Labour Ministry issues advisory: कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिती जारी है। लॉकडाउन के चलते देश की रफ्तार थम गई है। इसी कारण कई प्राइवेट कंपनियां और सरकारी कंपनियों के लोग घर पर ही हैं। ऐसे में उन्हें डर सता रहा है कि कहीं उनकी नौकरी न चली जाए। लोगों के इस डर के देखते हुए श्रम मंत्रालय ने कंपनियों को एक एडवाइज़री एसएमएस के ज़रिए दी है। मंत्रालय ने एडवाइज़री जारी करते हुए कहा है कि EPFO को समय पर दिया जाए।

बता दें कि EPFO ने EPS पेंशनधारकों की पेंशन को समय पर देने के निर्देश दिए हैं। कोरोना वायरस को देखते हुए EPFO ने कर्मचारी पेंशन योजना के तहत आने वाले 65 पेंशनधारकों को मासिक पेंशन समय पर देने को निर्देश दिया है।

labour ministry issues advisory: एडवाइजरी में सरकार ने क्या कहा

govt orders to give full salary

कोरोना वायरस के कारण देश भर में 21 दिन का लॉकडाउन चल रहा है, लेकिन इसके लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई भी जा सकती है। ऐसे में केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को एक एडवाइज़री जारी कर दी है। इस एडवाइज़री में कहा गया हैै कि कोरोना वायरस की वजह से हो रहे लॉकडाउन को दौरान कंपनियां अपने कर्मचारियों को नौकरी से न निकाले और न ही उनकी सैलरी काटे। श्रम मंत्रालय के सचिव की ओर से यह एडवाइज़री जारी की गई है जिसे SMS के माध्यम से कर्मचारियों और कंपनियों तक पहुंचाया जा रहा है।

बता दें कि इस एडवाइज़री के मुताबिक, अगर किसी कर्मचारी को कोरोना वायरस हो जाता है और वह छुट्टी लेता है तो उसे ऑन ड्यूटी ही माना जाए, और उसकी सैलरी भी नहीं काटी जाए।

Facebook Comments