सोमवार को आईसीसी ने ट्विटर पर बहुत से अवार्ड की घोषणा की। इसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली(Virat Kohli) और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी(Mahendra Singh Dhoni) समेत देश-विदेश के कई महान क्रिकेटर्स ने अनेक अवार्ड जीते। 

सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा भारतीय कप्तान विराट कोहली(Virat Kohli) को पिछले दस साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर के लिए सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी(Sir Garfield Sobers Trophy) से नवाजा गया। कोहली को दशक का सर्वश्रेष्ठ वनडे इंटरनेशनल क्रिकेटर भी चुना गया।

इसी के साथ पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी(Mahendra Singh Dhoni) ने आईसीसी का पिछले दस वर्षों का सबसे बेहतर खेल भावना पुरस्कार हासिल किया। इस पुरस्कार के लिए फैंस ने धोनी को 2011 में नॉटिंघम टेस्ट में इयान बेल के अजीब हालात में रन आउट होने के बाद उन्हें वापस बुलाकर जताई गई खेल भावना के कारण चुना।

कोहली ने जताया आभार-

यह खास सम्मान पाने के बाद कोहली(Virat Kohli) ने कहा, “यह पुरस्कार मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है। 2011 का विश्व कप, 2013 की चैम्पियंस ट्रॉफी और 2018 की ऑस्ट्रेलिया सीरीज जीतना मेरे एक दशक के करियर के सबसे बेहतरीन पल थे। वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट से मैं काफी पहले जुड़ गया था, लेकिन टेस्ट मैच में कुछ साल बाद आया। इसलिए मुझे अपने खेल को समझने का काफी मौका मिला। मेरा एकमात्र इरादा टीम के लिए विजयी योगदान देना था और मैंने अपने हर मैच में सिर्फ यही करने का प्रयास किया। इस दौरान मैंने कभी अपने आंकड़ों और संख्या पर ध्यान नहीं दिया। यह उपलब्धि इसी मानसिकता का नतीजा है”।

मालूम हो कि सोमवार को आईसीसी ने ट्विटर पर पुरस्कारों की घोषणा की। विराट कोहली(Virat Kohli) ने आईसीसी अवॉर्ड की अवधि (1 जनवरी 2011 से 7 अक्टूबर 2020) में 66 अंतरराष्ट्रीय शतक जड़े। इस अवधि में उनके नाम सर्वाधिक अर्धशतक (94), सर्वाधिक रन (20396) और 70 से ज्यादा खेली गई पारियों में सर्वाधिक रन औसत (56.97)  बनाने का रिकॉर्ड भी रहा। 

32 साल के कोहली(Virat Kohli) ने इस अवशी में वनडे मैचों में 12040 रन, टेस्ट क्रिकेट में 7318 रन और टी20 मैचों में 2928 रन बनाए और सभी प्रारूपों में मिलाकर उनका औसत 50 से अधिक का रहा। इसके अलावा वे 2011 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा थे।

यह भी पढ़े

कोहली आईसीसी के पुरस्कार अवधि के दौरान वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में 10000 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज रहे. उन्होंने इस दौरान 39 शतक और 48 अर्धशतक जड़े और 61.83 की औसत से रन बनाए।

भारत से अलग, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ(Steve Smith) को आईसीसी दशक का बेस्ट क्रिकेटर(ICC Men’s Test Cricketer), अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान(Rashid Khan) को दशक का बेस्ट (पुरुष) टी-20 खिलाड़ी(ICC Men’s T20I Cricketer), ऑस्ट्रेलिया की एलिस पैरी(Ellyse Perry) को आईसीसी दशक की बेस्ट महिला क्रिकेटर(ICC Female Cricketer), बेस्ट महिला वनडे खिलाड़ी और बेस्ट महिला टी-20 खिलाड़ी चुना गया।

Facebook Comments