राजस्थान के जोधपुर में हरलाया गांव में तीन बहुओं ने रोज-रोज के झगड़ों से तंग आकर अपनी सास की हत्या(Mother In Law Murdered) कर दी और बाद में इसे अत्महत्या का रूप देने के लिए फंदे से लटका दिया। पुलिस ने हत्या के आरोप में तीनों महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।

राजस्थान के जोधपुर शहर में ओसियां उपमंडल के मटोदा थाना के अंतर्गत हरलाया गांव में पुलिस ने तीन महिलाओं को अपनी ही सास के खून(Mother In Law Murdered) के इल्ज़ाम में गिरफ्तार किया है। खबरों के मुताबिक बहुएँ काफी समय से सास की रोज-रोज की किटकिट से परेशान हो गई थीं और इसलिए उन्होने इस घटना को अंजाम दिया। लेकिन बाद में पकड़े जाने के डर से शव को फांसी से लटकाकर अत्महत्या का रूप देने की कोशिश की।

Matoda Police Arrest Daughter In Laws for Mother In Law Murdered
Image Source – Aajtak.in

यह घटना, हत्या के एक दिन बाद उस समय प्रकाश में आई जब पड़ोस में रहने वाली पीड़िता के एक बेटे ने उसे फांसी पर लटके देखा। घटना पर संदेह जताते हुए पीड़िता के माता-पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया, जिसमें गला दबाकर हत्या करने की पुष्टि हुई।

आरोपियों की पहचान प्रेमी, ओमा और पिंटू के रूप में हुई है जो बहनें हैं। जहां प्रेमी और पिंटू सगी बहनें हैं, वहीं ओमी दोनों की चचेरी बहन है।

Mother In Law Murdered
Image Source – Aajtak.in

एसएचओ(SHO) नेमाराम ने बताया “29 अगस्त को सूचना मिली थी की कमला देवी (62) नामक एक महिला ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। जब हम मौके पर पहुंचे तो हमने उसे फांसी पर लटका पाया और पंखे से उसके शव को नीचे उतार लिया। जांच के दौरान उसके माता-पिता ने घटना पर संदेह जताया, इसलिए, हमने एक मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाया जिसकी रिपोर्ट में यह सामने आया की युवती की हत्या गला घोंट कर की गई है। शक की सुई उसकी तीन बहूओं की ओर इशारा कर रही थी, क्योंकि वह बहुओं के साथ अकेली रहती थी, जबकि उसके तीनों बेटे चिनाई के काम के लिए बाहर जाते थे।

यह भी पढ़े

नेमाराम ने बताया कि घटना स्थल के निरीक्षण में भी हत्या होने के संकेत मिले थे जिसके बाद तीनों महिलाओं से सख्ती से पूछताछ की गई तो तीनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

Facebook Comments