Laughter Queen Bharti Singh: कोरोना महामारी की वजह से जो इस वक्त लॉकडाउन लगा हुआ है, उसकी वजह से लोग अधिकांश वक्त अपने-अपने घरों में ही बिता रहे हैं। बॉलीवुड सेलिब्रिटीज भी इस दौरान अपने घरों में ही रह रहे हैं। चाहे बॉलीवुड के सेलेब्रिटीज हों या टीवी के सेलेब्रिटीज, सोशल मीडिया में सभी बड़े ही सक्रिय नजर आ रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान देखा जाए तो टेलीविजन और सोशल मीडिया ही लोगों का सहारा बने हुए हैं। इसी क्रम में सोशल मीडिया में मशहूर कॉमेडियन भारती सिंह से जुड़े एक किस्से की चर्चा हो रही है, जिसके बारे में यहां हम आपको बता रहे हैं।

किया ये हैरान कर देने वाला खुलासा (Laughter Queen Bharti Singh Talks About her Birth)

लाफ्टर क्वीन कही जाती हैं भारती सिंह। भारती सिंह ने अपनी प्रतिभा के दम पर एक ऐसा मुकाम आज हासिल कर लिया है, जिसे वे शायद तब नहीं पा सकती थीं, जब उनके माता-पिता उन्हें इस दुनिया में ही नहीं लाते। जी हां, खुद भारती सिंह की ओर से खुद को लेकर यह एक हैरान कर देने वाला खुलासा किया गया है। भारती सिंह ने बताया है कि उनके मां-बाप चाहते ही नहीं थे कि वे इस दुनिया में आएं।

इसलिए नहीं चाहते थे मां-बाप

आपने वह कहावत तो सुनी ही होगी ‘जा को राखे साइयां, मार सके ना कोई।‘ मशहूर कॉमेडियन भारती सिंह पर भी यह बात पूरी तरीके से एकदम सटीक बैठती है। उनके साथ भी उनकी जिंदगी में कुछ ऐसा ही हुआ है। जब भारती सिंह से यह पूछा गया कि आखिर ऐसी क्या वजह थी कि उनके मां-बाप नहीं चाहते थे कि वे इस दुनिया में आएं, इस सवाल के जवाब में भारती सिंह ने बताया कि यह बात बिल्कुल सच है कि मेरे घरवाले नहीं चाहते थे कि मैं इस दुनिया में आऊं। उस वक्त दरअसल एक स्लोगन चला हुआ था कि बच्चे दो ही अच्छे। भारती सिंह के मुताबिक आबादी उस वक्त बहुत ही तेजी से बढ़ती जा रही थी। ऐसे में लोग यही कहते थे कि बच्चे सिर्फ दो ही करने हैं। भारती सिंह ने बताया कि मेरे घर में पहले से ही मेरा भाई था और फिर मेरी बहन भी थी। ऐसे में मैं तीसरा बच्चा होने जा रही थी।

bharti singh
Celebrity Hub Spot

मां ने खा ली थीं ढेरों जड़ी-बूटियां

भारती सिंह ने बताया कि मां-बाप मेरे बहुत ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं थे। प्रिकॉशन कैसे लेना है, उन्हें तो मालूम ही नहीं था। मैं तो एक तरीके से अनचाहा बच्चा हूं। बस मैं पैदा हो गई। तीसरे महीने में पता चला था कि वे प्रेग्नेंट हो गई हैं। बस फिर क्या था, उन्होंने बहुत सारी जड़ी-बूटियां खानी शुरू कर दी थीं। भारती सिंह ने बताया कि गरीबी में उस वक्त पैसे तो इतने होते नहीं थे। ऐसे में नानी-दादी जो घर में होती थीं, वे हकीम-वैद्य आदि के पास ही ले जाती थीं। मम्मी मेरी बोलती हैं कि इतनी ज्यादा जड़ी-बूटी उन्होंने खा ली थी। इसके बावजूद मुझे कुछ नहीं हुआ था।

दुनिया मे आना था, लोगों को हंसाना था

भारती सिंह ने यह भी बताया कि दुनिया में तो मुझे आना ही था और लोगों को हंसाना भी था। मम्मी कभी-कभी बोलती भी हैं कि तुझको तो कोई चाहता ही नहीं था कि तू इस दुनिया में आए। फिर भी तू लड़की हो ही गई। इसके बाद सब बोलने लगे की दो लड़कियां हो गई हैं। लड़का एक ही है। कैसे करेंगे? यह तो अनचाहा बच्चा है। जरूरत तो इसकी थी ही नहीं। फिर भी देखा जाए तो भारती सिंह को दुनिया की लाफ्टर क्वीन बनना था और लोगों को हंसाना था। तभी तो भगवान ने भी उनका साथ दिया और वे इस दुनिया में आ ही गईं। आज इन्हीं भारती सिंह पर उनके मां-बाप नाज करते हैं।

Facebook Comments