जरूरी है क्या? शादी का नाम लेते ही ऐसे तमाम सवाल उनके मन में चलने लगते हैं। अब आपको यह भी बता दें कि लड़कियों के दिल में इस तरह के सवाल का आना तकरीबन जायज भी है। आखिर वह अपना परिवार छोड़कर किसी दूसरे परिवार का हिस्सा बनने जा रही होती हैं। शादी चाहे लव हो या अरेंज अक्सर ही लड़कियों का दिल अपने घर को छोड़ने के नाम पर थोड़ा घबरा जाता है और वह बहुत कुछ सोचने लगती हैं। यह बात हम हमेशा से सुनते आ रहे हैं कि लड़कियां पराया धन होती हैं क्योंकि वह अपना घर छोड़कर दूसरे घर का हिस्सा बनती हैं और उसे संभालती हैं।

bride

वैसे अगर देखा जाए तो लड़की एक ऐसी कड़ी है, जो किसी भी दो परिवार को जोड़ती है। लड़कियां दो परिवारों की मान मर्यादा को बनाए रखती हैं। अब चूंकि जन्म से लेकर युवावस्था तक लड़की जिस घर में रही है शादी के बाद उसी घर को छोड़कर जाना हो तो यकीनन ऐसे में उसके मन में तरह-तरह के विचार आएंगे। ऐसे में आज हम यह चाहते हैं कि आप भी इन विचारों से परिचित हों, जिससे आप अपनी बेटी और होने वाली बहु के मन की बात को अच्छे से जान सकें और उनकी मदद कर सकें। जब शादी अरेंज हो तो लड़की के मन में अपने पति को लेकर बहुत सारे सवाल होते हैं। जैसे कि उसके होने वाले पति का स्वभाव कैसा होगा और मैं उसके साथ खुश रह पाउंगी या नहीं। या फिर वो मुझे समझ पाएगा या नहीं।

दूसरी चीज जो लड़की को सोचने पर मजबूर करती है वह है ससुराल। लड़कियां ससुराल के लोगों के बारे में सोचने लगती हैं जो कि एक तरह से ठीक भी है। आमतौर पर लड़कियां ससुराल में अपनी सास, देवरानी, जेठानी, ननद के बारे में सोचने लगती हैं कि वह कैसे उन लोगों के साथ सामंजस्य बैठाएंगी। कैसे वह उन लोगों के साथ घुल मिल सकेंगी और उनको समझ पाएंगी या नहीं। इस सवाल के बाद लड़कियों को अपनी आजादी का ख्याल भी दिमाग में चलता है। शादी के बाद वह जैसे पहले रहती थी वैसे रह पाएंगी या नहीं। उन्हें अपनी मर्जी से चीजें करने का हक मिलेगा या नहीं। शादी के बाद उन्हें एक आदर्श बहू की तरह रहना पड़ेगा। न ज्यादा घूमना न नौकरी करना इस तरह के विचार अक्सर ही उन्हें घेर लेते हैं। शादी के बाद वह अपने माता-पिता के लिए भी सोचती हैं कि ससुराल में उसे अपने मां-बाप का नाम रोशन करना है। ऐसी कोई गलती नहीं करनी जिसकी वजह से उनकी बदनामी हो।

indian bride

लड़कियां अपने करियर को लेकर भी शादी से पहले सोचना शुरू कर देती हैं। उसके मन में यह सवाल उठने लगते हैं कि शादी के बाद उसके ससुराल वाले उसे नौकरी करने देंगे या नहीं। कहीं शादी के बाद उसका करियर तो खत्म नहीं हो जाएगा और अगर वह नौकरी करती है तो वह घर और दफ्तर को एक साथ कैसे मैनेज करेगी। इससे संबंधित उसे क्या प्लानिंग करनी पड़ेगी। इसके अलावा बच्चों का भी ख्याल लड़कियों को परेशान करता है और उसके दिमाग में सवाल घूमने लगते हैं कि वह बच्चों की प्लानिंग कैसे करेंगी या फिर शादी के कितने साल बाद मां बनना पसंद करेंगी। इसके अलावा, शादी में वह अच्छा दिखना चाहती हैं तो उससे संबंधित भी विचार उनके मन में आने लगते हैं। जैसे कि वह अपनी शादी पर क्या पहनेंगी और शादी में किससे मेकअप करवाएंगी। यह कुछ ऐसे सवाल हैं जो अक्सर शादी फिक्स हो जाने पर लड़कियों को परेशान करते हैं।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments