लॉकडाउन की वजह से दूरदर्शन पर विभिन्न सीरियलों का प्रसारण एक बार फिर से किया जा रहा है। दर्शकों की डिमांड पर विशेष रूप से रामायण, महाभारत और शक्तिमान जैसे ऐतिहासिक सीरियलों को एक बार फिर से प्रसारित किया जा रहा है। इन्हीं में से एक सीरियल ऐसा भी है जिसके एक किरदार ने एक ही सीरियल में भगवान् और राक्षस सहित कई किरदार एक साथ निभाए हैं। यहाँ हम आपको उसी अभिनेता के बारे में बताने जा रहे हैं। तो देर किस बात की आइये जान लेते हैं उस अभिनेता के बारे में जिसने एक ही सीरियल में निभाए कई किरदार।

रामायण में इस अभिनेता ने निभाए कई किरदार – Aslam Khan

OpIndia

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, रामायण एक ऐसा सीरियल है जिसमें काम करने वाले एक अभिनेता ने सीरियल में कभी राक्षस का किरदार निभाया तो कभी भगवान् का। ये रामायण में कभी राम के किरदार के बॉडी डबल बनें तो कभी ऋषि के किरदार में नजर आए। इसके साथ ही साथ उन्होनें इसी सीरियल में राक्षस का किरदार भी निभाया है। बता दें कि, जिस अभिनेता ने रामायण में ही इतने सारे किरदार निभाए हैं उनका असलम खान है। असलम खान ने रामायण में इतने सारे किरदार निभाने के साथ ही साथ वो कभी सेनापति के रूप में नजर आए तो कभी उन्हें प्रजा के रूप में भी दर्शकों ने टीवी पर देखा।

यह भी पढ़े

एक बार फिर से दूरदर्शन पर होगा “रामायण” का प्रसारण, जानें पूरी खबर ! (Lockdown)

जानें कौन हैं Aslam Khan

Navbharattimes

असलम खान एक ऐसे अभिनेता हैं जिन्हें लोगों ने टीवी पर देखा तो खूब है लेकिन उन्हें करीब से बहुत ही कम लोग जानते होंगें। एक ही सीरियल में बहुत से किरदार निभाने वाले असलम खान से जब एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया की एक्टिंग की दुनिया में उनका कैसे आना हुआ, तो इस संबंध में जानकारी देते हुए उन्होनें बताया कि, असल में पहले वो एक्टिंग की दुनिया में नहीं आना चाहते थे। हालात कुछ ऐसे हुए कि, कमाने खाने के लिए उन्हें सीरियलों में आना पड़ा। असलम बताते हैं कि, शुरुआत उन्होनें विक्रम बेताल के सेट पर काम करने के साथ किया था। फिर आगे जाकर उन्हें रामायण में काम करने का मौका मिला। चूंकि रामायण में बहुत से किरदारों की जरुरत थी, उस समय असलम ने खुद को एक से ज्यादा किरदार निभाने के लिए पूरी तरह से सक्षम समझा। बहरहाल रामायण में कभी ऋषि, कभी राक्षस, कभी राम के बॉडी डबल तो कभी समुद्र देव के किरदार में भी असलम नजर आ चुके हैं

Facebook Comments