बधाई हो…. 50 पार उम्र के पैरेंट्स की फिर से पैरेंट्स बनने की बेहतरीन फिल्म (Review)

बधाई हो फिल्म (Review) को अमित रविन्द्रनाथ शर्मा ने डायरेक्ट किया है। जब अधेड़ उम्र के पैरेंट्स फिर से पैरेंट्स बनने वाले हो तो क्या होता है यही फिल्म में दिखाया गया है।बच्चे ऐसा सोचते हैं कि पैरेंट्स उम्र केसाथ सेक्स करना बंद कर देते हैं, उनके लिए यह फिल्म वेक अप कॉल की तरह है।

मिस्टर कौशिक (गजराज राव) मिसेज कौशिक (नीना गुप्ता)  नकुल (आयुष्मान खुराना) और एक किशोर उम्र के बेटे के साथ सामान्य जीवन बिता रहे हैं। मिसेज कौशिक प्रेग्नेंट हो जाती हैं। यह कपल के लिएबड़ी अजीब स्थिति बन जाती है। दोनों बेटे इस बात का  भरपूर विरोध करते हैं।

वहीं नकचड़ी दादी (सुरेखा सीकरी) आसमान सिर पर उठा लेती हैं। (Review) कपल की उम्र 50 के आसपास है और दोनों अपनी हेल्दी सेक्स लाइफ के चलते शर्मिंदा हैं क्योंकि हर कोई उन्हें जज कर रहा है। कौशिक का भाईइसके लिए भाई की कविताओं के शौक को जिम्मेदार मानता है और ताना मारते हुए कहता है  ‘और बनो गुलजार

बधाई हो (Review)

वहीं बाकी परिवार के लोग उनकी हंसी उड़ाते रहते हैं। नकुल की एक गर्लफ्रेंड रिनी (सान्या मल्होत्रा) है। नकुल मां के प्रेग्नेंट होने से बेहद परेशान है और इसे अपनी हार की तरह समझता है। रिनी की हाईसोसायटी में रहने वाली मां आग में घी डालने का काम करती है।

फिल्म में ऐसे इमोशन हैं जो आपक इनवॉल्व रखने के साथ ही इसके मुख्य किरदारों से जोड़े रखते हैं। फिल्म का सेकंड हाफ उतना अच्छा नहीं है और क्लाइमैक्स भी खींचा हुआ लगता है लेकिन ओवरऑल देखाजाए तो फिल्म मनोरंजक है। फिल्म की कहानी शांतनु श्रीवास्तव, अक्षत जिंदल और ज्योति कपूर ने लिखी है। जो कि बेहद सिंपल है लेकिन भारत के सबसे बड़ पाखंड पर कटाक्ष करती है जो कि सेक्स को लेकरकिया जाता है।

गजराज राव और नीना गुप्ता ने शर्मिंदिगी महसूस रहे कपल का रोल बेहतरीन तरीके से निभाया है। आयुष्मान खुराना का काम अच्छा है। सुरेखा सीकरी बूढ़ी दादी के रोल में जमी हैं और उनका किरदार आपकादिल चुरा लेगा। सान्या मल्होत्रा का काम अच्छा नहीं है। पटाखा में शानदार प्रदर्शन करने के बाद वे इस फिल्म में निराश करती हैं। बधाई में कई दिलचस्प किरदार हैं। ऐसा लगता है कि शर्मा ने चुनचुन कर ऐसेशानदार एक्टर लिए हैं और उन्हें एक साथ संजोकर रखा है।

इस फिल्म को जरूर देखिए, ऐसी फिल्म कभीकभी ही बनती है, जो आपको भावनात्मक रूप से इनवॉल्व करने के साथ ही ऐसे मुद्दे को उठाती है जिस पर चर्चा करना जरूरी है।

डायरेक्टर :अमित रविन्द्रनाथ शर्मा
प्रोड्यूसर विनीत जैन, हेमंत भंडारी
स्टारकास्ट: आयुष्मान खुराना, सान्या मल्होत्रा, नीना गुप्ता, गजराज राव
संगीतकार: तनिष्क बागची, रोचक कोहली, सनी और इंदर बावरा
गीतकार:  वायु, कुमार

Facebook Comments