Zomato Kya Hai:डिजिटल युग होने के कारण दुनिया भर में कई स्टार्टअप शुरू हुए। बड़ी-बड़ी कंपनियों ने भी इन स्टार्टअप्स को फंडिंग किया। हालांकि कुछ कंपनियां तो शुरुआती 5 साल में ही बंद हो गई लेकिन कुछ कंपनियों ने विश्व स्तर पर अपना नाम बना लिया है। उन्हीं में से एक है जोमैटो, जोमैटो भी एक फूड ऑर्डरिंग एप्लीकेशन है। जोकि एंड्राइड और आईओएस दोनों ही प्लेटफार्म पर मौजूद है। जोमैटो ने फूड ऑर्डरिंग की दुनिया में एक बहुत बड़ा तूफान ला दिया है। इसने ग्राहकों के खाने से लेकर पब और डाइन आउट तक की दुनिया में काफी बदलाव लाया है। इस फूड डिलीवरी ऐप ने ग्राहकों का वक्त, मेहनत और पैसे की बड़े पैमाने पर बचत की है। इतना ही नहीं इसकी मदद से कई सारे रेस्टोरेंट्स को अपने फूड प्रोडक्ट्स को बेहतर करने में भी मदद मिली है। अगर आप पहले से ही जोमैटो के उपयोग करता है तो इस बात को आप भी भली-भांति समझते होंगे कि कई सारे रेस्टोरेंट बस जोमैटो के कारण ही चल रहे हैं। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि आप कैसे हो ज़ोमैटो की मदद से अपने बिजनेस को बड़ा बना सकते हैं। साथ ही यह भी जानेंगे कि कैसे आप घर बैठे जोमैटो की मदद से अपने मनपसंद खाने को ऑर्डर कर सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जान लेते हैं कि आखिर जोमैटो है क्या, और यह कैसे काम करता है।

Zomato क्या है [What is Zomato in Hindi]

zomato
techcircle

यह बात तो आप जानते ही हैं कि जोमैटो एक फूड ऑर्डरिंग एप्लीकेशन है। यह एंड्रॉयड और आईओएस की मदद से काम करता है। बतौर एक स्टार्टअप एंड्राइड की शुरुआत भारत से हुई थी। दीपेंद्र गोयल और पंकज चड्ढा नाम के दो शख्स ने 2008 में इसकी नींव रखी। आज वही जोमैटो दुनिया भर की एक बड़ी फूड ऑर्डरिंग कंपनी बन गई है। अंग्रेजी के अलावा जोमैटो और भी कई सारे भाषा में सर्विस देता है। जोमैटो दुनियाभर के 24 देशों में अपनी सर्विस देता है। जिसमें ऑस्ट्रेलिया, ब्राज़ील, कैनेडा, चिल्ली, चेस, भारत, इंडोनेशिया, आयरलैंड, इटली लेबनान, मलेशिया, न्यूजीलैंड, फिलिपिंस, पोलैंड, पुर्तगाल कतर, सिंगापुर, स्लोवाकिया, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका, टर्की, यूएई, यूनाइटेड किंगडम और यूनाइटेड स्टेट्स शामिल है। जोमैटो के माध्यम से घर बैठे कोई भी व्यक्ति बेहद ही आसानी से खाना ऑर्डर कर सकता है। इसके अलावा यहां आप किसी रेस्टोरेंट के बारे में जानकारी भी हासिल कर सकते हैं। यदि कोई रेस्टोरेंट आपको पसंद आता है और वहां जाकर आप खाना खाना चाहते हैं तो यह आपके लिए टेबल बुकिंग की भी सुविधा उपलब्ध है।

Zomato पर आर्डर कैसे करें [How to Order Food on Zomato]

zomato order
ndtv

जिस तरह से अन्य फूड ऑर्डरिंग एप्लीकेशन पर आप अपने फूड का आर्डर करते हैं। उसी तरह से जोमैटो पर भी आप अपने फूड का आर्डर कर सकते हैं। यह अन्य फूड ऑर्डरिंग एप्लीकेशन की तरह ही काम करता है। लेकिन डिस्काउंट ऑफर और फास्ट सर्विस के कारण यह अन्य फूड एप्लीकेशन से ज्यादा कामयाब है। जोमैटो से खाना ऑर्डर करने के लिए आप सबसे पहले जोमैटो एप्लीकेशन डाउनलोड करें। इसके बाद यहां आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा। रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप अपने मोबाइल नंबर के अलावा फेसबुक और गूगल अकाउंट का भी उपयोग कर सकते हैं। जैसे ही आप एक बार यहां रजिस्टर हो जाते हैं फिर आप बेहद ही आसानी से अपने खाने का ऑर्डर कर सकते हैं। फूड सिलेक्ट करने के बाद आपको पेमेंट प्रोसेस करना होगा। यहीं आपको जोमैटो डिस्काउंट का भी ऑप्शन देता है। अगर आपके पास कोई कूपन मौजूद है तो उसे आप यहां अप्लाई कर सकते हैं। इसके बाद आप पेमेंट प्रोसेस को पूरा करें। आप चाहे तो यहां क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से पेमेंट कर सकते हैं। इसके अलावा आप ई-वॉलेट के जरिए भी पेमेंट कर सकते हैं। अगर आप इन दोनों ही तरीकों को नहीं अपनाना चाहते हैं। तो आप डिलीवरी ब्वॉय को कैश में भी पेमेंट दे सकते हैं। अब आसान तरीके से आप घर बैठे जोमैटो पर ऑर्डर करें और स्वादिष्ट भोजन का आनंद लें।

Zomato के साथ कैसे करें बिजनेस [Zomato Ke sath Business Kaise Kare]

zomato business
techyukti

जोमैटो एक ऐसी कंपनी है जो कि ना केवल अपने मुनाफे को देखता है बल्कि वह हमें और आपको भी मुनाफा दिलाता है। कोई व्यक्ति चाहे तो इसके मदद से अपना बिजनेस शुरू कर सकता है। आप अगर किसी रेस्टोरेंट या छोटे-मोटे ढाबे के मालिक हैं तो आपको अपने खाने को बेचने के लिए किसी भी तरह के विज्ञापन देने की जरूरत नहीं है। आप अपने दुकान में बैठे बैठे पूरे शहर में अपने खाने और अपने ढाबे का प्रचार-प्रसार कर सकते हैं। इसमें आपकी मदद करता है जोमैटो। इसलिए केवल आपको जोमैटो पर अपने फूड आउटलेट का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके बाद आपके मोबाइल पर कस्टमर्स के आर्डर आने लगेंगे। अब बस ऑर्डर एक्सेप्ट करें, खाना तैयार करें और डिलीवरी ब्वॉय के हाथ में थमा दें। आपके बिजनेस को दिन दोगुना रात चौगुना बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता है।

Zomato के साथ जुड़ने के लिए योग्यता

जोमैटो के साथ जुड़कर बिजनेस करने के रेस्टोरेंट को कुछ योग्यताएं पूरी करनी होंगी। भारत में एक बिजनेस यूनिट के रूप में बनने के लिए, प्राईवेट लिमिटेड, पार्टनरशिप या फिर एलएलपी की जरूरत होती है। क्योंकि आप एक फूड कैटेगरी का बिजनेस कर रहे हैं तो आपको बिजनेस के टर्नओवर और साइज के हिसाब से FSSAI लाइसेंस की जरूरत होती है। इसके अलावा आपके पास शॉप एक्ट लाइसेंस और जीएसटी भी होनी चाहिए।

Zomato कंपनी का कमीशन

zomato kamishan
yourstory

रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल Zomato कुल ऑर्डर का 7.5 प्रतिशत कमीशन रेस्टोरेंट से फीस के रूप में लेता है। इसमें डिलीवरी सर्विस के साथ पेमेंट गेटवे चार्ज पे शामिल होता है। उन रेस्टोरेंट के लिए जिन्हें हर हफ्ते 50 से कम ऑर्डर मिलते हैं। उन पर 99 रुपये के प्लेटफार्म शुल्क के साथ 2.99% का कमीशन लगाया जाएगा। जोमैटो हफ्ते के 50-ऑर्डर के मार्क को पार करने वाले रेस्टोरेंट के लिए कोई कमीशन शुल्क नहीं लगाता है। वहीं जो रेस्टोरेंट 500 से ज्यादा ऑर्डर लेते हैं उनसे प्लेटफॉर्म शुल्क 799 रुपये से 199 रुपये तक के ऑर्डर की संख्या के उल्टा आनुपातिक होता है।

Facebook Comments