Cars and Two-Wheeler Price in India to go down: कार खरीदना लगभग हर व्यक्ति का सपना होता है। आजकल बिना कार के किसी भी परिवार को पूरा नहीं माना जाता है। खास करके मिडिल क्लास फैमिली हमेशा इसी जुगाड़ में रहती है कि, किसी तरह से एक कार खरीदी जा सकें। लॉकडाउन की वजह से बीते कुछ महीने ऑटोमोबाइल(Automobile) कंपनियों के लिए बेहद ख़राब साबित हुए हैं। इस दौरान फोर व्हीलर या टू-व्हीलर वाहनों की खरीद में भारी गिरावट आई है। इस बीच खरीदारों के लिए एक अच्छी खबर है। एबीपी न्यूज़ की एक रिपोर्ट के अनुसार अगस्त के माह से कार और बाइक(New Cars and Two-Wheeler) आदि के दामों में काफी गिरावट होगी। यदि आप भी फोर व्हीलर या टू- व्हीलर खरीदने की सोच रहे हैं तो यह सबसे बेहतर समय हो सकता है। आईये जानते हैं आखिर किन वजहों से कारों और बाइक के दामों में कमी आ सकती है।

1 अगस्त से सस्ते दामों पर खरीद सकते हैं कार और बाइक

In August Buying New Cars and Two-Wheelers will be cheaper
Image Source – livemint.com

अब ये बात आपके दिमाग में भी चल रही होगी कि, आखिर ऐसा क्या होगा जिस वजह से एक अगस्त से कारों और बाइक(New Cars and Two-Wheeler) के दाम सस्ते हो जाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, यदि आप 1 अगस्त के बाद कार या बाइक खरीदते हैं तो आपको ऑटो इंश्योरेंस पर कम खर्च करना होगा। जानकारी हो कि, एक अगस्त से कार और बाइक आदि के पॉलिसी नियमों में कुछ बदलाव होने जा रहे हैं। इस वजह से खरीदारों को अब इंश्योरेंस की कम कीमत देनी होगी। इस नए नियम की बात करें तो भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण ने लंबे समय तक चलने वाले इंश्योरेंस पैकेज योजनाओं को वापस लेने का फरमान जारी किया है। गौरतलब है कि, इसके तहत तीन से पांच साल तक के लॉन्ग टर्म मोटर वाहन बीमा को अनिवार्य करने के नियम को समाप्त कर दिया है। इस नए नियम के तहत मोटर थर्ड पार्टी और डैमेज इंश्योरेंस में बदलाव होगा। इरडा के नए निर्देशों के तहत कार खरीदने पर तीन साल और बाइक या स्कूटी की खरीद पर पांच साल का थर्ड पार्टी कवर लेना अनिवार्य होगा। ये सभी नियम एक अगस्त से लागू हो जाएंगे।

यह भी पढ़े

इस वजह से इरडा ने किये नियमों में बदलाव

New Cars and Two-Wheelers will be Cheaper
Image Source – Thedrum.com

जानकारी हो कि, इरडा ने जून के माह में ही लंबे समय के मोटर इंश्योरेंस स्कीम को वापस लेने के फैसले का एलान कर दिया था। लॉन्ग टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी सितंबर साल 2018 में लागू किया गया था। इस नियम के तहत टू-व्हीलर के लिए पांच साल और फोर व्हीलर के लिए तीन साल के नियम को लागू किया गया था। बता दें कि, इरडा ने अपने नियमों में बदलाव के पीछे मुख्य कारणों में कहा कि, साल 2018 के नियम की वजह से इस समय ग्राहकों के लिए वाहन खरीदना काफी महंगा हो रहा था। कोरोना वायरस(Coronavirus) ने मार्केट वैल्यू कम कर दी है और वाहनों की बिक्री को बढ़ाने का लिए यह कदम उठाया गया है। बहरहाल इंश्योरेंस के नियमों में बदलाव के बाद विशेष रूप से नए ग्राहकों के लिए वाहन खरीदना सस्ता हो जाएगा।

Facebook Comments