Dubai Airport Coronavirus: पिछले 8 दिनों से दुबई एयरपोर्ट पर 18 भारतीय फंसे हुए हैं। इनके मुताबिक यहां इन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। यूरोप से ये भारत के लिए चले थे और दुबई से इन्हें भारत की फ्लाइट पकड़नी थी, लेकिन भारत से 2500 किलोमीटर दूर वे यहां फंस गए हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए दुबई एयरपोर्ट से किसी भी तरह के विमान के उड़ने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, भारत में भी किसी अंतरराष्ट्रीय विमान को उतरने की अनुमति नहीं है। ऐसे में ये 18 भारतीय एयरपोर्ट पर ही अब फंसे रह गए हैं। इनकी सुध लेने वाला भी यहां कोई नहीं है।

खाने-पीने की भी दिक्कत

दुबई एयरपोर्ट पर इन भारतीयों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ये जमीन पर सोने को मजबूर हैं। खाने-पीने की चीजें भी इन्हें ठीक से नहीं मिल पा रही हैं। इन 18 भारतीयों में से कई तो ऐसे भी हैं जिनकी फ्लाइट पिछले 18 मार्च को दुबई एयरपोर्ट पर उतरी थी। उसके बाद से अब तक उन्हें भारत आने के लिए फ्लाइट नहीं मिली है। दुबई सरकार की ओर से भी इन्हें कोई मदद नहीं मिल रही है। यहां तक कि भारतीय दूतावास भी उनकी मदद इस वक्त नहीं कर पा रहा है।

आलीशान एयरपोर्ट लगने लगा है कैदखाना (Dubai Airport Coronavirus)

बात यदि दुबई एयरपोर्ट की करें तो इसे दुनिया के सबसे खूबसूरत एयरपोर्ट में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि यहां पर सुविधाएं किसी 7 स्टार होटल की तरह हैं, लेकिन अब यही आलीशान एयरपोर्ट यहां फंसे हुए लोगों को एक जेल या कैदखाने की तरह लगने लगा है। यूरोप के अलग-अलग देशों से ये लोग यहां पहुंचे थे कि भारत के लिए यहां से फ्लाइट लेंगे, मगर यहां से आगे जाने की अनुमति ही इन्हें प्रदान नहीं की गई।

यह भी पढ़े

मई तक 13 लाख लोग भारत में होंगे कोरोना वायरस की चपेट में, स्टडी में हुआ खुलासा (Coronavirus India Cases)

लगाई मदद की गुहार

दुबई में भारत सरकार के अधिकारियों से इन लोगों की ओर से मदद भी मांगी गई है। उन्होंने उन्हें किसी तरह से भारत भेजने की गुहार लगाई है, क्योंकि उनके मुताबिक यहां वे कोरोनावायरस के संक्रमण का शिकार हो सकते हैं। इनका कहना है कि किसी भी तरीके से सरकार उन्हें देश वापस बुला ले, भले ही वहां उन्हें क्वॉरेंटाइन में ही रख दे।

Facebook Comments