Jagdeep Jaffrey Biography: बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के एक और दिग्गज कलाकार सूरमा भोपाली जी का निधन बुधवार की रात हो गया। सूरमा भोपली नाम से मशहूर जगदीप जाफरी (Jagdeep Jaffrey) काफी समय से बीमार थे और 81 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। इन्होंने शोले जैसी सुपरहिट फिल्म में अहम किरदार निभाया था।

संघर्षों से घिरा था सूरमा भोपाली का जीवन (Jagdeep Jaffrey Biography)

Struggle of jagdeep jaffrey
Image Source – India.com

आपको बता दें कि बचपन से ही सूरमा भोपाली जी के जीवन में मुश्किलों ने अपना घर बसा लिया था। उनकी मां यतीमखाने में काम करके अपना घर चलाती थीं। अपनी इस संघर्ष भरी ज़िदगी में जगदीप (Jagdeep Jaffrey) ने एक इंटर्व्यू में बताया था कि ‘हिंदुस्तान-पाकिसतान बना तो सब बिखर गया। मेरा एक भाई बॉम्बे रहता था, मेरी मां मुझे बॉम्बे ले आई। मैं 6-7 साल का था। जब मुंबई आए तो हमारे पास कुछ नहीं था, हमारी कोठी, बंगला पैसा सब खत्म हो गया था। मां यतीमखाने में रोटी बनाया करती थी। उन्होंने सब मुसीबत झेल कर मुझे पाला और स्कूल भी भेजा।’

मां को सुख देना चाहते थे जगदीप

jagdeep jaffrey Mother Struggle
Image Source – Indiatoday.in

जगदीप ने आगे कहा कि उनको लगता था कि उनकी मां इतनी मेहनत करके मुझे पढ़ा रही है। बाकी बच्चे काम किया करते थे। तो मैं भी क्यों न काम करके मां का हाथ बटाउं। जब मैंने मां से कहा कि मां मुझे कुछ काम करना है तो उन्होंने मुझे पढ़ाई करने को कहा।

जगदीप ने कहा मैंने अपनी मां से कहा कि इस पढ़ाई में क्या रखा है जब मैं आपको सुख नहीं दे पा रहा हूं। वो लड़का काम करके खुश है, अपनी मां को पाल रहा है। तो ये सुनकर मां रोने लगीं और कहा कि तू देख ले क्या करना चाहिए.”

पतंगे बनाया करते थे सूरमा भोपाली (Jagdeep Jaffrey Biography)

jagdeep jaffrey Career Story
Image Source – Starsunfolded.com

इसके बाद जगदीप (Jagdeep Jaffrey) ने बताया कि उन्होंने एक टीन के कारखाने में काम किया और फिर कुछ पतंगे बनाने का काम भी किया। उनके जीवन में जो भी काम उन्हें मिलता, वह उसे करते चले गए। कुछ समय बाद, किसी की जान पहचान से उन्होंने फिल्मी जगत में एंट्री करी और उनके करियर का सितारा चमक गया।

यह भी पढ़े

Facebook Comments