Licypriya Kangujam: मणिपुर की सात साल की बच्ची लिसेप्रिया कंगुजम भारत को गौरवान्वित करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। लिसेप्रिया कंगुजम स्विट्जरलैंड (Switzerland) के जिनेवा (Geneva) में संयुक्त राष्ट्र को संबोधित करने जा रही है। लिसेप्रिया अभी दूसरी कक्ष्या की छात्रा है। यह 13 से 17 अप्रैल को आयोजित होने वाले छठे सत्र के आपदा जोखिम न्यूनीकरण 2019 (Global Platform for Disaster Risk Reduction 2019) में बोलेंगी। कार्यक्रम का विषय “रेजिलिएंट डिविडेंड: टुवर्ड्स सस्टेनेबल एंड इनक्लूसिव सोसाइटीज” है। लिसेप्रिया इस कार्यक्रम में सबसे कम उम्र की प्रतिभागी होगी जो संयुक्त राष्ट्र कार्यालय द्वारा आयोजित आपदा जोखिम न्यूनीकरण (यूएनआईएसटी) का हिस्सा बनेंगी।

Global Platform for Disaster Risk Reduction 2019-Licypriya Kangujam
Indiatimes

लिसेप्रिया कंगुजम एशिया के सभी बच्चों और युवाओं का प्रतिनिधित्व करेंगी। यह अभी अंतर्राष्ट्रीय युवा समिति (IYC) में बाल आपदा जोखिम न्यूनीकरण अधिवक्ता (Child Disaster Risks Reduction Advocate) के रूप में काम कर रही हैं। इस राष्ट्र ग्लोबल प्लेटफ़ॉर्म 2019 में 140 देशों के प्रतिभागियों और विभिन्न सरकारी, गैर-सरकारी, रेडक्रॉस की राष्ट्रीय समितियों, अकादमियों, बच्चों और युवा संगठनों और अन्य लोगों के 3000 से अधिक प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

Licypriya Kangujam
Guwahati Times

लिसेप्रिया ने एक इंटरव्यू में कहा था कि “मुझे डर लगता है जब मैं टेलीविजन पर भूकंप, बाढ़ और सुनामी के कारण लोगों को पीड़ित और मरते हुए देखती हूं। जब मैं देखती हूं कि बच्चे अपने माता-पिता को खोते हैं या लोग आपदाओं के खतरों के कारण बेघर हो जाते हैं तो मुझे रोना आता है। मैं सभी से आग्रह करती हूं कि सब मदद करें, दिमाग और जुनून के साथ हम सभी के लिए एक बेहतर दुनिया बनाएं।”

इससे पहले 2018 में, लिसेप्रिया को मंगोलियाई राजधानी उलानबटार में आपदा जोखिम न्यूनीकरण पर 2018 एशियाई मंत्रिस्तरीय सम्मेलन में आमंत्रित किया गया था। इन्होने भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए आठ से अधिक देशों की यात्रा की है।

यह भी पढ़े: लेफ्टिनेंट गरिमा यादव: पूर्व सौंदर्य प्रतियोगिता विजेता भारतीय सेना में बनी अफसर। (Lieutenant Garima Yadav)

Facebook Comments