Arjun Kapoor Sridevi Relationship: बॉलीवुड की शानदार अदाकारा श्रीदेवी ( Sridevi)…जो अपने दमदार अभिनय से न केवल उस किरदार को निभाती थीं बल्कि जीतीं भी थीं। फिल्म इंडस्ट्री की इस बेहतरीन अदाकारा की खुद की जिंदगी भी फिल्मों से कम नहीं रही खासतौर से अर्जुन कपूर के साथ उनका रिश्ता फिल्मों की कहानी की ही तरह था। जी हां….अर्जुन कपूर (Arjun Kapoor) और श्रीदेवी का रिश्ता कुछ ऐसा ही रहा। श्रीदेवी अर्जुन कपूर की सौतेली मां थीं। अर्जुन, बोनी कपूर (Boney Kapoor) की पहली पत्नी मौना शौरी के बेटे हैं जिनसे तलाक लेकर बोनी कपूर ने श्री देवी से शादी कर ली थी। कहा जाता है कि तभी से श्रीदेवी और अर्जुन कपूर के रिश्ते खराब हुए। 2018 में श्री देवी का निधन हो गया लेकिन आज भी गाहे बगाहे श्रीदेवी व अर्जुन कपूर के बीच के रिश्ते की चर्चा दबे मुंह होती ही रहती है।

क्यों आई थी रिश्ते में तल्खियां 

जाने माने निर्माता-निर्देशक बोनी कपूर की पहली शादी मोना शौरी से हुई थी। और उनके दो बच्चे थे – अर्जुन कपूर और अंशुला कपूर। लेकिन कुछ ही सालों बाद हालात बदलने लगे। बोनी कपूर श्री देवी को पसंद करते थे और उन्हे अपनी जिंदगी में लाना चाहते थे। और आखिरकार 1996 में बोनी कपूर ने श्री देवी से शादी कर ली। उन्होने इसके लिए पहली पत्नी मोना शौरी से तलाक भी ले लिया था। इस समय अर्जुन महज़ 11 साल के थे और श्रीदेवी अर्जुन और अंशुला की सौतेली मां बन चुकी थीं। अर्जुन श्रीदेवी को ही अपने माता पिता के तलाक का कारण मानते थे। साल 2012 में कैंसर की बीमारी की वजह से मोना शौरी का निधन हो गया। इनके निधन पर बॉलीवुड की हर हस्ती मौजूद रही लेकिन श्रीदेवी वहां नहीं पहुंची थी। कभी किसी ने सीधे मुंह ना कहा हो लेकिन ये जग जाहिर था कि अर्जुन और अंशुला श्रीदेवी को पसंद नहीं करते थे।

arjun kapoor sridevi relationship

साल 2007 में एक टीवी इंटरव्यू में खुद मोना शौरी ने इस बात को कबूला कि बोनी कपूर और श्रीदेवी दोनों की शादी का बच्चों यानि अर्जुन और अंशुला पर काफी बुरा असर पड़ा था। क्योंकि उन्हे स्कूल में बुरे-बुरे तानों का सामना करना पड़ा था लेकिन उन्होने स्ट्रॉन्ग उस परिस्थिति का सामना किया। मोना शौरी तलाक के बाद अकेले ही अर्जुन और अंशुला को बड़ा किया, उनकी जिम्मेदारियां उठाई और उन्हे अच्छी परवरिश थी। शायद यही कारण था कि अर्जुन कपूर न केवल श्रीदेवी बल्कि अपने पिता बोनी कपूर से भी दूर हो गए थे। इन्हे कभी भी एक साथ किसी भी इवेंट में नहीं देखा गया लेकिन श्रीदेवी की मौत ने सब कुछ बदल दिया। बिखरा हुआ परिवार एक साथ आ गया और सारी कड़वाहट भूलकर सभी एक हो गए।

साल 2018 में बदल गया सबकुछ

arjun kapoor siblings

साल 2018 तक सब कुछ वैसा ही था जैसा हमने बताया लेकिन फरवरी 2018 में श्रीदेवी की मौत ने मानो सबकुछ बदलकर रख दिया। श्रीदेवी दुबई में थीं जब बाथटब में डूबने से उनकी मौत हो गई, उस वक्त जिसने भीये खबर सुनीं थी वो हैरान ही रह गया था लेकिन जब अर्जुन कपूर को ये खबर मिली तो वो लुधियाना में फिल्म की शूटिंग में बिज़ी थे लेकिन इस ख़बर को सुनते ही वो सीधे दुबई अपने पिता के पास पहुंचे थे, सिर्फ यहीं नहीं बल्कि सारी कड़वाहट को भुलाकर उन्होने अपनी सौतेली बहनों को भी अपना लिया है। श्रीदेवी के निधन के वक्त अर्जुन कपूर ने बड़े भाई का फर्ज बखूबी निभाया था और बॉलीवुड गलियारों में इसकी खूब चर्चा भी हुई थी। फिलहाल अर्जुन और अंशुला की जाह्नवी व खुशी दोनों के साथ अच्छी बॉन्डिंग देखी जाती है। कॉफी विद करण के लास्ट सीज़न में अर्जुन कपूर व जाह्नवी साथ नज़र आए थे।

Facebook Comments