Shivangi First Woman Pilot Indian Navy: हर शख्स चाहता है कि वो एक सफल इंसान बने, पूरी दुनिया में उसका नाम हो और वो एक सफल इंसान के रूप में जाना जाए। सपना देखना और उसे पूरा करना हर किसी की चाह होती है, लेकिन अपने सपने को पूरा करना बहुत कम लोग ही कर पाते हैं, क्योंकि सफलता को पाने के लिए आपको असफलता और कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

Shivangi First Woman Pilot Indian Navy
Punjabkesari

हर सफल इंसान के पीछे एक कहानी होती है। उसके मन का विश्वास और दृढ़ निश्चय ही उसे एक सफल इंसान बना पाता है। आज हम आपको एक ऐसी ही लड़की की कहानी के बारे में बताएंगे जिसने अपने सपनों को पूरा किया उन्हें उड़ान दी। लड़कियां लड़कों से कम नहीं होती है इस कहावत को उस लड़की ने पूरा कर दिखाया है। आज हम बात करेंगे भारत के बिहार राज्य नें रहने वाली शिवांगी की। जी हां, शिवांगी ने अपने सपनों को पूरा कर अपने मां-बाप का नाम रौशन किया है।

बता दें कि बिहार राज्य की शिवांगी ने अपनी कड़ी मेहनत के बल पर भारतीय नौसेना की पहली महिला पायलट बनी हैं। शिवांगी को नौसेना में सब लेफ्टिनेंट का दर्जा मिला है। 2 दिसंबर 2019, सोमवार को हुए पासिंग आउट परेड के बाद शिवांगी ने अपनी जिम्मेदारी संभाली है। फिलहाल शिवांगी इन दिनों कोच्चि नेवल बेस में ऑपरेशनल ड्यूटी ज्वॉइन कर चुकी हैं।

माता-पिता को है गर्व

Shivangi First Woman Pilot
Newstrend

एक बच्चे का जब जन्म होता है तब उसे उसके माता-पिता के नाम से जाना जाता है। समाज में उसे उन्हीं के नाम से पहचान मिलती है। लेकिन जब किसी मां-बाप की पहचान उनके बच्चों से होती है तो उसकी खुशी का तो कोई ठिकाना नहीं रहता। बता दें कि शिवांगी की इस उपलब्धि से उसके माता-पिता काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

शिवांगी के पिता हरिभूषण सिंह पेशे से शिक्षक हैं। अपनी बेटी की इस कामयाबी पर वो कहते हैं कि, “हम साधारण परिवार से आते हैं, फिर भी हमारी बेटी ने बहुत बड़ी ऊंचाई हासिल कर ली है। मैं तो दुनिया के हर माता पिता को कहता हूं कि चाहे बेटा हो या बेटी अपने बच्चों को सपोर्ट करें। जैसे आज मैं गर्व कर रहा हूं वैसे एक दिन आपको भी होगा। वहीं शिवांगी की मां का कहना है कि, “मैंने कभी शिवांगी को हार नहीं मानने दिया, हमेशा उसके साथ थी और उसका हौसला बढ़ाया”।

उड़ना ही था मेरा सपना

Shivangi First Woman Pilot
Newstrend

शिवांगी बिहार राज्य के मुजफ्फरपुर नगर से आती हैं। शिवांगी ने कक्षा 12वीं तक की पढ़ाई डीएवी-बखरी से पूरी की, जिसके बाद उन्होंने सिक्किम मणिपाल इंस्टिच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से बीटेक की डिग्री प्राप्त की। वह अपने इस दिन को हमेशा याद रखना चाहती हैं और कहती हैं कि, “यह मेरे लिए अद्भुत दिन है, हमेशा से इसी का सपना देखा जिसको आज हकीकत के रूप में देख रही हूं”।

इस वजह से लिया फैसला

Shivangi
Economictimes

शिवांगी जब बीटेक कर रही थीं तब उनके कॉलेज में एक नेवी ऑफिसर पहुंचे थे, उन्हें देखकर शिवांगी बहुत ज्यादा प्रेरित हुईं और तभी उन्होंने फैसला लिया कि वह भी नौसेना में शामिल होंगी। बता दें, शिवांगी नौसेना में फिक्स्ड विंग डोर्नियर सर्विलांस विमान को उड़ान देंगी। आज शिवांगी ने अपने इस सपने को पूरा कर दिखाया है।

Shivangi First Woman Pilot
Manoramaonline

शिवांगी की इस कामयाबी से सिर्फ उनके माता-पिता और परिवार वाले ही नहीं बल्कि पूरा राज्य और उनके शहर मुजफ्फरपुर के लोग भी काफी खुश हैं। सभी को इस बात का गर्व है कि उनके प्रदेश की बेटी ने उनका नाम रौशन किया है। शिवांगी को मिली इस सफलता से सभी को प्रेरणा मिलती है और लड़कियां किसी भी मामले में लड़कों से कम नहीं हैं इस बात का सबूत भी शिवांगी की सफलता देती। 

Facebook Comments