Cerberus Virus: कोरोना संकट की वजह से लॉकडाउन के दौरान स्मार्टफोन ही लोगों का सहारा बना हुआ है। मगर स्मार्टफोन पर इस वक्त एक खतरनाक वायरस सरबेरस का खतरा मंडरा रहा है। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) की ओर से सभी राज्यों की पुलिस एवं कानूनी संस्थाओं को इस बारे में चेतावनी जारी करके इन पर नजर रखने की हिदायत दी गई है।

कोरोना अपडेट का दावा – Cerberus Virus

after coronavirus the dreaded cerberus virus
Image Source: Telugu.news18

कोरोना वायरस के अपडेट से खुद के जुड़ा होने का दावा यह खतरनाक वायरस करता है। अधिकारियों ने इस मैलवेयर का नाम Cerberus बताया है। कोविड-19 महामारी की आड़ में बैंकिंग ट्रोजन के जरिए इसमें फर्जी लिंक डाउनलोड करने के लिए यूजर्स को SMS भेज दिए जाते हैं, जिसमें हैकिंग सॉफ्टवेयर छिपा होता है। देखने में यह असली लगता है, जिसकी वजह से लिंक पर क्लिक करने के साथ ही सॉफ्टवेयर फोन में डाउनलोड होकर यूजर की पर्सनल जानकारी चुना कर हैकर तक भेज देता है।

बैंकिंग डिटेल्स भी खतरे में

after coronavirus the dreaded cerberus virus
Image Source: Journalistcafe

CBI के अनुसार बैंकिंग डिटेल्स पर भी इसका खतरा इसलिए है, क्योंकि यह यूजर्स के फाइनेंसियल डाटा जैसे कि डेबिट और क्रेडिट कार्ड के नंबर एवं अन्य डिटेल्स चुराने की कोशिश करता है और यूजर को बेवकूफ बनाकर पर्सनल जानकारी चुराकर हैकर तक पहुंचा देता है।

यह भी पढ़े: जामताड़ा का एक फोन कॉल, जिससे कंगाल बन जाते हैं लोग

सतर्क होकर करें डाउनलोड

एक्सपर्ट्स के मुताबिक सरबेरस वायरस से बचने के लिए एप्लीकेशन डाउनलोड करने से पहले लिंक ठीक से देख लें। शुरुआत में https हो, तभी डाउनलोड करें। इससे आप वायरस का शिकार नहीं होंगे।

Facebook Comments