Coronavirus India: विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को वैश्विक स्वास्थ्य समस्या घोषित कर देने के बाद से सभी देशों में इस बीमारी को लेकर ख़ासा कौतुहल बना हुआ है। लोगों में इसका डर इस कद्र बैठ गया है कि, घर से बाहर निकलना और बाहर का खाना तक लोगों ने छोड़ दिया है। इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए भारत सरकार ने भी विदेशी यात्रियों का वीजा 15 अप्रैल तक के लिए रद्द कर दिया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारत में अब तक 50 से ज्यादा मामले कोरोना वायरस के आ चुके हैं। भारत सरकार ने इसी को देखते हुए ये कदम उठया है। आइये आपको बताते हैं इस मामले में भारत सरकार के परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय का क्या कहना है।

भारतीय नागरिकों को विदेश ना जाने की सलाह (Coronavirus India Suspends Tourist Visas till 15 april)

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारत सरकार के परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए भारतीय नागरिकों से कोरोना वायरस से बचने के लिए इस दौरान विदेश की यात्रा ना करने की सलाह दी है। चूँकि बीते दिनों इटली से भारत आने वाले पर्यटकों में कोरोना वायरस की संभावना होने की वजह से, सुरक्षा के मद्देनजर परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय ने विदेशी यात्रियों का वीजा आने वाले 15 अप्रैल तक के लिए कैंसिल कर दिया है। हालाँकि कुछ ऐसे भी विदेशी नागरिक हैं जिन्हें इस मामले में काफी छूट मिली है। ऐसे नागरिकों में विशेष रूप से इंटरनेशनल रोजगार, किसी विशेष प्रोजेक्ट और डिप्लोमेटिक वीजा होल्डर्स को काफी हद छूट मिली है। इसके साथ ही ओवरसीज सिटिजनशिप ऑफ़ इंडिया को फ्री ट्रेवल के लिए दी गई छूट भी 15 अप्रैल तक लिए रद्द कर दी गई है।

विदेश जाने वाले फ्लाइट को भी किया गया कैंसिल (Coronavirus India)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के खौफ से बचने के लिए एयर इंडिया ने भी इस दिशा में सरकार का पूरा सहयोग करते हुए आने वाले 25 मार्च तक इटली और दक्षिण कोरिया तक की सभी उड़ाने रद्द कर दी हैं। जाहिर है कि, इन दोनों देशों में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या दिन बा दिन बढ़ती जा रही है। इसी के मद्देनजर इन देशों की उड़ानों को भी एयर इंडिया ने कैंसिल कर दिया है। इसके साथ ही भारतीय नागरिकों पर भी नकेल कसते हुए सरकार ने उन्हें विदेशी यात्राएं करने से मना किया है और यदि कोई इस दौरान विदेश की यात्रा पर जाता है तो वापिस लौटने पर उन्हें 14 दिनों सभी से अलग मेडिकल सुरक्षा में रहना होगा।

आपको बता दें कि, भारत सरकार द्वारा जारी ये सभी कानून कल 13 मार्च से लागू कर दिए जाएंगे। इसके तहत नागरिकों को कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रभाव से बचाने की पुरजोर कोशिश की जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर देने के बाद से हर देश के सरकार ने इससे जुड़े सुरक्षा के नियमों को फॉलो करना शुरू कर दिया है। बहरहाल आपकी सुरक्षा आपके हाथ है, सरकारी नियमों का पालन करें और इस स्थिति से बचने का प्रयास करें।

Facebook Comments