Google Launch New Update for Chrome Users: अपने यूज़र्स को ज्यादा सिक्योरिटी देने के लिए गूगल (Google) ने अपने नए क्रोम (Chrome) वर्ज़न 79 को पेश कर दिया है। इससे यूज़र्स के पासवर्ड चोरी होने का ख़तरा कई गुना कम हो जाएगा। क्योंकि इस क्रोम में पहले से कहीं बेहतर सेफ्टी फीचर देखने को मिलेंगे। अगर आपका पासवर्ड या डाटा चोरी करने की कोशिश कोई करता है या कर लेता है तो इस वर्जन के जरिए इसके चोरी होने की जानकारी यूजर्स तक तुरंत ही पहुंच जाएगी। जिससे यूज़र्स अलर्ट हो जाएंगे और अपनी निजी जानकारी को लीक होने से आप बचा सकते हैं।

इस बारे में सुंदर पिचाई ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘अगर आपका यूजरनेम और पासवर्ड कॉम्प्रोमाइज्ड है और आप किसी वेबसाइट में इसे एंटर कर रहे हैं तो गूगल क्रोम आपको आगाह करेगा. इसे यूजर की ऑनलाइन सेफ्टी में मदद करने के लिए लाया जा रहा है’

फिशिंग प्रोटेक्शन को भी किया जा रहा है इंप्रूव

इस नए क्रोम के ज़रिए रियल टाइम फिशिंग प्रोटेक्शन को भी इंप्रूव किया जा रहा है। इससे ये होगा कि अगर आप किसी मैलिशियस साइट पर विजिट करते हैं तो यूजर्स को डेस्कटॉप पर अलर्ट मिल जाएगा। फिलहाल ये फीचर उन सभी यूजर्स के लिए जारी किया जा रहा है जिन्होंने क्रोम के सेफ ब्राउजिंग प्रोटेक्शन्स के तहत साइन इन किया है। गूगल ने इस टेक्नॉलजी को सबसे पहले पासवर्ड चेकअप एक्स्टेंशन के तौर पर लॉन्च किया था। अब इसी फीचर का विस्तार करते हुए कंपनी ने इसे गूगल क्रोम में पासवर्ड प्रोटेक्शन ले लिए पेश किया है। गूगल की माने तो अनसेफ वेबसाइट की लिस्ट हर 30 मिनट पर रिफ्रेश की जाती है और दावा किया गया है कि हर दिन 4 अरब डिवाइस को अलग अलग तरह के सिक्योरिटी थ्रेट से बचाती है जिसमें फिशिंग भी शामिल है।

हैकर्स गूगल क्रोम को भी हैक करने की फिराक में

आपको बता दें कि हैकर्स लंबे समय से गूगल क्रोम को हैक करने की कोशिश करते आ रहे हैं। इसके साथ ही हैकर्स क्रोम की मेमरी के डाटा को करप्ट और मोडिफाई भी कर सकते हैं।

Facebook Comments