Google Maps Stay Safer Feature: महिला सुरक्षा का मुद्दा आज बहुत बड़ा है। ऐसे में ज़रूरत है महिलाओं को अलर्ट और सावधान रहने की। आज टेक्नोलॉजी के ज़रिए ये संभव है कि महिलाएं सुरक्षित रह भी सकती हैं और दूसरों को सिक्योर कर भी सकती हैं। इसके लिए ज़रूरत है थोड़ा जागरूक रहने की और टेक्नोलॉजी को समझने की। ऐसा ही एक नया फीचर है गूगल मैप्स का स्टे सेफर (Stay Safer)। आइए आपको बताते हैं कि इस फीचर को आप कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

गूगल मैप के स्टे सेफर फीचर का ये है काम

गूगल मैप्स में स्टे सेफर फीचर का काम अपने यूज़र्स की यात्रा को और अधिक सुरक्षित बनाना है।  खासतौर से जब आप किसी पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे टेक्सी या ऑटों में सफर करते हैं तो ये फीचर आपके लिए काम का साबित हो सकता है। क्योंकि जैसे ही आपका हायर किया ट्रांसपोर्ट अपने रूट से अलग जाता है तो ये आपको अलर्ट कर देता है जिससे आप समय रहते ही सतर्क हो जाते हैं।

स्टे सेफर फीचर का ऐसे करें इस्तेमाल (How to Use Google Maps Stay Safer)

google maps stay safer  feature
gadgets now

अगर आप भी गूगल मैप्स (Google Maps) के स्टे सेफर फीचर का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपके स्मार्टफोन में गूगल मैप्स का लेटेस्ट वर्जन होना अनिवार्य है। वहीं इंटरनेट कनेक्टिविटी व फोन एंड्रायड होना चाहिए। इसके बाद आप नीचे लिखे तरीके से इसे इस्तेमाल कर सकते हैं-

  1. सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में गूगल मैप्स ऐप को खोलें।
  2. इसके बाद ऊपर सर्च बार में गंतव्य स्थान डालें।
  3. गंतव्य स्थान डालने के बाद आपको नीचे की ओर कुछ विकल्प दिखाई देंगे, यहां आपको स्टे सेफर फीचर मिलेगा।
  4. स्टे सेफर फीचर विकल्प का चयन करते ही आपके सामने दो विकल्प आ जाएंगे।
  5. इसमें से पहला विकल्प- शेयर लाइव ट्रिप और दूसरा Get Off Route Alerts है।
  6. आप सुविधा अनुसार, किसी भी विकल्प का चयन कर सकते हैं।

सबसे पहले बात करेंगे शेयर लाइव ट्रिप फीचर की। अगर आप इस फीचर को चुनते हैं तो आपको कॉन्टैक्ट लिस्ट के साथ शेयरिंग विकल्प भी मिलता है ताकि आप अपने कॉन्टैक्ट के साथ अपनी ट्रिप को शेयर कर सकें। यानि अपने कॉन्टैक्स में से आप जिसे भी चुनेंगे, आपकी ट्रिप की जानकारी उन्हे पूरी तरह होती रहेगी।

वहीं अगर आप गेट ऑफ रूट अलर्ट को चुनते हैं तो आपको आपकी टेक्सी या राइड 500 मीटर रूट से अलग जाते ही अलर्ट मिल जाएगा।

Facebook Comments