बॉलीवुड में महिला कलाकारों ने अपनी एक विशेष जगह बनाई है। अब वह फिल्मो का एक ग्लैमरस हिस्सा ही नहीं बल्कि एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गयी हैं।

महिलाओं की समानता और एम्पावरमेंट के प्रति हालिया फोकस के साथ, बॉलीवुड के कुछ मजबूत और जीवन-परिभाषित महिला पात्रों ने इंडस्ट्री को गर्व करवाना शुरू कर दिया।

हम ऐसे निर्देशकों के आभारी हैं जो कि फीमेल एक्ट्रेस के इर्द गिर्द घूमने वाली फिल्मे बनाते हैं। हालंकि इन फिल्मो ने सिनेमा में ऊँचाईआं हासिल करने के लिए एक लम्बा समय लिया है लेकिन ऐसी कुछ फिल्मे हैं जिनके किरदार प्रशंसा करने के लायक हैं।

इस अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर, हम आपको ऐसी 7 बॉलीवुड फिल्में के बारे में बताना चाहते हैं जिनमे महिलाएं हीरो थीं और यह फिल्मे उनके ही बारे में थी।

1 . इंग्लिश-विंग्लिश

श्रीदेवी के अचानक निधन से फैंस को गहरा सदमा लगा है। हालांकि इंग्लिश-विंग्लिश में उनका निभाया गया रोल उनके करियर में बहुत ख़ास रहेगा। एक महिला जो अपने परिवार में अपना सम्मान पाने के लिए लड़ी। वह अंग्रेजी भाषा के साथ संघर्ष कर रही थी और बिना किसी सहायता के, वह बाधाओं को पार कर गई और साबित कर दिया कि एक महिला किसी भी उम्र में कुछ भी सीख सकती है। यह आत्मविश्वास का मामला है। श्रीदेवी ने एक शानदार रोल निभाया और साथ ही साथ ये भी मनवाया कि एक एक्ट्रेस बड़े परदे पर छा सकती है।

2 . क्वीन

इसमें कोई संदेह नहीं है कि ये फिल्म विकास बहल की सर्वश्रेष्ठ फिल्मो में से एक है। एक लड़की जो कि शादी टूटने पर अकेली ही हनीमून मनाने चली जाती है और एक इंडिपेंडेंट लड़की के रूप में ज़िन्दगी जीती है। यह फिल्म खासतौर पर छोटे शहर की लड़कियों को प्रभावित करने में कामयाब रही।

3 . लिपस्टिक अंडर माय बुरखा

यह फिल्म हर उम्र की महिलाओं पर आधारित है। 50 साल की उम्र की महिला के यौन आग्रह से 18 वर्षीय कॉलेज की लड़की पर आधारित है। फिल्म महिलाओं के संघर्ष और उनकी स्वतंत्रता के बारे में बताती है। इस फिल्म ने अंतर्राष्ट्रीय मंच पर बहुत वाह-वाही लूटी।

4 . सीक्रेट सुपरस्टार

एक और ऐसी फिल्म जो कि महिलाओं के जीवन और उनके संघर्ष के बारे में बात करती है। एक छात्रा जो कि एक रॉकस्टार बनने का सपना देखती है लेकिन उसके पिता उसपर सामाजिक मापदंडो के अंतर्गत जीने के लिए दवाब डालते हैं। हालांकि उसकी माँ अपनी बेटी के सपनो को समझती है और उसे सहयोग देती है।

5 . अनारकली ऑफ़ आरा

फिल्म में स्वरा भास्कर ने एक बेहद ही रोमांचक किरदार निभाया है। एक भोजपुरी गायिका जो कि उन् सभी पुरुषों के खिलाफ लड़ती है जो कि महिला को सिर्फ एक वस्तु मानते हैं। यह महिला सशक्तिकरण की मिसाल है।

6 . तुम्हारी सुल्लू

यह कहानी एक मध्यम वर्ग की एक आत्मविश्वास से भरपूर महिला की है जो बताती है की वास्तव में महिला कितनी सक्षम है। अगर वो चाहे तो कोई भी मंज़िल हासिल कर सकती है। वह घर संभालने के साथ साथ दुनिया में खुद की एक पहचान भी बनाती है। वह अपने पति को व्यवसाय स्थापित करने में भी मदद करती है। सुल्लू एक ऐसा पात्र है जो महिलाओं के अलग अलग किरदारों को व्यक्त करता है जो वो असल ज़िन्दगी में निभाती हैं।

7 . मर्दानी

रानी मुखर्जी ने एक मजबूत, आत्मविश्वास से भरपूर पुलिसकर्मी की भूमिका निभाई है। वह एक ऐसी महिला है जिस से गुंडे डरते हैं।
वह अच्छी तरह जानती है कि मुसीबत के समय कैसे उसका डट कर सामना करना है।

Facebook Comments