GS Lakshmi will be first Women to officate Men’s ODI: भारत की एक और महिला ने देश को गौरवान्वित होने का मौका प्रदान किया है। और ये महिला हैं जीएस लक्ष्मी (G S Lakshmi)। जो अब आईसीसी के पुरुष वनडे क्रिकेट में पहली महिला मैच रेफ़री होंगी। अब जीएस लक्ष्मी आठ दिसंबर से शुरू होने जा रहे तीसरे आईसीसी पुरुष क्रिकेट वर्ल्ड कप लीग 2 के दौरान बतौर रेफरी मैदान में नज़र आएंगी। ये मैच यूएई और अमरीका के बीच शारजाह में खेला जाएगा।  आईसीसी पुरुष क्रिकेट वर्ल्ड कप लीग 2 इसी साल अगस्त में शुरू हुई थी और ये जनवरी 2022 तक चलेगी। इस दौरान लीग में कुल 126 मैच खेले जाएंगे।

पहली बार 2008-09 में रेफरी बनी थीं जीएस लक्ष्मी (GS Lakshmi Referee )

GS Lakshmi will be first Women to officate Men's ODI
The Week

आपको बता दें कि पुरूषों के इंटरनेशनल वनडे में पहली महिला मैच रेफरी बनने के बाद जीएस लक्ष्मी की ये दूसरी बड़ी उपलब्धि है। वहीं अगर लक्ष्मी के सफर की बात करें तो

51 वर्षीय लक्ष्मी 2008-09 के घरेलू महिला क्रिकेट में पहली बार मैच रेफ़री बनी थीं। जिसके बाद उनका ये सफर जारी रहा। आलम ये है कि अब तक लक्ष्मी महिलाओं के तीन अंतरराष्ट्रीय वनडे मैचों, महिलाओं के सात टी20 इंटरनेशनल और पुरुषों के सोलह टी20 इंटरनेशनल में बतौर मैच रेफ़री मैदान में नज़र आ चुकी हैं।

क्रिकेटर बनना नहीं था सपना

GS Lakshmi will be first Women to officate Men's ODI
xtratime

भले ही आज आईसीसी क्रिकेट में जीएस लक्ष्मी ने एक अलग मुकाम हासिल कर लिया हो लेकिन क्या आप जानते हैं कि जीएस लक्ष्मी ने कभी क्रिकेटर बनने के बारे में सोचा भी नहीं था। एक बार इंटरव्यू में लक्ष्मी ने बताया था कि पढ़ाई के बल पर कॉलेज में एडमिशन न पाने के चलते उन्हे क्रिकेट के दम पर कॉलेज में एडमिशन मिल गया। जिसके बाद उन्होने क्रिकेट को ही करियर बना लिया। लेकिन उससे पहले क्रिकेट उनकी लिस्ट में नहीं था। लेकिन बाद में उन्होने 18 सालों तक घरेलू क्रिकेट खेला और फिर क्रिकेट की कोचिंग दी। इसके बाद ही इन्हे राज्य स्तरीय टीम की सेलेक्टर बनने का मौका मिला। इसी दौरान बीसीसीआई महिलाओं को मैच अधिकारी के रूप में क्रिकेट से जोड़ने का नया प्रस्ताव लेकर आई। और लक्ष्मी उन्ही शुरूआती पांच सदस्यों में से थीं जिन्हें बीसीसीआई की तरफ से चुना गया।

भारतीय टीम के लिए खेलने का नहीं मिला मौका

क्रिकेट के अधिकारी स्तर पर पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर जीएस लक्ष्मी बतौर तेज़ गेंदबाज़ वे रेलवे के लिए तो खेलीं लेकिन उन्हे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए खेलने का मौका कभी नहीं मिला। 2004 में उन्होने क्रिकेट से रिटायरमेंट ले ली और क्रिकेट की कोचिंग देनी शुरू कर दी। इस दौरान वो 10 सालों तक साउथ सेंट्रल रेलवे की कोच रहीं.

आईसीसी वर्ल्ड कप क्वालिफायर के लिए चुनी जाएंगी तीन शीर्ष टीमें

GS Lakshmi will be first Women to officate Men's ODI
BBC

आपको बता दें कि फिलहाल उन्हे जिस लीग में रेफरी की जिम्मेदारी सौंपी गई है इस लीग में शीर्ष तीन टीमें चुनी जाएंगी जो आईसीसी पुरुष क्रिकेट वर्ल्ड कप क्वालिफायर 2022 में हिस्सा लेंगी। और क्वालिफायर में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली टीम को ही भारत में 2023 में खेले जाने वाले विश्व कप के लिए चुना जाएगा।

Facebook Comments