Struggle Story of Bollywood Actors: बॉलीवुड में जहां कुछ लोगों को विरासत में एक्टिंग मिली और मेहनत करके वे बड़े पर्दे पर छा गए, वहीं बहुत से सुपरस्टार ऐसे भी हैं, जिन्हें बॉलीवुड में उनकी जगह विरासत के तौर पर नहीं, बल्कि उनके संघर्ष की वजह से मिली है। आज जिस मुकाम पर वे पहुंचे हैं, वहां तक पहुंचने के लिए उन्हें अपनी एड़ी घिसनी पड़ी है। यहां हम आपको बॉलीवुड के ऐसे सुपरस्टार्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने आज भले ही स्टारडम हासिल कर लिया हो, लेकिन एक वक्त इनकी जिंदगी बड़ी ही गरीबी में गुजरी है (Struggle Story of Bollywood Actors) आज यदि वे यहां हैं तो यह उनकी मेहनत और उनके टैलेंट का ही कमाल है।

शाहरुख खान (Shahrukh Khan)

इस कड़ी में नाम सबसे पहले शाहरुख खान का आता है, जिन्हें बॉलीवुड में बादशाह और किंग खान के नाम से भी जाना जाता है।

यह बात जरूर है कि वर्ष 2018 में आई उनकी फिल्म जीरो के बाद उन्हें फिर बड़े पर्दे पर नहीं देखा गया है, लेकिन उनके स्टारडम में कोई फर्क नहीं आया है। शाहरुख खान को इस मुकाम तक पहुंचने के लिए बहुत पसीना बहाना पड़ा है। खुद को वे दिल्ली का लड़का बताते रहे हैं। हाल ही में उन्होंने रेमो डिसूजा के रियलिटी शो डांस प्लस 5 में अपनी जिंदगी से जुड़ा एक किस्सा शेयर किया था, जिससे आप उनके संघर्ष का अंदाजा लगा सकते हैं।

shahrukh khan
prabhasaksh

शाहरुख ने इसमें बताया था कि जब उन्हें अपनी पहली सैलरी के 50 रुपये मिले थे तो उससे वे ताजमहल घूमने के लिए गए थे। टिकट खरीदने के बाद उनके पास केवल एक पिंक लस्सी खरीदने के पैसे बचे थे। लस्सी पीने जा ही रहे थे कि एक मधुमक्खी उसमें गिर गई थी। शाहरुख ने बताया कि उस मक्खी को निकालकर उन्होंने फेंक दिया और लस्सी पी ली। उसके बाद रास्ते भर वे उल्टियां करते रहे थे।

वैसे तो शाहरुख ने यह नहीं बताया कि वह नौकरी कौन सी थी, लेकिन कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह बताया गया है कि थिएटर के बाहर उन्हें टिकट बेचना होता था, जिसके लिए उन्हें यह सैलरी मिलती थी (Struggle Story of Bollywood Actors)। इस तरह से शाहरुख खान की शुरुआती जिंदगी बीती है।

कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan)

बॉलीवुड में आज कार्तिक आर्यन ने भी अपने नाम का सिक्का गाड़ा है। कार्तिक आर्यन की गिनती सबसे लोकप्रिय युवा अभिनेताओं में हो रही है।

हालांकि, कार्तिक आर्यन के लिए भी यहां तक पहुंचना आसान नहीं रहा था। वे मूल रूप से ग्वालियर के रहने वाले हैं। फिल्मों से उनके परिवार का दूर-दूर तक कोई नाता नहीं था। बाद में वे मुंबई आ गए यहां फिल्मों में अपना करियर बनाने के लिए। (Struggle Story of Bollywood Actors)

kartik aaryan
India Today

हाल ही में एक चैट शो के दौरान कार्तिक आर्यन ने खुद इस बात का खुलासा किया था कि मुंबई आने पर उन्हें यहां एक पीजी में रहना पड़ा था। एक फ्लाइट में 12 लोग रहते थे। कार्तिक का कहना था कि ग्वालियर इतना महंगा नहीं था, लेकिन मुंबई आकर उन्हें एहसास हुआ कि यह कितनी महंगी जगह है।

बाद में जब बॉलीवुड में अपने टैलेंट के दम पर उन्होंने अपनी पहचान बना ली तो बीते साल मई में उन्होंने अपनी मां माला तिवारी के नाम पर एक करोड़ 60 लाख रुपये में एक फ्लैट खरीदा है, जो कि एक अपार्टमेंट में पांचवें फ्लोर पर स्थित है।

राजकुमार राव (Rajkummar Rao)

राजकुमार राव ने भी बॉलीवुड में अपनी एक खास पहचान बना ली है। दर्शकों से लेकर क्रिटिक्स तक उनकी एक्टिंग के दीवाने नजर आते हैं।

उनकी फिल्म स्त्री 100 करोड़ रुपए के क्लब में भी शामिल हो गई थी, जिससे राजकुमार राव कमर्शियल एक्टर के तौर पर भी स्थापित हो गए।

हाल ही में राजकुमार राव ने अपने संघर्ष वाले दिनों को याद करते हुए बताया था कि मुंबई आने के बाद उन्हें एक छोटी सी जगह पर सात हजार रुपये किराया देकर रहना पड़ा था, जो कि उन्हें बहुत महंगा लगता था।

rajkummar rao
WIKI BIO

उन्होंने बताया कि एक बार तो उनके अकाउंट में 18 रुपये सिर्फ बचे होने का मैसेज भी आ गया था। एफटीआईआई से ग्रेजुएशन करने वाले राजकुमार राव ने बताया था कि वहां ग्रेजुएशन करते वक्त भी उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। (Struggle Story of Bollywood Actors)

कई बार तो पेट भरने के लिए दोस्तों के घर खाने के लिए पहुंच जाते थे। साथ ही अपने एक दोस्त विनोद का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि उसके बाइक से वे लोग ऑडिशन देने जाते थे। उस वक्त ना लुक की, न प्रेजेंटेशन की और न ड्रेसिंग की जानकारी थी। इतने प्रदूषण के बीच जाने के बाद गुलाब जल से अपने चेहरे को धो लेते थे और यह समझते थे कि वे बहुत ही लाजवाब नजर आ रहे हैं।

पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi)

पंकज त्रिपाठी ने भी आज बॉलीवुड में खुद को स्थापित कर लिया है। उनके मुताबिक 40 साल के होने के बाद उन्हें पहचान मिल पाई है। वर्ष 1993 में उनकी मुलाकात मृदुला से हुई थी और 2004 में उन्होंने शादी की।

पंकज त्रिपाठी ने एक चैट शो के दौरान बताया था कि उनके पास किराया देने के पैसे नहीं थे तो उन्होंने अपनी पत्नी को हॉस्टल में ही रख लिया था।

pankaj tripathi
Scroll

बॉयज हॉस्टल में उनकी पत्नी के साथ में छुपकर रहने के बाद लड़कों ने ठीक से वहां कपड़े पहनने शुरू कर दिए थे और वे सभ्य तरीके से उनके साथ पेश आने लगे थे। (Struggle Story of Bollywood Actors)

पंकज त्रिपाठी के मुताबिक एक बार वार्डन को यह बात पता चली गई और वार्डन ने उनसे आकर पूछा कि वे किराए के कमरे में कब शिफ्ट होने वाले हैं। बता दें कि पहली बार वर्ष 2004 में फिल्म रन में Pankaj Tripathi को देखा गया था, मगर असल पहचान उन्हें साल 2012 में आई फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर से ही मिल पाई थी।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui)

वे 1999 में आई आमिर खान, सोनाली बेंद्रे और नसीरुद्दीन शाह की फिल्म सरफरोश में कुछ सेकंड के लिए नजर आए थे। इसमें आमिर खान उनसे पूछताछ करते हैं। उनका क्रिमिनल का किरदार इस मूवी में था।

nawazuddin siddiqui
hindustan times

इसके करीब 12 वर्षों के बाद फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर से वे बॉलीवुड में स्थापित हो गए। अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया था कि मुंबई आने के बाद उन्हें एक फ्लैट में चार लोगों के साथ रहना पड़ा था।

पैसों के लिए चौकीदार से लेकर सेल्समैन तक बनकर धनिया तक बेचना पड़ा था। छोटे-मोटे रोल्स जो भी उन्हें मिले, वे करते चले गए थे। काफी संघर्ष के बाद उन्हें बड़ी भूमिका मिल पाई। नवाजुद्दीन के अनुसार यह सफर खूबसूरत तो नहीं था, लेकिन इसी के बल पर आज वे एक बड़े मुकाम तक पहुंच पाए हैं।

Facebook Comments