आज के समय में हर कोई इंसान रजत शर्मा को जानता है। इन्होने अपनी पत्रिका के जरिये लोगो में अपनी पहचान बनाई है। इनका एक शो आप की अदालत बहुत ही फेमस हुआ था। रजत शर्मा इंडिया टीवी के एडिटर इन चीफ के पद पर काम करते है। रजत शर्मा ने अपने जीवन में बहुत कठिन मेहनत करके अपना नाम बनाया है। अरुण जेटली इनके कॉलेज के सीनियर थे। उन्होने रजत जी की फीस भरने में मदद की थी। अरुण जेटली जी इनके अच्छे मित्र भी थे।

रजत शर्मा का जन्म 18 फरवरी 1957 को दिल्ली में हुआ था। रजत ने अपनी पढाई municipality स्कूल से की है। रजत जी ने बताया की उनके परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत ख़राब थी। वो पाउडर वाला दूध पीते थे और नहाने के लिए नुक्कड़ पर लगे नल पर जाते थे। उस समय उनके घर पर बिजली की व्यवस्था नहीं थी। वो पढ़ने के लिए रेलवे स्टेशन पर जाते थे। रजत जी के बचपन में ऐसी घटना हुई की उनके जीवन को बदल कर रख दिया। उनके टाइम में 100 घरो में एक घर में टीवी हुआ करता था। उस समय में फिल्म दो भागो में आती थी। पहला भाग शनिवार को और दूसरा भाग रविवार को एक दिन की बात है। रजत जी ने शहीद फिल्म का पहला भाग अपने पडोसी के घर पर देख लिया और दूसरा भाग देखने के लिए गए तो उनके पडोसी ने घर में नहीं जाने दिया। इसके बाद वो रोते हुए अपने घर गए। तब उनके पिता जी ने पूछा कि क्यों रो रहे रहे हो।  तो उन्होंने सारी कहानी सुनाई तब उनके पिता जी ने कहा, अगर तुम में दम है। तो ऐसा काम करके दिखाओ कि तुम्हे टीवी देखने की जरूरत न पड़े बल्कि टीवी पर लोग तुमको देखे।

Rajat Sharma (IndiaTv) Biography
mediakhabar

इसके बाद उन्होंने अपने जीवन का उद्देश्य बनाया और पढाई पर मन लगा लिया। उन्होने Mcom पूरी की उसके बाद जनार्धन ठाकुर के साथ researcher के रूप में काम किया। तीन महीने के बाद उन्होंने अपनी रिसर्च को Onlooker magazine में लिखी। जिसके लिए उनको 300  रुपये मिले थे। इसके बाद उन्होंने मैगज़ीन में काम करने की सोची और Onlooker magazine में trainee reporter के रूप में काम करने लग गए। 1984 में उनको ब्यूरो का प्रमुख बना दिया गया। इसके बाद 1987 में संडे आब्जर्वर में काम किया। इस सभी जगह काम करने के बाद उन्होंने 14 मार्च 1984 को आप की अदालत शुरू किया।

साल 2004 में अपने पत्रकार साथियो के साथ इंडिया टीवी को लॉच किया। यह चैनल बहुत जल्दी प्रसिद्ध हो गया था। आप की अदालत की शुरुवात रजत, गुलशन ग्रोवर और डॉ सुभाष चंद्रा ने मिलकर की थी। आप की अदालत में पहला इंटरव्यू लालू प्रसाद यादव का लिया गया था।

रजत ने अपने पत्रिका के दौरान बहुत से सम्मान हासिल किये है। इनको 23 अगस्त 2014 को तरुण क्रांति सम्मान से सम्मानित किया गया। साल 2015 में भारत सरकार द्वारा साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में पद्म भूषण दिया गया।

आज के समय में रजत जी की कुल सम्पति लगभग 15 मिलियन डॉलर है  2004 में शुरू किया। इंडिया टीवी से रजत शर्मा को उनकी मेहनत रंग लेकर आई। इनके द्वारा की गए शो से इनके चैनल की टीआरपी बनी रही और इन्हे काफी लाभ हुआ।

ये भी पढ़े: हरिवंश राय बच्चन की जीवनी 

प्रशांत यादव

Facebook Comments