राजधानी दिल्ली में सारा सच मीडिया समूह द्वारा आयोजित “सारा सच सम्मान 2018” सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। सम्मान समारोह नई दिल्ली के ग़ालिब अकादमी में सम्पन्न हुआ। आपको बता दें कि सारा सच द्वारा यह सम्मान समारोह उन क्रिएटिव कम्पनी, एनजीओ और क्रिएटिव ग्रुप्स को दिया गया जो युवा हुनर को एक सम्मानित मंच मुहैया कराने की दिशा में कार्यरत है।

सारा सच सम्मान 2018

हिंदी हाउस को बेस्ट टीम विर्क फ़ॉर क्रिएटिविटी अवार्ड 2018 से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मंच संचालन कर रहीं अनिता सिंह के द्वारा हुई। अवॉर्ड वितरण बहु-प्रतिष्टित कवयित्री नमिता नमन एवम मानवाधिकार एसोसिएशन दिल्ली की अध्यक्ष शबनम खान के द्वारा किया गया। हिंदी हाउस को यह अवार्ड हिंदी हाउस द्वारा युवा हुनर को एक मंच प्रदान कराने की दिशा में कार्यों के लिए दिया गया है। साथ ही, हिंदी हाउस द्वारा समाज को लेखन के माध्यम से एक सकारात्मक दिशा देते हुए “स्टॉप दि एसिड अटैक ” और “सोच बदलो “, “स्टॉप रेप ” जैसे सराहनीय मुहिम चलाने के लिए दिया गया।

सारा सच सम्मान 2018

 

हिंदी हाउस के फाउंडर विकाश सक्सेना और को-फाउंडर सौरभ श्रीवास्तव ने बताया कि समाज को सकारात्मक संदेश देते हुई हिंदी हाउस द्वारा चलाई जा रही इन मूहिमों के माध्यम से देश के विभिन्न शहरों राजयों से कई रचनाकार, कलाकार हिंदी हाउस के साथ जुड़े है और अपने विकगार भी साझा किए हैं। रचनाकारों को हिंदी हाउस के द्वारा चलाई जा रही इन मूहिमों को देश के कलमकारो ने काफी सराहा है।

सम्मान समारोह में रूपेंद्र सिंह, अनीता सिंह, मोहम्मद अत्यब, शाश्वत सिंह, रंजीत ठाकुर, निधि मेहरा उपस्थित रहे। हिंदी हाउस के टीम ने बताया कि वह अवार्ड पाकर बेहद उत्साहित और खुश हैं और यह जीत है या यूं कहें सफल परिणाम है हिंदी हाउस के उन सभी कलाकारों, कलमकारों और अतिथियों का जिहोंने हिंदी हाउस के साथ अपने विचारों का साझा किया। आगे भी सभी प्यारे साथी इसी प्रकार साथ बने रहें।

यह भी पढ़े: गीता गोपीनाथ बनीं अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) की पहली महिला चीफ इकोनॉमिस्ट

Facebook Comments