Veer Alija Hanuman Temple श्री वीर अलीजा हनुमान जी का मंदिर मध्य प्रदेश के इंदौर में स्थित है। वीर अलीजा हनुमान मंदिर में मंगलवार को नारियल, मोगरे एवं स्वर्ण आभूषणों से भगवान का शृंगार किया जाता है । वीर अलीजा हनुमान के इस शृंगारित रूप को देखने के लिए हजारों भक्तों की भीड़ अलसुबह से ही वीर बगीची में लग जाती है। और शाम को  महाआरती में हजारों भक्त शामिल होकर वीर अलीजा हनुमान के दर्शन एवं प्रसाद ग्रहण करते हैं। यहां हनुमानजी को चोला चढ़ाने के लिए भक्तों को बुकिंग करवानी पड़ती है, इसके बाद ही सालों बाद नंबर आता है।

श्री वीर अलीजा हनुमान जी का मंदिर 700 साल पुराना है (Veer Alija Hanuman Temple)

इंदौर के पंचकुइया क्षेत्र में श्री वीर अलीजा हनुमान मंदिर में चोला चढ़ाने के लिए 2021 तक की बुकिंग पूरी हो चुकी है। यह अनुष्ठान सुबह-सुबह भक्त की मौजूदगी में पुजारी करते हैं।

Veer Alija Hanuman Temple
गर्व से कहिये हम बिहारी हैं

मंदिर के पुजारी बाल ब्रह्मचारी पवनानंद महाराज ने बताया कि मंदिर करीब 700 साल पुराना है। भगवान यहां वीर स्वरूप में हैं। भगवान की स्वयंभू प्रतिमा है। उनके दोनों हाथ में गदा है। भगवान की प्रतिमा पाषाण की है। इसकी ऊंचाई 5 फीट और चौड़ाई 3 फीट है।

बुकिंग के बाद भक्त को एक रसीद दी जाती है, जिसमें उसकी ओर से चोला चढ़ाने की तारीख अंकित होती है। चोला चढ़ाए जाने की तारीख के एक दिन पहले भक्त को मंदिर की तरफ से फोन कर सूचना दी जाती है, जिसके बाद भक्त उस दिन पहुंचकर इसमें शामिल होता है, अगर किसी कारण से नहीं आ पाता है तो भी उसकी ओर से चोला चढ़ा दिया जाता है।

इसमें आधा किलो सिंदूर, 200 ग्राम तेल, 200 चांदी का वर्क और इत्र की बोतल का उपयोग होता है। पुजारी के अनुसार, भगवान को चोला चढ़ाने के लिए मंदिर में पंडित से संपर्क करना होता है। इसके लिए 1500 रुपए की रसीद काटी जाती है।

Veer Alija Hanuman Temple
Google News

आमतौर पर भगवान शिव को भांग का प्रसाद चढ़ाया जाता है, लेकिन श्री वीर अलीजा मंदिर में हनुमानजी को रोज आधा किलो भांग का भोग भी लगाया जाता है। शायद ये भारत का एकमात्र मंदिर है जहां हनुमानजी को भांग का भोग लगाने की परंपरा है।

Facebook Comments