Weird Tax Rules: टैक्स किसी भी देश की आर्थिक व्यवस्था को हमेशा बेहतर स्थिति में रखने के लिए लोगों द्वारा दिए गए टैक्स का अत्यधिक महत्व होता है। क्योंकि लोगों के द्वारा दिया गया टैक्स ही देश को आर्थिर तौर पर एक तरीके से मजबूती प्रदान करता है। टैक्स की भरपाई करना हर नागरिक के लिए जरूरी होता है। कई लोग सोचते हैं कि उनकी कमाई इतनी नहीं है कि वो टैक्स की भरपाई करें।

क्योंकि हर देश में टैक्स पे करने के लिए एक निर्धारित राशि की कमाई का होना देखा जाता है, लेकिन क्या आपको पता है कि टैक्स दो प्रकार के होते हैं एक डायरेक्ट और दूसरा इनडायरेक्ट। भले ही हर व्यक्ति डायरेक्ट टैक्स पे ना करता हो लेकिन हर व्यक्ति इनडायरेक्ट टैक्स की भरपाई जरूर करता है।

बता दें कि अगर आप एक माचिस की डिब्बी भी खरदीते हैं तो उसमें आप टैक्स पे करते हैं। खाने की चीजों से लेकर के कपड़ों की खरीददारी हो या फिर कोई भी सामान हर किसी में पहले से टैक्स जुड़ा होता है। कुछ चीजों में लगने वाला टैक्स कम होता है तो वहीं कुछ चीजों में यह टैक्स ज्यादा होता है।

अगर आप फिल्म देखने जा रहे हैं या कहीं यात्रा कर रहे हैं, आप हमेशा टैक्स पे कर रहे हैं। हाउस टैक्स, वाटर टैक्स इस तरह के भी कई टैक्स होते हैं जिसका भुगतान आपको करना पड़ता है। आप को ये सुनकर लग रहा होगा कि ये सब तो आम बाते हैं और ये टैक्स तो हर कोई देता ही है। मतलब कि सिर्फ वो चीजें जो प्राकृतिक हैं जैसे सूरज की रौशनी, नदियों का पानी इन चीजों के प्रयोग के लिए ही आपको टैक्स का भुगतान नहीं करना पड़ता है। अगर आप ऐसा सोच रहे हैं तो आप बिल्कुल गलत सोच रहे हैं।

जी हां, चौंकिए नहीं क्योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे देशों के बारे में बताएंगे जहां पर धूप टैक्स, परछाई जैसे टैक्स भी लगते हैं। आप सुनकर हैरान हो रहे होंगे लेकिन ये बिल्कुल सच है। दुनिया में कई ऐसे देश हैं जहां पर अजीबो गरीब टैक्स लगते हैं। तो चलिए अब ज्यादा देर ना करके आपको बताते हैं इन टैक्सेस के बारे में।

टैटू [Tattoo Tax]

इन दिनों बॉडी में टैटू बनवाना काफी प्रचलित हो गया है। हर कोई अब अपने शरीर के अलग-अलग हिस्सों पर टैटू बनवाता है। अब हर किसी की खुद की बॉडी है वो उसके साथ कुछ भी करा सकता है लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि अपने शरीर में टैटू बनवाने के लिए आपको टैक्स पे करना पड़े। नहीं ना, लेकिन अमेरिका के ऑर्कनस् राज्य में यदि कोई व्यक्ति टैटू बनवाता है तो उसे इसके लिए 6 फीसदी टैक्स देना होता है।

परछाई

किसी भी चीज की परछाई बनना एक प्राकृतिक चीज है। लेकिन तब क्या हो जब आपको इस परछाई के लिए टैक्स पे करना पड़े। सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा होगा ना लेकिन ये सच है। इटली के वेनेटो शहर में एक जगह है कॉनेग्लियानो। इस जगह पर वहां होटल, रेस्टोरेंट या दुकान में लगे बोर्ड या टेंट की परछाई यदि गली में बनती है तो उनको एक साल में 100 डॉलर तक का टैक्स देना पड़ता है।

धूप

सूरज से मिलने वाली धूप जिसका मजा सभी खूब लेते हैं लेकिन तब क्या हो जब आपको सूरज की रौशनी लेने के लिए भी टैक्स पे करना पड़े। लेकिन स्पेन के बैलरिक द्वीपसमूह में धूप टैक्स लिया जाता है। बता दें कि वहां पर धूप टैक्स साल 2016 से लगाया गया है।

टैनिंग

शरीर में टैनिंग होना भी किसी व्यक्ति के लिए टैक्स पे करने का कारण बन सकता है। बता दें कि अमेरिका में साल 2010 में टैनिंग टैक्स लगाया गया है। इसके पीछे की वजह है स्किन कैंसर की रोकथाम करना।

ताश

ताश खेलना लोगों का अपना शौक होता है। लेकिन तब क्या हो कि आपको इस मजे के लिए टैक्स पे करना पड़े। जी हां, अमेरिका के अलबामा राज्य में हर उस व्यक्ति को टैक्स देना पड़ता है जो ताश का बंडल खरीदता है।

मोटापा

इन दिनों लोगों में मोटापा होना एक गंभीर समस्या बनता जा रहा है। आजकल की जीवनशैली में हर कोई इस समस्या से जूझ रहा है, लेकिन तब क्या हो जब आपको अपने मोटापे के लिए भी टैक्स देना पड़े। सुनकर आपको यकीन नहीं हो रहा होगा लेकिन जापान में मेटाबो कानून है, जिसके चलते 40 साल से लेकर 75 साल के लोगों की कमर को हर साल नापा जाता है। यदि किसी पुरुष की कमर की लंबाई 85 सेंटीमीटर से ज्यादा होती है तो उसे टैक्स देना पड़ता है। वहीं, यदि किसी महिला की कमर 90 सेंटीमीटर से ज्यादा है तो उसे टैक्स देना पड़ता है।

चॉप स्टिक

चीन में लोग चॉपस्टिक से खाना पसंद करते हैं, जिसके चलते हर साल चीन में डिस्पोजेबल चॉपस्टिक के करीब 45 अरब जोड़े बनाए जाते हैं। जिसके लिए तकरीबन 2.5 करोड़ पेड़ों को हर साल काटना पड़ता है। पेड़ों की कटने की संख्या को देखते हुए चीन की सरकार ने साल 2006 में लकड़ी की डिस्पोजेबल चॉपस्टिक पर 5 फीसदी टैक्स लगा दिया है।

Facebook Comments