सोशल मीडिया के इस दौर में कुछ भी असंभव नहीं है। यही वजह है कि कोई भी इंसान रातों-रात स्टार बन जाता है, तो किसी की एक आवाज़ पर लोग उसकी मदद के लिए सैकड़ों किलोमीटर दूर भी पहुंच जाते हैं। पूर्व में ऐसे कई मामले हमारे सामने आ चुके हैं। अभी कुछ ही दिन पहले मालवीय नगर में ढाबा(Baba Ka Dhaba) चलाने वाले 80 साल के एक बुजुर्ग का रोते हुए वीडियो वायरल हुआ था। जिसके बाद बॉलीवुड और कई लोगों ने उनको सपोर्ट में सोशल मीडिया(Social Media) पर उनके ढाबे में खाना खाने के लिए लोगों को प्रेरित किया। ताकि गरीबी की मार झेल रहे बुजर्ग जोड़े की मदद की जा सके।

ढाबे का बदला नक्शा

बाबा के ढाबा(Baba Ka Dhaba) के नाम से छोटा सा ढाबा चलाने वाले बुजुर्ग को लोगों को इतना प्यार मिला कि अब इस ढाबे की शक्ल-सूरत ही बदल गई है।

Baba Ka Dhaba Viral On Social Media
Image Source – [email protected]

दरअसल दिल्ली के मालवीय नगर में ‘बाबा का ढाबा'(Baba Ka Dhaba) नाम से ढाबा चलाने वाले बुजुर्ग कांता प्रसाद का एक वीडियो हाल ही में वायरल हुआ था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उनके यहां कोई खाना खाने नहीं आता। लेकिन उनका वीडियो वायरल होते ही लोगों की भीड़ उनके यहां खाना खाने के लिए टूट पड़ी। यहीं नहीं अब तो बाबा का ढाबा बेहद शानदार और चमचमाता हुआ नज़र आ रहा जिसको पुरानी तस्वीरों की तुलना में पहचानना मुश्किल हो रहा। इसी पर आईएएस अफसर अवनीष शरण ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

चमचमाता हुआ नज़र आया ढाबा

आईएएस ऑफिसर अवनीष शरण ने तस्वीर शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, बदला हुआ ‘बाबा का ढाबा’, सब दिख रहे बस ‘बाबा’ नहीं दिख रहे!!’ पहले इस ढाबे की तस्वीर कुछ अलग ही थी। यहां आस पास कोई विज्ञापन नहीं लगा था। अब कई कंपनियों ने विज्ञापन लगा दिए हैं। उनकी ढाबे के पास ही कईयों ने अपनी दुकान खोल ली है।

यह भी पढ़े

आपको बता दें कि कांता प्रसाद साल 1990 से यहां ढाबा चला रहे हैं। उनके दो बेटे और एक बेटी है जिनमें से कोई भी उनकी मदद नहीं करता। वह अपनी पत्नी बादामी देवी के साथ सुबह 6 बजे ढाबा पहुंचकर 9 बजे तक सारा खाना तैयार कर लेते हैं।

Facebook Comments