हम जब भी गर्मी की छुट्टी का प्लान करते है तो सबसे पहले कुलु मनाली, नैनीताल, लेह, शिमला आदि जगहों का ख्याल मन में आता है इन जगहों को लगभग हर कोई देख चूका है आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहेजहां आपको भीड़ भी कम मिलेगी और देखने में भी मजा आएगा इस जगह का नाम कोटागिरी हिल है यदि आप एडवेंचर लवर है तो आपको ये जगह बहुत ज्यादा पसंद आएगी 

कोटागिरी हिल नीलगिरि जिले में स्थित है इसे कुन्नूर और ऊटी की श्रेणी में रखा गया है इसकी समुंद्र तल से 1793 मीटर की उचाई है कोटागिरी का मतलब है कोटा के पहाड़ कोटागिरी में शिल्पियों की एक जाति सदियों से निवास करती है लेकिन अभी उनकी संख्या पिछले वर्षो से कम होती जा रही हैयदि आप ट्रैकिंग करने के शौकीन है तो यह आपके के लिए एक बेहतरीन जगह है यहां की कुछ लोकप्रिय ट्रैकिंग मार्ग – सेंट कैथरीन फाल्स मार्ग, कोटागिरी- कोडानाड मार्ग तथा कोटागिरी- लांगवुड शोला मार्ग आदि है 

यदि आप कोटागिरी हिल घूमने जाते है तो इन स्थानों पर घूमना न भूले, जैसे व्यू पौइंट, कैथरीन फौल्स, लौन्गवुड शोला, जान सुलिवन मेमोरियल, नीलगिरीस संग्रहालय, नेहरू पार्क, स्नोडेन चोटी व्यू पौइंट से आपको एशिया का सबसे बड़ा मिट्टी से बना बांध देखने को मिलेगा 

कोटागिरी हिल की खूबसूरत जगह (Kotagiri Hills Tourist Places)

कैथरीन फॉल्स: यह एक खूबसूरत वॉटरफॉल है इसकी उचाई 250 फिट है अगर आप इसको करीब से देखना चाहते है तो आपको व्यूइंग पैवेलियन जाना पड़ेगा बारिश के मौसम में ये झरना और भी खूबसूरत नज़र आता है

Kotagiri Hills Tourist Places
Royal Leisure Tours

रंगास्वामी पीक: इस स्थान को हाइकिंग ट्रेल के नाम से जाना जाता है यह पर ट्रैकिंग करने के बहुत ही अच्छे ऑप्शन है

कोटागिरी कैसे जाये

यदि आप एयरप्लेन से जाना चाहते है तो कोटागिरी के सबसे नजदीक कोयंबटूर एयरपोर्ट लगता है यहां से कोटागिरी हिल मात्र 47 किलोमीटर ही दूर है अगर आप ट्रैन से यात्रा करना चाहते है तो सबसे करीबी रेलवे स्टेशन कुन्नूर है यहां कोटागिरी हिल मात्र 29 किलोमीटर दूर है इसके अलावा आप लोग ऊटी से कोटागिरी जा सकते है

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया तो अपने दोस्तों और रिस्तेदारो के साथ जरूर शेयर करे ताकि वो भी अपने गर्मियों का प्लान में इस खूबसूरत जगह को शामिल कर सके

 

Facebook Comments