Holy Spirit Wakes you Up: किसी भी इंसान के जीवन में जितना जरूरी उसका काम होता है उतनी ही जरूरी उसकी नींद भी होती है। जी हां, हम बात कर रहे हैं नींद की जिसकी आवश्यकता हर जीवित प्राणी को होती है। ऐसा कहना कहीं से भी गलत नहीं होगा कि हम सभी को अपनी रात की नींद बेहद ही प्‍यारी होती है और हो भी क्‍यों न भला व्‍यक्ति दिनभर की थकान व भागदौड़ के बाद अगर रात को अच्‍छी नींद न ले तो वह अगले दिन फ्रेश मूड के साथ काम नहीं कर पायेगा। शायद यही कारण है कि हर व्‍यक्ति अपनी रात की नींद अच्‍छी चाहता है।.

लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें अचानक नींद खुलने या देर रात तक नींद ना आने की समस्या होती है। बता दें, जिस किसी के साथ भी इस तरह की समस्या होती है वह काफी परेशान रहने लगते हैं। हालांकि, यह कोई बहुत गंभीर समस्या नहीं है और इसकी वजह से आपको घबराने की जरूरत भी नहीं है। दरअसल, रात को अचानक नींद खुलने और नींद न आने के पीछे कुछ कारण होते हैं और कभी-कभी इनकी वजह से भी नींद पूरी नहीं हो पाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस प्रकार की समस्या आमतौर पर हमारी दिनचर्या की वजह से होती है। जैसे रात में सोते वक्त अचानक नींद खुल जाना, तरह-तरह के स्वप्न आना आदि, ये सब संकेत देता है कि आप मानसिक तनाव में हैं। हालांकि, इसके कई तरह के अच्छे और बुरे संकेत भी हो सकते हैं, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

9 बजे से 11 बजे के बीच नींद नहीं आना

holy spirit wakes you up

सबसे पहले तो हम आपको यह बता दें कि ना सिर्फ शास्त्रों में बल्कि हमारे बड़े बुजुर्ग भी कहा करते हैं कि रात में जल्दी सोना चाहिए और ऐसे में रात के 9 से 11 बजे का समय सोने के लिए सबसे उचित बताया जाता है। लेकिन अगर आपको लाख प्रयास करने के बाद भी रात में 9 से 11 के बीच नींद आती है तो समझ जाइए कि आप किसी तरह के मानसिक तनाव में हैं। कई सारी चिंताएं आपको जकड़ी हुई हैं। ऐसे में आपको इस समस्या से निजात पाने के लिए किसी तरह की दवा या फिर किसी डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि आपको अपने दिनभर के समय से थोड़ा वक़्त निकाल कर योगा या फिर मेडिटेशन करना शुरू कर देना चाहिए। इससे ना सिर्फ आपको खुशी का एहसास होता है बल्कि आपका मन भी शांत रहता है और नींद भी समय से आती है।

रात के 11 बजे से 1 बजे के बीच नींद खुलना

आपको यह भी बता दें कि कई बार ऐसा भी होता है जब आप सो चुके होते हैं मगर एकाएक ही आपकी नींद रात में 11 से 1 के बीच खुल जाती है, तो इसका एक ही मतलब है कि आप किसी ना किसी तरह के इमोशन से बंधे हुए हैं और उससे जुड़ी बातें आपको सोने नहीं दे रही। ऐसी स्थिति से बाहर निकलने के लिए आपको पवित्र मंत्रो का जाप शुरू करना होगा, साथ ही साथ आपको खुद को सौम्य बनाना होगा और दूसरों की छोटी-मोटी गलतियों को माफ करने जैसी आदत डालनी होगी।

रात में 1 से 3 बजे के के बीच नींद का खुलना

इसके अलावा आपको बता दें कि यदि मध्य रात्री का समय यानी की तकरीबन 1 बजे से 3 बजे के बीच आपकी नींद खुलती है, तो ऐसा माना जाता है कि आपको लीवर से सबंधित किसी तरह की परेशानी है। ऐसे में यह आवश्यक है कि रात को सोने से पहले और इस समय के बीच आपकी नींद खुलने पर ठंडा पानी पिएं।

रात में 3 से 5 बजे के बीच नींद का खुलना

holy spirit wakes you upअगर आपकी नींद रात में 3 से 5 बजे के बीच में हमेशा ही खुल जाया करती है, तो यह इस बात का संकेत होता है कि किसी तरह की कोई नकारात्मक शक्ति आपसे जुड़ना चाहती है। यह एनर्जी आपको हमेशा जागरूक रहने का संकेत देती है। असल में ऐसा माना जाता है कि इस समय नींद का ना लगना आपके दुखी मन की ओर इशारा करता है साथ ही साथ इससे इसका भी अनुमान लगता है कि आपको लंग्स से संबंधित किसी तरह की समस्या भी है। ऐसे में आपको इस समस्या से निजात पाने के लिए ब्रीदिंग रिलेटेड एक्सरसाइज शुरू कर देनी चाहिए जिससे आपको काफी राहत मिलेगी।

 

सुबह में 5 से 7 बजे के बीच नींद का खुलना

सोने का सबसे आखिरी पड़ाव जिसे हम सुबह के 5 से 7 बजे के बीच का समय मानते हैं, अगर इस दौरान आपकी नींद खुलती है तो बता दें यह साफ दर्शाता है कि आपका हृदय और मन काफी ज्यादा मार्मिक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस समय आपकी एनर्जी का फ्लो बहुत अधिक होता है। इस समय आप सबसे ज्यादा एक्टिव हो सकते हैं। इससे उबरने के लिए आप कुछ स्ट्रेचिंग की कसरत कर सकते हैं।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments