मध्य प्रदेश के अटपटा से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जरा सोचिए अगर लूडो जैसे खेल में हारने के बाद कोई आपके फैमिली का ही सदस्य आपके खिलाफ फैमिली कोर्ट(Daughter Approaches Family Court) का दरवाजा खटखटा दे तो उसे आप क्या कहेंगे। ऐसा ही हुआ है एक पिता और उसकी बेटी के बीच। शिकायत करने वाली युवती का आरोप है कि पिता ने लूडो खेलने के दौरान उसे चीट किया।

लॉकडाउन के दौरान परिवार के साथ लूडो खेला करती थी युवती

Daughter Approaches Family Court Against Father
Image Source – News18

जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस(Coronavirus) के काल में युवती अपने परिवार में भाई-बहन और पिता के साथ टाइमपास के लिए लूडो खेला करती थी। लेकिन लगातार पिता के खिलाफ हारने के बाद युवती के मन में पिता के खिलाफ नाराजगी कुछ इस कदर बढ़ी कि इस मामले को संभालने के लिए परिवार को काउंसलिंग का सहारा लेना पड़ा। फैमिली कोर्ट की काउंसलर सरिता रंजन(Sarita Ranjan) ने बताया कि एक 24 साल की युवती उनके पास आकर अपने परिवार के खिलाफ लुडो में बईमानी जैसी बात को लेकर शिकायत करती है।

पिता के गोटी काटने पर बढ़ी प्रतिशोध की भावना

युवती ने शिकायत के दौरान बताया कि उसने कभी यह नहीं सोचा था कि उसके पिता ही खेल के दौरान उसकी गोटी काट दिया करेंगे। इस बात को हजम करना उसके लिए मुश्किल था और धीरे-धीरे इस बात को लेकर उसका अपने पिता के प्रति गुस्सा बढ़ता गया। युवती ने इस भावना का जिक्र कभी परिवार के साथ साझा नहीं किया लेकिन अंदर ही अंदर उसे यह बात खाए जा रही थी।

यह भी पढ़े

जानकारी के मुताबिक लड़की की मां नहीं है और वह अपने सभी भाई बहनों में सबसे छोटी है। सरिता रजनी(Sarita Rajini) कहती हैं कि ‘आज कल के बच्चों में हार करने की क्षमता नहीं है और अपने परिवार के सदस्यों से बड़ी उम्मीदें रखती हैं और जब यह उम्मीदें पूरी नहीं होती हैं तो तनाव का कारण बन जाती हैं।’

Facebook Comments