Change the TV Channel by Speaking in Hindi: टेक्नोलॉजी के दौर में कुछ प्रयोग टीवी के साथ भी किए गए जिसका नतीजा ये रहा कि आज टीवी का रंग रूप आकार सब कुछ बदल चुका है। 15 से 20 साल पुराने टीवी की शक्ल याद कीजिए। कोई चोकोर डिब्बा ही तो था टीवी लेकिन समय बदला और समय के साथ बदल गया हमारा टेलीविज़न…जो आज बेहद स्मार्ट हो गया है। टेलीविज़न एलसीडी (LCD) या एलईडी (LED) स्क्रीन वाला हो गया है तो रिमोट की जगह अब ले ली है ओटोमेटिक वॉयस कमांड ने। वहीं अब एक कदम आगे बढ़ते हुए स्मार्ट टीवी का पॉपुलर ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉयड टीवी से अब हिंदी भाषा को भी जोड़ दिया गया है जिसका मतलब ये है कि अब आप एंड्रॉयड टीवी (Android TV) में हिंदी में बोलकर चैनल चेंज कर सकेंगे। इसके अलावा वियतनामी भाषा को भी जोड़ दिया गया है। लेकिन ध्यान रखें कि दोनों भाषाओं का सपोर्ट सिर्फ एंड्रॉयड टीवी पर बेस्ड स्मार्ट टीवी में ही मिलेगा यानी किसी अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलने वाली स्मार्ट टीवी में यह सुविधा फिलहाल नहीं मिलेगी।

पहले केवल स्मार्टफोन में ही था ये फीचर

आपको बता दें कि पहले ये फीचर केवल स्मार्टफोन तक ही सीमित था लेकिन अब गूगल ने स्मार्ट टीवी में मिलने वाले वॉयस कमांड फीचर ‘गूगल असिस्टेंट’ में दो नई भाषा हिंदी और वियतनामी को भी जोड़ दिया है। वहीं इसमें पहले से ही अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन, इंडोनेशियाई, इटालियन, जापानी, कोरियाई, पुर्तगाली (ब्राजील) और स्पेनिश जैसी भाषाएं ऐड हैं।इस समय एंड्रॉयड टीवी ओएस से लैस सोनी, टीसीएल, वीयू, मोटोरोला जैसे कई बड़ी कंपनियों के स्मार्ट टीवी भारतीय बाजार में मौजूद है।

समय के साथ एंड्रॉयड टीवी हो रहा है पॉपुलर

आपको बता दें कि समय के साथ -साथ भारत में एंड्रॉयड टीवी ज्यादा पॉपुलर होता जा रहा है। क्योंकि इससे कई सारी स्ट्रीमिंग सर्विस ऐप्स का सपोर्ट तो मिलता ही है साथ ही दूसरे डिवाइस भी इसमें चलाए जा सकते हैं। इसमें एंड्रॉयड टीवी डिवाइस कनेक्ट किए जा सकते हैं जो बिल्ट-इन क्रोमकास्ट से लैस होते हैं। वहीं हिंदी भाषा का सपोर्ट मिलने से अब यह भारत में और ज्यादा पॉपुलर होगी इसमें कोई दो राय नहीं है।

Facebook Comments