Himalayan Viagra: वैसे तो दुनिया में सोना, हीरे-जवाहरात समेत कई बेशकीमती चीज़े मिलती हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि चीन में विशेष प्रकार के कीड़े की प्रजाति 20 लाख रुपए प्रति किलो बिकती है।

दरअसल यह दुनिया का सबसे महंगा फंगस या यूं कहें कि कीड़ा है जो बाजार में करीब 20 लाख रुपए प्रति किलो की दर से बिकता है। लेकिन मौजूदा वक्त में उसका कोई खरीदार नहीं जिससे वजह कोई और नहीं बल्कि दुनिया में कोरोना महामारी फैलाने वाला देश चीन ही है।
आलम यह है कि अब इसे कोई एक लाख रुपए प्रति किलो की दर से भी खरीदने नहीं आ रहा है। जबकि, इस कीड़े की सबसे ज्यादा आवश्यकता चीन को ही पड़ती है।

दरअसल आजतक की वेबसाइट पर छपी खबर अनुसार भारत के साथ सीमा विवाद और कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी की वजह से इस बार कीड़े का कारोबार पूरी तरह ठप्प पड़ गया है। इतना ही नहीं इसे अंतरराष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ IUCN (International Union for Conservation of Nature) ने खतरे की सूची यानी रेड लिस्ट में डाल दिया है।

क्या करता है IUCN

Use of Himalayan Viagra IUCN
Image Source – Iucn.org

दरअसल अंतरराष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ विश्व-स्तर पर विभिन्न जातियों की संरक्षण-स्थिति पर निगरानी रखने वाला सर्वोच्च संगठन है। क्षेत्रीय लाल सूचियों की एक विशाल श्रृंखला विश्व के विभिन्न देशों तथा संगठनों द्वारा किसी एक राजनीतिक प्रबंधन इकाई के अंतर्गत जातियों के विलुप्त होने के जोखिम का आकलन करती है, जिसके बाद इसे लाल या रेड सूची में डाला जाता है।

हिमालयन वियाग्रा के नाम से है विख्यात (Himalayan Viagra)

Himalayan Viagra
Image Source – Mynation.com

लाखों के भाव बिकने वाले इस कीड़े को हिमालयन वियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है। इसके अलावा यह भारतीय हिमालयी क्षेत्र में कीड़ाजड़ी और यारशागुंबा के नाम से भी प्रचलित है। पिछले लगभग 15 वर्षों में हिमालयन वियाग्रा की उपलब्धता में 30 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली है।

Facebook Comments